पुराने तालाब को खोदकर नया बनाने की कवायद

पुराने तालाब को खोदकर नया बनाने की कवायद
jhabua

Shruti Agrawal | Publish: Jun, 01 2017 11:52:00 PM (IST) Jhabua, Madhya Pradesh, India

घोटाले का नया तरीका टीएसईएस जारी कराकर नाम मात्र में बन जाएगा तालाब

पेटलावद.  ग्राम रतांबा में सामने आया। जहां नए तालाब निर्माण में गड़बड़ी की जा रही है। जामुखरा में बने 20 वर्ष पहले एक तालाब बना था। ऐसा नहीं है कि वह तालाब खराब हो गया हो, लेकिन सरपंच-सचिव, रोजगार सहायक और उपयंत्री की इस तालाब पर नियत खराब हो गई और लालच के चक्कर में तालाब को बेवजह खोदकर उसे नया बनाने की फिराक लग गए।
यहां नए तालाब का निर्माण कार्य जोर शोर से जारी है। इसके लिए मनरेगा योजना के तहत करीब 10 लाख रुपए से अधिक की राशि स्वीकृत की गई है, किन्तु बड़ी राशि की बंदरबांट करने की नियत से ग्राम पंचायत के सरपंच-सचिव व तकनीकी सहायक सहित रोजगार सहायक ने स्थानीय जनपद में पदस्थ अधिकारियों की मिलीभगत से तालाब खनन का कार्य करवाने के लिए ऐसे स्थान का चयन किया गया। जहां 20 वर्ष पहले एक तालाब बना था, जिसे अब तोड़कर नए तालाब निर्माण के नाम पर तालाब की पाल बनवाकर उसे परिवर्तित किया जा रहा है।


&तालाब तोडऩे की जानकारी आपके द्वारा मेरे संज्ञान में लाई है। मैं सब इंजीनियर को भेजकर मामला दिखवाता हूं।
- आर अग्रवाल, ईई, रोजगार गारंटी योजना।
&यह तालाब किसने तोड़ा, मुझे इसकी जानकारी नहीं है। हम यहां नया तालाब नहीं बनावाएंगे। मैं इस पूरे मामले को दिखवाता हूं।
माईकल डोडियार, उपयंत्री
&मेरी जानकारी में नहीं है, किसने तालाब तोड़ा है। अभी पंचायत में नए तालाब का निर्माण नहीं हो रहा है।
- संतोषी मालीवाड़,  सरपंच।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned