कुछ लोग बिल नहीं भर रहे पर काटी जा रही पूरे गांव की बिजली

एनएसयूआई ने सौंपा ज्ञापन : बिजली गुल रहने से विद्यार्थी रात में नहीं कर पा रहे पढ़ाई

झाबुआ. इन दिनों स्कूलों में वार्षिक परीक्षाओं का दौर चल रहा है और जल्द ही 10वीं-12वीं बोर्ड की परीक्षा भी प्रारंभ होने वाली है। इसके बावजूद बिजली कंपनी ने कई गांवों की बिजली काट दी है। इसका असर विद्याथर््िायों की पढ़ाई पर हो रहा है। जिसे देखते हुए छात्र संगठन एनएसयूआई ने मुद्दा उठाते हुए जिलाध्यक्ष विनय भाबोर के नेतृत्व में एसडीएम अभय खराड़ी को ज्ञापन सौंपा।

ज्ञापन में बताया गया कि वर्तमान में सभी स्कूलों में 9वीं-11वीं की परीक्षा चल रही है। अगले महीने मार्च में 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं हैं। विद्यार्थी दिन में तो अपनी पढ़ाई कर पा रहे हैं, लेकिन रात में उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसकी वजह बिजली कंपनी द्वारा गांवों की बिजली काटी जाना है।
कहीं बिल नहीं भरने पर पूरे गांव की बिजली काट दी गई तो कहीं ट्रांसफॉर्मर जलने पर उसे बदला नहीं जा रहा है। लिहाजा छात्र हित को देखते हुए तत्काल व्यवस्था में सुधार किया जाए। ज्ञापन देने वालों में एनएसयूआई जिला उपाध्यक्ष रोशन बारिया, सचिल किलू भाबोर, अनिल भूरिया, अर्जुन पालिया, दीपक सोलंकी, कल्याण डामोर आदि मौजूद थे।

छात्रहित से जुड़े ये चार मुद्दे उठाए
वार्षिक परीक्षाओं का दौर चल रहा है। इस बीच कई गावों में कुछ लोगों द्वारा बिजली के बिल नहीं भरे जाने पर पूरे गांव की बिजली काट दी गई। इससे परीक्षा की तैयारियों पर असर पड़ रहा है।
टै्रफिक पुलिस द्वारा विद्याथर््िायों को परेशान किया जा रहा है। सारे दस्तावेज प्रस्तुत करने के बावजूद कई बार उनके चालान बना दिए जाते हैं। यदि कोई छात्र अपने वाहन से परीक्षा देने आता है और उसे टै्रफिक पुलिस द्वारा रोक लिया जाता है तो वह परीक्षा देने से वंचित रह जाएगा। ऐसे में प्रवेश पत्र दिखाने पर विद्यार्थी को छोड़ दिया जाए।
विद्याथर््िायों को अब तक छात्रवृत्ति और आवास गृह की राशि नहीं मिली है। जिससे उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। छात्रावासों में जो खेल सामग्री खरीदी जा रही है उसकी गुणवत्ता सही नहीं है। इसकी जांच करवाई जाए।

kashiram jatav
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned