कीट का टोटा डेंगू मरीजों की जान सांसत में

 

- हर दिन आ रहे डेंगू के मरीज, 10 लोगें को पड़ रही एसडीपी की जरुरत

By: harisingh gurjar

Published: 13 Oct 2021, 09:17 PM IST


झालावाड़.एसआरजी अस्पताल में इन दिनों प्लेट्लेटस की मांग काफी बढ़ गई है। जहां एक ओर डेंगू लोगों को डरा रहा है। एसआरजी चिकित्सालय में प्रतिदिन 300-400 डेंगू की जांच हो रही है, जिसमें 30 फीसदी डेंगू पॉजिटिव आ रहे ैं। ऐसे में मरीजों को प्लेटलेट्स कम होने से एसडीपी व आरडीपी की खासी जरुरत हो रही है। लेकिन एसआरजी चिकित्सालय के ब्लड बैंक में एसडीपी के लिए कीट का टोटा मरीजों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है।

50 की जरुरत, दे रहे 25-
एसआरजी चिकित्सालय में इन दिनों एसडीपी की खासी जरुरत पड़ रही है। ऐसे में कीट की मांग 50 की भेजी जा रही है, आगे से 25 ही कीट दिए जा रहे हैं। ऐसे में अभी 25 ही कीट होने से दो दिन बाद वो भी खत्म हो जाएंगे। जबकि प्रतिदिन एसडीपी करीब 10 को तथा आरडीपी 50-60 मरीजों को चढ़ानी पड़ रही है। ऐसे में कीट का होना बहुत जरुरी है।
स्टाफ की परेशानी,24 घंटे तक कर रहे काम-
एसआरजी चिकित्सालय के ब्लड बैंक में स्टाफ की कमी होने से दो ही कर्मचारी काम कर रहे हैं, ऐसे में उन्हे 24 घंटे तक काम करना पड़ रहा है। यहां 4 अतिरिक्त कर्मचारियों की जरुरत है। ताकि एसडीपी आदि करने में कोई परेशानी नहीं हो। वहीं ब्लड बैंक में समय पर डॉक्टरों के नहीं रहने से मरीजों को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। बुधवार को भी पत्रिका टीम ने मौके पर जाकर देखा उस समय कोई डॉक्टर मौजूद नहीं मिला। ऐसे में एसआरजी चिकित्सालय प्रशासन को यहां विशेष ध्यान देने की जरुरत है।
30 फीसदी डेंगू के मरीज-
एसआरजी चिकित्सालय व मेडिकल कॉलेज में प्रतिदिन एलाइजा से करीब 400 जांचे डेंगू की हो रही है। जिनमें से करीब 30 फीसदी मरीज डेंगू पॉजिटिव आ रहे हैं।

रिपोर्ट: हरि गुर्जर

विशेषसूचना: एसआरजी चिकित्सालय में एसडीपी व अन्य परेशानी से संबंधित शिकायत 9413980981 पर करें

harisingh gurjar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned