‘संस्कृति हमें आचार-विचार व परिवेश से मिलती है’

‘संस्कृति हमें आचार-विचार व परिवेश से मिलती है’

Arjun Richhariya | Publish: Sep, 09 2018 10:01:54 PM (IST) Jhabua, Madhya Pradesh, India

कार्यशाला के समापन पर स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री दीपक जोशी बोले

झाबुआ. शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास की राष्ट्रीय कार्यशाला का समापन रविवार को हुआ। मुख्य अतिथि स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री दीपक जोशी ने संस्कृति हमें आचार विचार व परिवेश से मिलती है। कार्यशाला में मुझे आने पर बहुत खुशी हुई। यही व्यक्तित्व विकास हर व्यक्ति के जीवन में आए।

अभाविप के राष्ट्रीय संगठन मंत्री प्रफुल्ल आकांत ने कहा कि हमें भारत को सुपरपॉवर बनाना है, परंतु अमेरिका जैसा नही अपितु वसुधैव कुटुम्ब कुम की भावना वाला संस्कारित सुपरपावर भारत बनाना है। स्वागत भाषण देते हुए ओम शर्मा ने बताया कि शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास विभिन्न प्रयोग तलवारा, पंजाब, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली, सागर सहित झाबुआ में फैले हैं। जोशी ने त्रिशा विद्यालय के नए भवन का शिलान्यास किया। इस अवसर पर विधायक शांतिलाल बिलवाल , निर्मला भूरिया, कलसिंह भाबर , शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास के संरक्षक सुरेश गुप्ता, शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास के राष्ट्रीय सचिव अतुल कोठारी, क्रिया शर्मा , रिद्धि त्रिवेदी, दूर्वा जोशी, मकरंद आचार्य, रवींद्र नायक, नरेंद्र पंवार, रितेश शर्मा , निसार पठान, रजत देवलिया, शिला सक्सेना, मिरुन देवनाथ , नेहा आचार्य आदि उपस्थित थे। संचालन अथर्व शर्मा ने किया। आभार वंदना नायर ने माना। इसके पूर्व कार्यशाला के दूसरे दिन विभिन्न राज्यों से आए शिक्षाविदों ने कई गहन विषयों पर चर्चा की। उत्कृष्ट हायर सेकंडरी स्कूल उज्जैन से आए भरत व्यास ने विज्ञानमय कोश की व्याख्या को सारगर्भित ढंग में बताया।

जयेंद्र जाधव गुजरात ने कहा कि वि से विश्लेषण ़ज्ञ से ज्ञान अर्थात विश्लेषण ज्ञान को जानना ही विज्ञान है। चिकित्सा महाविद्यालय इंदौर के मनोहर भंडारी ने बताया कि खानपान संतुलित होने से शरीर को स्फूर्ति मिलती है। प्राणमय कोश पर बबिता सिंह ने बताया कि योग में मन व शरीर का समन्वय जरूरी है। मनोनयन कोश पर मध्य क्षेत्र के संयोजक अशोक कड़ेल ने बताया कि मन चित्त की एक कृति है। पंचकोशिय अवधारणा पर आधारित चरित्र निर्माण व व्यकितत्व विकास विषय पर केंद्रित कार्यशाला में पधारे शिक्षा विदों ने शारदा ग्रुप की शिक्षण संस्थानों में चल रही विभिन्न शिक्षा गतिविधियों का अवलोकन भी किया व विद्यार्थियों से रूबरू भी हुए।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned