यूपी के जौनपुर में मुसलमानों ने 17 गोवंश की कुर्बानी होने से बचाया

यूपी के जौनपुर में मुसलमानों ने 17 गोवंश की कुर्बानी होने से बचाया
गोवंश

Akhilesh Kumar Tripathi | Publish: Aug, 22 2018 04:51:31 PM (IST) Jaunpur, Uttar Pradesh, India

तनाव देख कई थानों की फोर्स और क्यूआरटी ने गांव में डाल दिया डेरा

जावेद अहमद

जौनपुर. खेतासराय थानंतर्गत सोंगर ग्राम में बकरीद के पर्व पर जिले भर में सांप्रदायिक आग लगाने की कोशिश की गई। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने मंगलवार की रात 17 गोवंश बरामद किए। पुलिस को ये सूचना किसी और ने नहीं बल्कि मुस्लिम समुदाय के लोगों ने दी। तनाव देखते हुए गांव में क्यूआरटी समेत कई थानों की फोर्स तैनात कर दी गई है। शांति व्यवस्था कायम रहे इसके लिए लगातार फ्लैग मार्च किया जा रहा है।

 

यह भी पढ़ें:

बकरीद पर वाराणसी में ऊंट की कुर्बानी पर नहीं लगी रोक, 106 सालों से चली आ रही परंपरा

 

सूत्रों की मानें तो गांव के कुछ मुस्लिम युवक ईदगाह की ओर निकले थे। वहीं पास स्थित जंगल में देर रात कुछ गाय बंधी दिखाई पड़ी। इसके अतिरिक्त एक अन्य सुनसान स्थान पर कुछ गाय व बछड़े बंधे मिले। अनहोनी की आशंका से उन्होंने इसकी सूचना थानाध्यक्ष खेतासराय जगदीश कुशवाहा को दी। मामला गोकशी से जुड़ा दिखा तो उन्होंने फौरन गांव पहुंच कर मोर्चा संभाला। आला अधिकारियों को खबर की तो कई थानों की फोर्स मौके पर भेज दी गई।

 

यह भी पढ़ें:

बकरीद में बड़े जानवरों की कुर्बानी पर इलाहाबाद हाईकोर्ट का बड़ा आदेश, कहा...

 

फोर्स ने दोनों स्थानों से कुल 13 गाय व चार बछड़े बरामद किए। बकरीद के त्यौहार पर माहौल खराब ना हो इसको ध्यान देते हुए वहां पर क्यूआरटी के जवान के अतिरिक्त थानाध्यक्ष खुटहन, सरपतहां, शाहगंज, महाराजगंज समेत कई थानों की फोर्स तैनात कर दी गई। रात भर सभी थानों की फोर्स वहां मौजूद रही। देर रात एसडीएम और सीओ शाहगंज ने भी पहुंच कर आवश्यक जानकारी ली। सुबह क्यूआरटी के जवानों के साथ पुलिस के जवानों ने गांव में फ्लैग मार्च किया ताकि शांति व्यवस्था कायम रहे। हालांकि अभी गांव में शांति व्यवस्था कायम है। पुलिस जांच कर रही है कि बरामद गाय व बछड़े कब और कौन लाया। इस मामले में एक युवक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned