scriptnagar parishad election | नगर सरकार चुनने केंद्रों पर उमड़े मतदाता | Patrika News

नगर सरकार चुनने केंद्रों पर उमड़े मतदाता

locationझाबुआPublished: Sep 28, 2022 01:17:30 am

Submitted by:

binod singh

30 सितंबर को परिणाम का इंतजार, 9 बजे के बाद मतदान ने पकड़ी रफ्तार, चारों निकायों में मतदाताओं में भारी उत्साह

निकाय चुनाव में सर्वाधिक 78.20 प्रतिशत मतदान पेटलावद में
मतदान में झाबुआ पिछड़ा, सबसे कम 61.84 फीसदी मतदान

नगर सरकार चुनने केंद्रों पर उमड़े मतदाता
नगर सरकार चुनने केंद्रों पर उमड़े मतदाता
झाबुआ. नगर की सरकार चुनने के लिए मतदाताओं ने लोकतंत्र के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए मतदान किया । मंगलवार को झाबुआ नगर पालिका के साथ नगर परिषद राणापुर, थांदला और पेटलावद में मतदान हुआ। चारों नगरीय निकाय में औसत 69.46 प्रतिशत मतदाता मतदान करने पहुंचे। सर्वाधिक 78.20 प्रतिशत मतदान पेटलावद नगर परिषद में हुआ तो वहीं सबसे कम मतदान झाबुआ नगर पालिका क्षेत्र में हुआ। यहां सबसे कम 61.84 फीसदी मतदान हुआ। चारों नगरीय निकाय में शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न होने पर प्रशासन ने भी राहत की सांस ली। अब सबको 30 सितंबर का बेसब्री से इंतजार है। इस दिन चुनाव परिणाम घोषित किए जाएंगे। नगरीय निकाय चुनाव के लिए सुबह 7 बजे से मतदान शुरू हुआ। पहले दो घंटे में मतदान की रफ्तार बेहद सुस्त रही। 9 बजे तक चारों नगरीय निकाय में औसत 13.60 प्रतिशत मतदान हुआ था। इसके बाद मतदान ने रफ्तार पकड़ी। 11 बजे तक मतदान का आंकड़ा 31.86 प्रतिशत पर पहुंच गया। वहीं 11 से एक बजे के बीच सर्वाधिक 16.94 फीसदी लोग मतदान करने पहुंचे, जिससे चारों नगरीय निकाय में औसत मतदान का आंकड़ा 48.80 फीसदी पर जा पहुंचा। जबकि तीन बजे तक चारों नगरीय निकाय में 61.61 प्रतिशत मतदान हुआ। शाम पांच बजे तक मतदान का आंकड़ा 69.46 प्रतिशत रहा।
भाजपा जिलाध्यक्ष और कांग्रेस प्रवक्ता हुए आमने-सामने
वार्ड क्रमांक 4 में एक मतदाता को अपनी कद काठी के कारण 20 मिनट तक मतदान करने से रोका गया। वार्ड में रहने वाली रेशमा रहमतुल्लाह 22 वर्ष की है , लेकिन कद काठी कमजोर होने से एक पक्ष उन्हें फर्जी मतदाता समझ बैठा , आपत्ति ली , तो माहौल गर्म हो गया। वार्ड क्रमांक 4 के कांग्रेस प्रत्याशी साबिर फिटवेल और बीजेपी जिला अध्यक्ष लक्ष्मण ङ्क्षसह नायक के बीच बहस हुई। माहौल शांत करने और फर्जी मतदाता की पहचान करने एसडीएम मतदान केंद्र पहुंचे , मतदाता परिचय पत्र ,आधार कार्ड आदि दस्तावेजों में जब मिलान किया तो सभी दस्तावेज सही पाए जाने पर रेशमा को मतदान करने दिया गया। इस दौरान 20 मिनट का समय व्यर्थ हुआ।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.