सरकार को लगा रहे चूना, तिगुने दाम पर खरीद रहे सोडियम हाइपोक्लोराइड

बिल ग्राम पंचायतों के नाम कटवा उन्हें बना रहे दोषी...

By: Anil Sharma

Published: 08 May 2020, 04:08 PM IST

झालावाड़. देश महामारी से ग्रस्त है। देश के उघोगपति,समाज सेवक,भामाशाह देश मे आर्थिक मदद देने के साथ इस महामारी में जी जान से जुट कर लड़ रहे है। तो वहीं झालावाड़ जिले के खानपुर ब्लॉक के अधिकारी सरकार को ही चूना लगा रहे हैं।
सस्ती दर होने के बावूजूद अपना मकसद पूरा करने के लिए तिगुने दामों में अन्य फर्मों से सोडियम क्लोराइड खरीदकर उसका छिड़काव करवा रहे हैं। जबकि यही दवा सरकारी दर पर अन्य ब्लॉक में खरीदी गई है। जब मामला उजागर होता नजर आया तो अब इसे दबाने के लिए छोटे अधिकारियों पर दबाव बना रहे हैं।
जानकारी के अनुसार खानपुर ब्लॉक की 38 ग्राम पंचायतों के गांवों में राज्य सरकार की ओर से कोरोना महामारी रोकथाम के लिए सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिड़काव करने के निर्देश दिए।
इस मामले पर खानपुर बीडीईओ सुधीर पाठक ने तिगुनी कीमत में सोडियम हाइपोक्लोराइड खरीद कर इसका छिड़काव करवा दिया। जब कि यही सोडियम क्लोराइड डीसीएम कोटा से जीएसटी सहित 18 रुपए प्रति लीटर में मिल रहा है। तो उधर बीडीईओ ने कोटा के तलमण्डी से दिनेश फर्म से 50 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से मंगवाकर छिड़काव भी करवा दिया। फर्म के नाम बिल भी पंचायतों से जारी करवा दिए।
इतना ही नहीं 6 0 लीटर की एक ड्रम पंचायतों में भेजा परन्तु उसमें भी कहीं-कहीं तो मात्रा 50 लीटर ही निकल रही है। धांधली का खेल उजागर होने के साथ ही पंचायतों के सरपंच इस मामले को उठा रहे है। तो बीडीईओ इस मामले को दबाने के लिए दबाव बनाते नजर आ रहे है।

पंचायतों के नाम काटे बिल
खानपुर बीडीईओ ने मामले से खुद को बचाने के लिए कोटा तलवंडी की दिनेश फर्म के नाम के बिल सीधे पंचायतों के नाम कटवा दिए। ताकि मामला भी उजागर हो तो सीधा पंचायत ही जिम्मेदार रहे।

ऑडिट में होगी परेशानी
बीडीईओ ने जो गड़बड़ी की है। उससे परेशानी ऑडिट के समय सरपंच एवं सचिव को होगी। दरअसल जब ऑडिट करने टीम पंचायत आएगी तो वह सरकारी दर के हिसाब से ही सोडियम क्लोराइड ा भुगतान देखेंगे। ऐसे में अधिक दामों पर खरीद के सीधे जिम्मेदारी सरपंच-सचिव रहेंगे। जब ऑडिट निकलेगी तो उच्चाधिकारी मामले से पल्ला झाड़ते हुए सरपंच-सचिव को जिम्मेदार ठहराएंगे।

अब गोपनीय खेल शुरू हुआ
खानपुर बीडीईओ ने अब ग्राम विकास अधिकारियों पर दबाव बनाना शुरू कर दिया है। सभी ग्राम विकास अधिकारियों से उनकी सहमति से ही सोडियम क्लोराइड की खरीद होने की बात लिखित में देने को कर रहे हैं।

मांग रहे लिखित सहमति
हम लोगों को पत्र लिखने का बोला जा रहा है। कहा जा रहा है कि आप सहमति पत्र लिखकर दें की हमारी सहमति पश्चात ही खरीद हुई है। जबकि इस बारे में हमसे कोई बात नहीं हुई। ना ही अभी तक किसी ने लिखित में पत्र दिया है।
मोहरसिंह, ब्लॉक अध्यक्ष,ग्राम विकास अधिकारी संघ, खानपुर
नहीं उठाया फोन
&इस बारे में जब खानपुर बीडीईओ सुधीर पाठक से वर्जन लेने के लिए मोबाइल पर संपर्क साधने का कई बार प्रयास किया। उन्होंने पत्रिका संवाददाता का मोबाइल रिसीव नहीं किया।

Anil Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned