झालावाड़. सुबह से ही झालावाड़, झालरापाटन, रायपुर, रटलाई सहित कई क्षेत्रों में भी अच्छी बारिश हुई है। बारिश का दौर शाम तक चलता रहा। जिले में तीन दिन से हो रही बारिश से खेतों में पानी भर गया। सूखे पड़े नदी, नालों में भी पानी की अच्छी आवक हुई है। जिले में गुरुवार को सबसे ज्यादा बारिश झालरापाटन में 98 एमएम दर्ज की गई।
हादसों से भी सबक नहीं लेते लोग : अकलेरा. क्षेत्र में लगातार बारिश का दौर जारी है। इससे लगातार नदी-नालों में पानी की आवक बढ़ रही है। कस्बे में भी परवन नदी में रात को पानी की आवक होने से सुबह करीब एक फीट पानी पुलिया पर रहा। इस दौरान पुलिया से गुजरते वाहनों को किसी ने नहीं रोका। यह पुलिया डूबने के बाद यहां लोग नावों का सहारा लेते हैं। पिछले साल अगस्त में रक्षाबंधन के पर्व के दौरान नाव हादसे की घटना हो चुकी है। इसमें करीब आधा दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। विभाग की कछुआ चाल से पुलिया निर्माण नहीं होने से एक बार फिर बारिश के दौरान पानी की अधिक आवक के चलते करीब एक माह से अधिक समय तक रास्ता बंद रहने से ग्रामीणों का इधर से उधर आने-जाने के लिए नावों का सहारा लेना पड़ सकता है।यहां इतनी बारिश
खानपुर : 35
झालावाड़ : 37
झालरापाटन : 98
बकानी : 47
अकलेरा : 32
सुनेल : 4
डग : 4
गंगधार : 4
पचपहाड़ : 5
पिड़ावा : 5

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned