Heavy rain in Jhalawar...झालावाड़ में भारी बारिश, चम्बल उफनेगी, कोटा से धौलपुर तक अलर्ट

- झालावाड़ जिले में भारी बारिश, नदियां उफान पर, कालीसिंध बांध के 11 गेट खोले
- एक लाख 79 लाख क्यूसेक पानी की निकासी

By: Ranjeet singh solanki

Published: 18 Sep 2021, 04:56 PM IST

झालावाड़। राजस्थान के चरापूंजी कहे जाने वाले झालावाड़ में मानसून की विदाई की बेला पर शनिवार अलसुबह से भारी बारिश का दौर जारी है। लगातार बारिश होने से जिले की नदियां उफान पर आ गई है। जिले के सभी प्रमुख बांधों के गेट खोलकर पानी की निकासी की जा रही है। झालावाड़ जिले की नदियां उफान पर आने से चम्बल नदी में पानी की भारी आवक हो रही है। प्रशासन ने चम्बल में पानी की आवक के मद्देनजर कोटा से धौलपुर तक अलर्ट जारी कर दिया है। झालावाड़ जिले की आहू नदी में अधिक पानी आने के कारण डग का जिला मुख्यालय से सम्पर्क कट गया है।
कालीसिंध नदी के केचमेंट क्षेत्र में सुबह से भारी बारिश का दौर जारी है। इस कारण दोपहर बांध कालीसिंध बांध के 11 गेट खोलकर एक लाख 79 हजार 152 क्यूसेक पानी की निकासी शुरू की गई है। पिड़ावा क्षेत्र के गागरीन बांध पर 90 सेन्टीमीटर की चादर चल रही है। भीमसागर बांध उजाड़ नदी रटलाई क्षेत्र में जोरदार बारिश होने के बाद बांध का एक गेट तीन फीट खोलकर उजाड़ नदी में पानी की निकासी की गई। तीन हजार क्यूसेक पानी की निकासी प्रति सेकंड जारी है। बांध में पानी की आवक जारी है। उधर आवर पगारिया के निकट बहने वाली आहूु नदी एवं क्यासरी नदी दिन भर उफ ान पर रही। शुक्रवार देर रात से ही वर्षा का दौर शुरू हो गया था, जो शनिवार शाम चार बजे तक चला एवं मध्य प्रदेश में भी भारी बरसात होने से आहू नदी की रपट पर 20 फीट पानी आ गया। दिन भर आने जाने में ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ा दिनभर पगारिया मार्ग बंद हो गया। उधर झालावाड़ शहर के नया तालाब दुर्गपुरा तालाब पर भी चादर चल रही है। इसके बाद नीचले क्षेत्र की बस्तियों में लोगों को सतर्क रहने को कहा है।

BJP Congress
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned