स्नैफर डॉग से यात्रियों के सामान की जांच, संदिग्धों पर रखी जा रही नजर

रेलवे स्टेशनों पर हाई अलर्ट : गुजरात सीमा पर पुलिस की चौकसी बढ़ी

झाबुआ. पाकिस्तान में एयर स्ट्राइक के बाद मिली खुफिया एजेंसियों की सूचना पर रेलवे स्टेशनों की चौकसी बढ़ा दी है। मप्र को गुजरात से जोडऩे वाली पिटोल बॉर्डर पर सतर्कता बरती जा रही है। यहां पुलिस हर आने-जाने वाले यात्रियों की जांच कर रही है। संदिग्धों पर भी निगाह रखी जा रही है।

एयर स्ट्राइक के बाद गुजरात के साथ मप्र को भी हाई अलर्ट पर रखा है। मेघनगर रेल्वे स्टेशन जिले का सबसे बड़ा स्टेशन है और यहां पर दिनभर में करीब 50 टे्रन रुकती है। शनिवार को यहां मेघनगर थाने की टीम के साथ आरपीएफ व जीआरपी ने जांच अभियान चलाया। स्नैफर डॉग मिली को लेकर उनके हैंडलर अनवर खान भी मौजूद थे। स्टेशन पर जितने यात्री बैठे थे उन सभी के सामान की जांच की गई। उनके आइडी भी देखे। स्टेशन के बाहर से जो जीप आती-जाती है उनमें सवार यात्रियों का ब्योरा लिया।

6 रेलवे स्टेशन है जिले में
झाबुआ जिले में 6 रेलवे स्टेशन है। सबसे बड़ा स्टेशन मेघनगर है। इसके बाद थांदला रोड, बजरंगगढ़, पांच पिपलिया, अमरगढ़ व बामनिया स्टेशन है। चूंकि ये दिल्ली-मुंबई मुख्य रेल्वे टे्रक भी है। इसलिए खास तौर पर सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं। इसमें स्थानीय पुलिस के साथ आरपीएफ व जीआरपी का भी सहयोग लिया जा रहा है।
पिटोल बॉर्डर पर सतर्कता: मप्र को गुजरात से जोडऩे वाली पिटोल बॉर्डर पर विशेष सतर्कता बरत रही है। एकीकृत चेकपोस्ट पर गुजरात की ओर से आने वाले वाहन और मप्र से गुजराज जाने वाले वाहनों को रोककर यात्रियों की जानकारी ली जा रही है। वर्तमान हालातों में पुलिस थोड़ी सी भी चूक नहीं चाहती।

संदिग्ध नजर आए तो तत्काल पुलिस को सूचना दें
&हाई अलर्ट के चलते रेल्वे स्टेशन पर सुरक्षा बढ़ा दी है। स्निफर डॉग के जरिए यात्रियों के सामान की जांच कर रहे हैं। हमारी आम लोगों से भी अपील है कि यदि कहीं कोई संदिग्ध व्यक्ति या सामान नजर आता है तो तत्काल डायल-100, पुलिस कंट्रोल रुम के नंबर 07392-243169 और नजदीकी थाने या चौकी पर सूचना दें।
विनीत जैन, एसपी, झाबुआ

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned