जौनपुर में ई स्टाम्पिंग का विरोध, स्टाम्प विक्रेताओं ने जड़ा रजिस्ट्री ऑफिस में ताला

यूपी के जौनपुर में ई स्टांपिंग व्यवस्था के विरोध में स्टाम्प विक्रेताओं ने रजिस्ट्री ऑफिस में तालाबंद कर हड़ताल शुरू कर दी।

जौनपुर. यूपी में मंगलार से ई स्टांपिंग व्यवस्था लागू होने के बाद पूरे सूबे में स्टाम्प विक्रेता विरोध कर रहे हैं और हड़ताल पर हैं। जौनपुर में तो नाराज स्टाम्प विक्रेताओं ने विरोध प्रदर्शन के बीच रजिस्ट्री ऑफिस पर ताला ही जड़ दिया। उनकी ओर से उठाए गए इस कदम के बाद डीएम सख्त हो गए। उन्होंने ऐसा करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की बात कही है।

इसे भी पढ़ें

इलाहाबाद में बसपा नेता की हत्या, जमकर हुआ बवाल, कई राउंड चलीं गोलियां, बस फूंकी गयी
दरअसल जौनपुर में भी स्टाम्प विक्रेता ई स्टांपिंग का विरोध कर रहे हैं। मंगलवार से जमीनों की खीरीद-फरोख्त में ई स्टांपिंग व्यवस्था लागू हो जाने के बाद वह धरने पर बैठ गए। जौनपुर में विरोध प्रदर्शन कर रहे विक्रेताओं की नाराजगी कुछ ज्यादा ही दिखी। यहां उन्होंने रजिस्ट्री कार्यालय को ही ताला मार दिया।

इसे भी पढें

इलाहाबाद में बसपा नेता राजेश यादव की हत्या मामले में शक के घेरे में डॉक्टर मुकुल सिंह
तालाबंदी करके उन्होंने हड़ताल शुरू कर दिया। विक्रेताओं का कहना है कि उन लोगों के परिवार का भरण पोषण इसी स्टॉम्प् बिक्री के व्यवसाय से चलता है। मंगलवार को नयी व्यवस्था लागू होने से उनकी रोजी-रोटी पर संकट आ गया है। प्रर्दशनकारियों ने डीएम से गुहार लगायी कि यह व्यवस्था जौनपुर में लागू नहीं की जाय।

इसे भी पढ़ें

डिप्टी सीएम केशव मौर्य के भांजे के नाम से सपा नेता को धमकी, ऑडियो वायरल

उधर दस्तावेज लिखने वालों की भी अपनी मांग रही। उन्होंने मांग किया है कि ई स्टाम्पिंग व्यवस्था में लाईसेंस बना कर उनकी भी सहभागिता ली जाए, जिससे उनके परिवारों का भरण पोषण हो सके। रजिस्ट्री आफिस में तालाबंदी करने की खबर मिलते ही डीएम ने सख्त रूख अख्तियार कर लिया। पुलिस को भेजकर तुरंत कार्यालय का ताला खुलवाने का निर्देश दिया। उन्होंने साफ कहा कि तालाबंदी करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

by JAVED AHMAD

 

देखें वीडियो- स्टाम्प विक्रेताओं ने जड़ा रजिस्ट्री कार्यालय में ताला...

रफतउद्दीन फरीद Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned