scriptCyclist Shahnaz Parveen dies in collision with unknown vehicle | अज्ञात वाहन की टक्कर से साइक्लिस्ट शहनाज परवीन की मौत | Patrika News

अज्ञात वाहन की टक्कर से साइक्लिस्ट शहनाज परवीन की मौत

- कई पुरस्कार प्राप्त कर चुकी थी
- कोटा रोड पर हुआ हादसा

झालावाड़

Published: January 05, 2022 06:47:37 pm


झालावाड़.कोतवाली थाना क्षेत्र में बुधवार को अज्ञात वाहन की टक्कर से एक साइक्लिस्ट महिला की मौत हो गई।
कोतवाली सीआई बलवीरसिंह ने बताया कि बुधवार सुबह रूप नगर निवासी शहनाज परवीन 40 वर्ष पत्नी अब्दुल हकीम रोज की तरह साइकिलिंग करने के लिए घर से सुबह पौने छह बजे निकली थी। इसी दौरान करीब छह बजे कोटा रोड पर केजीएन कॉलेज के पास अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। इससे मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर परिजन व वहां मौजूद लोग एसआरजी चिकित्सालय लेकर आए जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। टक्कर मारने वाले वाहन का अभी पता नहीं चल पाया है।पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौंप दिया। वाहन चालक गाड़ी लेकर फरार हो गया। परवीन के जनाजे में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए।
Cyclist Shahnaz Parveen dies in collision with unknown vehicle
अज्ञात वाहन की टक्कर से साइक्लिस्ट शहनाज परवीन की मौत

सर्विल लेन पर चलाती साइकिल तो नहीं होता हादसा-
प्रत्यदर्शियों ने बताया कि साइकिलिस्ट शहनाज सिटी फोर की जगह सर्विल लेन पर साइकिल चलाती तो ये हादसा नहीं होता, फोर लेन पर साइकिल चलाने से हादसा हो गया। सिटी फोर लेन के दोनों तरफ पैदल चलने व साइकिल सवारों के लिए सर्विस लेन बनाया गया है। फोरेलन पर भारी वाहन बहुत तेज रफ्तार से निकलते हैं।
कोतवाली में महिला के पति अब्दुल हकीम ने अज्ञात वाहन के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।पुलिस वाहन चालक का पता लगाने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। शहनाज परवनी ने इंडियन साइकिलिस्ट एसोसिएशन की ओर से आयोजित प्रतियोगिता में 1860 किलोमीटर साइकिल चलाकर व 360 किलोमीटर दौड़कर पहला स्थान हांसिल किया था। इसके लिए परवीन को कोटा में सम्मानित भी किया गया था। परवीन ने महिला साइकिङ्क्षलग का ग्रुप भी बना रखा था, जिसके माध्यम से समाज सेवा के कार्य भी करती थी।

परवीन की आंखों से रोशन होगी दुनिया-
मेडिकल कॉलेज के नैत्ररोग विभागाध्यक्ष डॉ. आरके मीणा ने बताया कि बुधवार को साईक्लिंग के दौरान साईक्लिंग ग्रुफ ऑफ झालावाड़ की सदस्य रूपनगर निवासी शहनाज परवीन की अज्ञात वाहन की टक्कर से मौत हो गई। इस पर उनके पति अब्दुल हकीम ने स्वप्रेरणा से उनके नैत्रदान की इच्दा जाहिर की। इस पर आपातकालीन वार्ड एसआरजी के ड्यूटी डॉ. अजीत भिंडा व अब्दुल के मित्र बादल अग्रवाल ने नैत्ररोग विभाग के नैत्रदान केंद्र कमरा 116 पर अपनी सेवाएं दे रहे नर्सिंग स्टाफ महेन्द्र यादव से संपर्क किया। विभागाध्यक्ष डॉ.आरके मीणा के मार्गदर्शन में महेन्द्र यादव ने एसआरजी के मुर्दाघर में ही कॉर्निया लेने का कार्य किया। इस दौरान फोरेंसिक विभाग के डॉ. वैभव भटनागर,डॉ. एमएल गुप्ता, मेडिसिन विभाग के डाँ. अजीत भिंडा,नर्सिंग स्टाफ लोकेश मीणा, पुलिस चौकी के भूपेंद्र सिंह,महेंद्र मीणा,धनराज, मनोज लालवानी आदि मौजूद रहे। ये कोटा संभाग का अब तक का मुस्लिम समुदाय से पहला नैत्रदान प्राप्त किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.