scriptउच्च शिक्षा को सुदृड़ करने के लिए मिले अतिरिक्त बजट, संसाधनों से करें लैस | - बजट परिचर्चा | Patrika News
झालावाड़

उच्च शिक्षा को सुदृड़ करने के लिए मिले अतिरिक्त बजट, संसाधनों से करें लैस

– बजट परिचर्चा

झालावाड़Jun 20, 2024 / 11:39 am

harisingh gurjar

- बजट परिचर्चा

– बजट परिचर्चा

झालावाड़.राज्य सरकार के आगामी बजट से प्रदेश के युवाओं को काफी उम्मीदें है। भजनलाल सरकार अपना बजट 10 जुलाई को पेश करेगी। बजट में रोजगार के अवसर पैदा करने और शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के प्रयासों को युवाओं की ओर से महत्वपूर्ण माना जा रहा है। बुधवार को पत्रिका की ओर से आयोजित प्री बजट परिचर्चा में बेरोजगार युवाओं ने रोजगार के साथ आरक्षण, कौशल विकास और भर्तियां व कॉलेज में खाली व्याख्याताओं के पद भरने पर विशेष ध्यान देने की बात रखी। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी भत्ता देने की बजाय रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए सरकार को प्रयास करने चाहिए।
ऐसे रखी युवाओं ने अपनी बात

कॉलेज शिक्षकों केपद भरें जाएं-

सरकार की ओर से हर वर्ष शिक्षा के क्षेत्र में विकास के लिए करोंड़ों का बजट जारी होता है लेकिन फिर भी धरातल पर बदलाव देखने को नहीं मिल रहा है। झालावाड़ में शिक्षा और रोजगार के लिए विशेष ध्यान देना चाहिए, लेकिन यहां कई स्कूलों और कॉलेजों में शिक्षकों के पद रिक्त है। पेपर लीक की घटनाओं पर रोक लगे। महाविद्यालयों में सभी तरह का स्टाफ लगाया जाएं। कॉलेजों में प्रथम वर्ष में सीटें बढ़ाई जाए।
अंकित देव गुर्जर, छात्र नेता।

02. राज्य सरकार को बजट में बुनियादी शिक्षा को बेहतर बनाने के प्रयास करने चाहिए। सरकारी स्कूल ,कॉलेज में रिक्त पदों के लिए भर्ती निकाली जाएं और परीक्षाओं में पारदर्शिता रखी जाए। स्थानीय बेरोजगार कमाने के लिए दूसरे प्रदेश में जाने को मजबूर है। ऐसे में स्थानीय स्तर पर युवाओं को रोजगार मिलेगा तो वह गलत रास्ते पर भी जाने से बचेंगे साथ ही आने वाली पीढ़ी को भी सही मार्गदर्शन मिलेगा।
हर्षित थरेटिया, कॉलेज युवा।

03.भजन लाल सरकार को बजट में उच्च शिक्षा के लिए अलग से प्रावधान करना चाहिए। जिले में पर्यटन स्थलों और खेलकूद की प्रतिभाओं की दृष्टि से यह इलाका काफी समृद्ध है। यदि योजनाबद्ध तरीके से इसका विकास किया जाए तो यहां कई रोजगार के अवसर भी पैदा हो सकते है और खेल प्रतिभाएं बड़े मंचों परअच्छा प्रदर्शन कर सकती है।
मेघराज, युवा।

04. मेरा सरकार से आग्रह है कि नर्सिंग के क्षेत्र में नई भर्तियां निकालनी चाहिए,अभी ग्रामीण क्षेत्रों में कई पीएचसी, सीएचसी पर कर्मचारी नहीं है। नई भर्तियां निकालने से युवाओं को भी रोजगार मिलेगा। ग्रामीण विकास पर भी सरकार को ध्यान देने की जरूत है। अन्य राज्यों की तरह ग्रामीण विकास के लिए अलग से फंड जारी किया जाएं।
हरिओम गुर्जर, युवा।

05. बजट तो हर सरकार की ओर से जारी किया जाता है,लेकिन भ्रष्टाचार की वजह से उसका सही इस्तेमाल नहीं हो पाता है। छात्र संघ चुनाव होने चाहिए। कई विद्यार्थियों की छात्रवृति बजट के अभाव में नहीं आ पाती है। सरकार को उच्च शिक्षा में पर्याप्त बजट जारी करना चाहिए, इससे इस तरह की परेशानी नहीं हो।
रवि मेघवाल, छात्र नेता।

06. कॉलेजों में छात्राओं के लिए 33 फीसदी सीटें आरक्षित होना चाहिए। कॉलेजों के बार असामाजिक तत्वों की आवाजाही बंद होनी चाहिए। बालिका सुरक्षा के लिए अलग से जिला मुख्यालयों पर टीमों का गठन किया जाना चाहिए।
श्रुति केसरा, छात्रा।

07.सरकार नए-नए कॉलेज तो खोल रही है, लेकिन उनमें संसाधन नहीं है। इसके लिए सबसे पहले पर्याप्त संसाधन व मैन पावर दिए जाएं ताकि विद्यार्थियों की पढ़ाई चौपट नहीं हो। इसके लिए उच्च को अलग से बजट देना चाहिए।
शालिनी गौतम,पूजा छात्रा।

08.कॉलेजों में शिक्षकों के अभाव में पढ़ाई नहीं हो पाती है। सरकार को इसकी उचित व्यवस्था करनी चाहिए। ताकि कॉलेज में आकर बच्चों की पढ़ाई बाधित नहीं हो। सेमेस्टर के नाम पर बहुत ज्यादा फीस ली जा रही है। इसमें कमी होनी चाहिए।बालिका शिक्षा पूरी तरह से नि:शुल्क होना चाहिए।
राधा पाटीदार, कनिष्का छात्राएं।

Hindi News/ Jhalawar / उच्च शिक्षा को सुदृड़ करने के लिए मिले अतिरिक्त बजट, संसाधनों से करें लैस

ट्रेंडिंग वीडियो