बड़वानी जिले को मिल चुका है ओडीएफ प्रमाण पत्र, फिर भी जारी है खुले में शौच

ओडीएफ का प्रमाण मिलने के बाद भी जारी हैं खुले में शौच, सीवरेज लाइन काम चलने से अटके सड़कों के काम

By: vishal yadav

Published: 12 Feb 2021, 05:26 PM IST

बड़वानी. नगर पालिका द्वारा स्वच्छत सर्वेक्षण 2021 की तैयारियां की जा रही है। इसके लिए साफ-सफाई सहित सुविधाघरों में और व्यवस्थाएं की जा रही है। हालांकि ओपीएफ प्रमाण पत्र मिलने के बावजूद कई क्षेत्रों में लोग खुले मेें शौच करने से बाज नहीं आ रहे है। वहीं सीवरेज लाइन का काम चलने से कई वार्डांे में सड़कों के काम अटक गए है।
उल्लेखनीय है कि गत वर्ष सर्वेक्षण में नगर पालिका ने एक लाख से कम आबादी क्षेत्र के तहत देश में 28 वां और प्रदेश में पांचवां स्थान प्राप्त किया था। अब देश में रैंकिंग सुधारने और प्रदेश में एक नंबर पर स्थान बनाने के लिए प्रयास हो रहे है। ट्रेंचिंग ग्राउंड पर नगर पालिका ने कचरे का निपटान, पॉलीथीन की प्रोसेसिंग इकाई, गीले कचरे से खाद बनाने सहित सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट तैयार किया है। वहीं शहर में कई जगह सार्वजनिक हाईटेक सुविधाघर का निर्माण करवाया है। हाल ही में तिरछी पुलिया के पास सुविधा घर परिसर को बेहतर अंदाज में संवारा गया है। पुलिया पर वॉल गार्डन आकर्षक का केंद्र है।
इस ओर बेहतर प्रयास हो
वहीं सर्वेक्षण के मायनस पाइंट की बात करें तो शहर के मुख्य नाले को वर्तमान में सफाई की दरकार है। डोर-टू-डोर सेवा के बावजूद कई स्थानों पर अब भी कचरे के अडड्े परेशानी का सबब बन रहे है। नाले किनारे सहित अन्य स्थानों पर लोग खुले में शौच से गंदगी फैला रहे है। मु य सड़कों पर उभरे गड्डे मुंह चिढ़ा रहे है। वहीं रहवासी क्षेत्र की सड़कों पर उड़ते धूल के गुब्बार स्वच्छता की हवा निकाल रहे है। इस ओर नपा को और बेहतर प्रयास करने की जरुतर है।

vishal yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned