scriptChildren suffering from heat amidst the scorching walls | तपती दीवारों के बीच गर्मी से बेहाल बच्चे, आंगनवाडिय़ों में नहीं हवा का इंतजाम | Patrika News

तपती दीवारों के बीच गर्मी से बेहाल बच्चे, आंगनवाडिय़ों में नहीं हवा का इंतजाम

भीषण गर्मी को देखते हुए यूं तो प्रदेश के सभी स्कूलों का समय दोपहर की जगह सुबह का कर दिया है, लेकिन आंगनवाडिय़ों के समय में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

झाबुआ

Published: April 07, 2022 04:26:57 pm

झाबुआ. भीषण गर्मी को देखते हुए यूं तो प्रदेश के सभी स्कूलों का समय दोपहर की जगह सुबह का कर दिया है, लेकिन आंगनवाडिय़ों के समय में कोई बदलाव नहीं किया गया है, इस कारण आंगनवाड़ी केंद्रों में आने वाले हजारों बच्चों को तपती दीवारों के बीच बैठने को मजबूर होना पड़ रहा है, क्योंकि इन केंद्रों में पंखा तो दूर की बात विद्युत कनेक्शन भी नहीं है, ऐसे में मासूम बच्चे जैसे-तैसे समय काट रहे हैं, लेकिन इस ओर जिम्मेदारों का कोई ध्यान नहीं है।

तपती दीवारों के बीच गर्मी से बेहाल बच्चे, आंगनवाडिय़ों में नहीं हवा का इंतजाम
तपती दीवारों के बीच गर्मी से बेहाल बच्चे, आंगनवाडिय़ों में नहीं हवा का इंतजाम

पिछले सात दिनों से पारा 41 डिग्री पर अटका हुआ है। इस कारण गर्मी से लोगों का बुरा हाल हो रहा है। इसे देखते हुए कलेक्टर ने स्कूलों का समय भी बदल दिया है। लेकिन आंगनवाड़ी केन्द्रों के समय में कोई बदलाव नहीं हुआ है। चूंकि आंगनवाड़ी केन्द्रों में छोटे बच्चें दोपहर डेढ़ बजे तक केन्द्र में समय बिताते है। लेकिन वहां पंखें नहीं होने के कारण उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।


वर्तमान में झाबुआ जिले में करीब 2200 आंगनवाड़ी केन्द्र ऐसे है। जहां बिजली कनेक्शन ही नहीं है। ऐसे में आगनवाड़ी केन्द्रों के बच्चों को गर्मी के मौसम में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। महिला बाल विकास विभाग के आकड़े बताते है कि इन आंगनवाड़ी केन्द्रों में 80 फीसदी बच्चे रोजाना आ रहे हैं।

केन्द्रों में दर्ज है 1 लाख 60 हजार बच्चे

जिले में 2706 आंगनवाड़ी केन्द्र है। इनमें 3 से 6 वर्ष के तक के 1 लाख 60 हजार बच्चे दर्ज है। इनमें 80 फीसदी बच्चे प्रतिदिन आंगनवाड़ी केन्द्र पहुंच रहे है। यहां बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए पोषण आहार दिया जाता है। आहार के अतिरिक्त प्रारंभिक शिक्षा भी दी जाती है। आदिवासी बाहुल्य जिला होने के कारण यहां बड़ी संख्या में बच्चे आंगनवाड़ी केन्द्रों आ रहे है लेकिन इन दिनों गर्मी के कारण बच्चों का बुरा हाल है।


एकीकृत बाल विकास योजना अंतर्गत संचालित स्कूलों को नर्सरी का दर्जा दिया गया है। इसमें प्रारंभिक शिक्षा बच्चों को दी जा रही है। इसके लिए सरकार ने शासकीय स्कूलों में प्रवेश की आयु भी 6 वर्ष कर दी है। इस कारण बड़ी संख्या में आंगनवाड़ी केन्द्रो पर बच्चें आ रहे है। यह आंगनवाड़ी केन्द्र के लिए सुबह 9 बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक बच्चों के लिए हैं जबकि आंगनवाड़ी कार्यकताओं के लिए दोपहर साढ़े तीन बजे तक समय रखा है। ऐसे में इन दिनों तेज गर्मी पडऩे के कारण केन्द्र में बच्चों को बुरा हाल है। मार्च के अंतिम दिनों से लगातार पारा 41 डिग्री के बीच बना हुआ। ऐसे में दोपहर में केन्द्र से निकलने वाले मासूम बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें : पांच गांवों में लगी आग, रेलवे फाटक ने रोक ली फायर ब्रिगेड

आंगनवाड़ी केन्द्रों में पंखे नहीं है। इस समय गर्मी बहुत अधिक है, ऐसे में समय बदलने को लेकर उच्च अधिकारियों को अवगत कराया गया है। आंगनवाड़ी केन्द्र का समय शासन स्तर से गर्मी में बदलता है। लेकिन अभी तक समय में बदलाव को लेकर को आदेश नहीं आया है।
-राधू सिंह बघेल, प्रभारी कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.