मुन्ना बजरंगी का शव पहुंचा जौनपुर, शव पहुंचते ही बनी ऐसी स्थिति, छावनी में तब्दील रहा गांव

बागपत जेल से सीधे जौनपुर पहुंचा मुन्ना बजरंगी का शव, गांव में पहले ही तैनात कर दी गयी थी भारी पुलिस फोर्स।

जौनपुर. यूपी के बागपत जेल में सोमवार की सुबह गोली मार कर हत्या के बाद कड़ी सुरक्षा के बीच मुन्ना बजरंगी का शव जौनपुर लाया गया। भारी पुलिस फोर्स के साथ एबुलेंस से शव उनके पैतृक गांव पूरेदयालपुर गांव पहुंचा। उसके साथ उनके परिवार के लोग भी थे। पुलिस ने शव पहुंचने के पहले ही पूरे गांव को छावनी में तब्दील कर दिया था। शव पहुंचने की सूचना पर काफी पहले से ही उनके समर्थक और गांव के लोगों की भीड़ वहां जमा हो गयी थी। शव के पहुंचते ही वहां स्थिति रोने-धोने की बन गयी। उनके समर्थकों की आंखों में आंसू थे, रिश्तेदार भी हत्या से आहत रोते-बिलखते दिखे। जौनपुर से बजरंगी के शव को बनारस ले जाया जाएगा। वाराणसी में ही अंतिम संस्कार होगा।

 

 

बजरंगी की पत्नी और परिवार के लोग उसका शव लखनऊ ले जाना चाहते थे मीडिया की खबरों के मुताबिक पत्नी सीमा सिंह पति के शव को रखकर धरना देना चाहती थीं। पर पुलिस ने बागपत जेल बजरंगी के शव को सीधे जौनपुर ले जाने का इंतजाम कर लिया था। रातों रात ही बजरंगी का एंबुलेंस में लेकर पुलिस बागपत से जौनपुर के लिये रवाना हो गयी। इस काफिले में उसका परिवार भी शामिल था। एंबुलेंस के साथ पुलिस की कई गाड़ियों का काफिला भी था।


उधर इस बात की सूचना जब लगी कि शव जौनपुर आ रहा है तो समर्थक पूरेदयालपुर गांव में जुटने लगे। शव आने के पहले ही गांव के लोग व समर्थकों की भीड़ वहां जुटी थी। सुबह करीब सात बजे शव पहुंचा तो देखने वालों की भीड़ लग गयी। एहतियातन गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। पत्नी सीमा सिंह लगातार पति के शव से लिपटकर रोए जा रही थीं। गांव के लोग भी बजरंगी की हत्या पर हैरान थे। शव पहुंचने के बाद वाराणसी ले जाकर अंतिम संस्कार की तैयारियां शुरू हो गयीं।
By Javed Ahmad

Show More
रफतउद्दीन फरीद Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned