...और देखते ही देखते बदल गई जयापुर की तस्वीर

आज इस गांव पर शायद हर हिंदुस्तानी की नजर है। कारण प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने इसे गोद लिया।

By: Juhi Mishra

Published: 13 Sep 2015, 12:37 PM IST

वाराणसी। आज इस गांव पर शायद हर हिंदुस्तानी की नजर है। कारण प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने इसे गोद लिया। 7 नवंबर 2014 को इस गांव के विकास की पहली इबारत लिखी गई और फिर देखते ही देखते यहां की सूरत बदल गई। यहां आज हर वह सुविधा उपलब्ध है जो किसी भी गांव को आदर्श बनाने के लिए चाहिए।
10 महीनों में सड़कें चकाचक हो गईं, बैंक खुल गया, गरीबों के लिए फ्लैट बन गए, रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से एक आदर्श गो-शाला का लोकार्पण हुआ।
गो-शाला के जरिए लोगों को डेयरी उत्पादों को तैयार करने की ट्रेनिंग दी जाएगी। साथ ही महिलाओं को मवेशियों को खरीदने के लिए बैंक लोन भी दिया गया।
हर घर में शौचालय
जयापुर में एक साल पहले तक कुछ ही घरों में शौचालय था। अब स्थिति कुछ और है। 350 से अधिक शौचालय बन चुके हैं। सूरत से आई कंपनी सड़क बनाने के काम में जुटी हुई है। गांव की अधिकतर सड़के बनकर तैयार भी हो गईं हैं। 

लड़कियों के लिए स्कूल से लेकर पार्क तक
पहले इस गांव में लड़कियों के लिए स्कूल तक नहीं था, लेकिन आज स्थिति बदल गई है। स्कूल बन चुका है, पार्क भी है खेलने के लिए।

ये भी खास
सोलर पैन से युक्त खम्भे, नया पोस्ट ऑफिस, साफ पानी, बैंक और मुसहरों के लिए मकान। यहां जल्द ही गांवों के लिए बिजली उत्पादन भी होने वाला है।
Narendra Modi modi
Show More
Juhi Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned