ट्रेन की चपेट में आने से युवक की मौत

ट्रेन के नीचे आने से मौत

झाबुआ/थांदला. स्थानीय युवक मयूर कश्यप की भैरव गढ़ रेलवे स्टेशन के समीप ट्रेन के नीचे आने से मौत हो गई। मेमो ट्रेन से हुई दुर्घटना के बाद 108 एंबुलेंस के डॉ. रवि शर्मा एवं पायलट कैलाश राठौड़ ने युवक को घायल अवस्था में पेटलावद स्वास्थ्य केंद्र में लाया गया। दुर्घटना में युवक के दोनों पैर कट चुके थे। उपचार के दौरान ही कुछ समय के बाद मयूर ने दमतोड़ दिया। उसकी जेब में से मिले डॉक्यूमेंट और रसीदों से उसकी शिनाख्त के बाद परिजन को सूचना दी गई। इसके बाद मयूर के भाई मयंक कश्यप अस्पताल पहुंचे। प्राथमिक उपचार के पश्चात अन्यत्र ले जाने का प्रयास कर रहे थे। तभी मयूर की सांसे थम गई।

 

सेल्फी ले रहा युवक ट्रेन की चपेट में आया

ट्रेन की चपेट में अक्सर हादसे के कई मामले सामने आते रहते है। थांदला में ट्रेन की चपेट में आने से युवक की मौत का यह पहला मामला नहीं है। इसके पहले भी प्रदेश के कई जिलों में सेल्फी लेटे युवक की मौत हुई है। अक्सर ट्रेन के सामने लोगों को सेल्फी लेना, ट्रेन में यात्रा कर रहे यात्रि गेट पर खड़े होने जैसे मामलों में लापरवाही से हादसे हुए है। हालही में एक युवक सेल्फी लेते समय मालगाड़ी की चपेट में आ था। उसका दोनों पैर बुरी तरह से चोटहिल हो गया। जीआरपी की मदद से उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां से प्राथमिक उपचार के बाद युवक की मौत हो गई थी।

 

रेलयात्रा के दौरान रखें सावधानी

सावधानी हटी दुर्घटना घटी ऐसे स्थिती कही भी आ सकती है इसलिए हमेशा सावधानी रखनी चाहिए। रेल यात्रा के दौरान कई बार लोगों की जान पर बन आती है। रेल यात्रा के दौरान थोड़ी सावधानी रखें और अपनी यात्रा को सुरक्षित बनाए। ध्यान रखें कि ट्रेन में गेट के पास खड़े होकर मोबाइल का उपयोग न करें, ट्रेन में चढ़ते या ट्रेन से उतरते समय फोन पर बात करने से बचना चाहिए। समय पर स्टेशन पहुंचें और भागते हुए ट्रेन न पकड़े।

KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned