कमाल कर गया कमल, ९६.८३त्न के साथ जिलेभर में रहा अव्वल

कमाल कर गया कमल, ९६.८३त्न के साथ जिलेभर में रहा अव्वल
कमाल कर गया कमल, ९६.८३त्न के साथ जिलेभर में रहा अव्वल

Jagdish Paraliya | Updated: 04 Jun 2019, 11:45:30 AM (IST) Jhalawar, Jhalawar, Rajasthan, India

10वीं बोर्ड का परीक्षा परिणाम घोषित : ७६.६९ फीसदी रहा झालावाड़ जिले का परिणाम

झालावाड़. राजस्थान माध्यमिक बोर्ड ने सोमवार को १० वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम जारी किया। इसमें जिले की कई ग्रामीण प्रतिभाओं ने अच्छे अंक हांसिल किए। अकलेरा के तिलक स्कूल के छात्र कमल किशोर लोधा ने जिले में सबसे ज्यादा ९६.८३ प्रतिशत अंक प्राप्त किए। इस बार भी बेटियों ने बाजी मारी। छात्राओं का परीक्षा परिणाम लड़कों से ५ फीसदी अधिक रहा है। झालावाड़ जिले का कुल परीक्षा परिणाम ७६.६९ फीसदी रहा ।
पिता नहीं, मां ने खेती कर पढ़ाया
जिले में अकलेरा क्षेत्र के तिलक पब्लिक स्कूल के छात्र कमल किशोर लोधा पुत्र स्व.मांगीलाल लोधा ने ९६.८३ फीसदी अंक हांसिल कर अपने गांव जतावा का नाम रोशन किया है। छात्र ने पत्रिका को बताया कि वह आगे जाकर आईआईटी कर इंजीनियर बनना चाहता है,उसने नियमित रुप से पांच-छह घंटे पढ़ाई कर यह सफलता हांसिल की है। छात्र के परिवार में मां और वह दोनों ही है। पिता पहले ही शंात हो चुके है। मां कांतीबाई गांव में रहकर ४ बीघा जमीन है उसमें खेती करती है, छात्र ने अकलेरा में किराए से रहकर यह मुकाम हांसिल किया है। सफलता का श्रेय माता-पिता व गुरुजनों को दिया।
डॉक्टर बन सेवा करना चाहती है लविशा
आदर्श स्कूल सरोनियां की छात्रा लविशा पाटीदार पुत्री बद्रीलाल पाटीदार ने नियमित रुप से ६घंटे पढ़ाई कर ९६.१७ फीसदी अंक हांसिल किए है। वह आगे जाकर डॉक्टर बनकर देश सेवा करना चाहती है। छात्रा ने अपन सफलता का श्रेयमाता-पिता व गुरूजनों को दिया।
दांगी ने प्राप्त किए ९६ फीसदी अंक
मॉडल स्कूल झालावाड़ की छात्रा दिव्या दांगी पुत्री रामबिलास दांगी निवासी खेजरपुर ने दसवीं कक्षा में ९६.१७ प्रतिशत अंक हांसिल किए। छात्रा ने बताया कि वह विज्ञान संकाय लेकर डॉक्टर बनना चाहती है। उसने नियमित रुप से स्कूल के अलावा चार घंटे पढ़ाई की। पिताजी शिक्षक व माता ममता दांगी गृहिणी है।
नितिन ने ४ घंटे की प्रतिदिन पढ़ाई
मॉर्डन स्कूल के छात्र नितिन श्रोत्रिय पुत्र मुकेश कुमार श्रोत्रिय ने बताया कि उसने नियमित रुप से चार घंटे पढ़ाई कर ९५.८६ फीसदी अंक हांसिल किए। श्रोत्रिय ने बताया कि पढ़ाई के साथ खुले मन से खेल भी जरुरी है। अध्ययन में एक नियम जरुरी है नियमितता। छात्र प्रशासनिक सेवा में जाकर देश सेवा करना चाहता है। अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता व गुरुजनों को दिया।
मेहुल को मिले ९४ फीसदी से अधिक अंक
मॉर्डन सीनियर सैकंडरी स्कूल झालावाड़ के छात्र मेहुल भट्ट पुत्र संदीप कुमार शर्मा ने ९४.८३ फीसदी अंक हांसिल किए है। छात्र ने बताया कि उसने नियमित रुप से पांच घंटे पढ़ाई की है। वह डॉक्टर बनकर समाज सेवा करना चाहता है। अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता व गुरुजनों को दिया।
ऐसा रहा परिणाम
प्रथम श्रेणी-५१९६ द्वितीय श्रेणी-७८१७
तृतीय श्रेणी-२८५४ कुल-७६.६९
कुल- २०६८९ में से १५८६७ पास हुए है।
पिछले सालों का इतना रहा परीक्षा परिणाम
२०१५-१६- ७१.३१ २०१६-१७- ७२.७२
२०१७-१८- ७१.२६ २०१८१९-७६.६९

ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थी भी कम नहीं
पत्रिका न्यू•ा नेटवर्क
ह्म्ड्डद्भड्डह्यह्लद्धड्डठ्ठश्चड्डह्लह्म्द्बद्मड्ड.ष्शद्व
खानपुर. मां भारती सीनियर सैकण्डरी स्कूल की छात्रा छवि बैरागी ने १०वीं मे ९२.५० प्रतिशत अंक हासिल किए है। पिता का नाम राजेश कुमार बैरागी, माता का नाम आशा बैरागी तथा भविष्य मे राजस्थान प्रशासनिक सेवा मे जाना चाहती है। छात्र चेतन्यसिंह हाड़़ा ने १०वीं मे ९१.३३ प्रतिशत अंक हासिल किए है। पिता का नाम महेन्द्रसिंह हाड़ा, माता का नाम अंजना हाड़ा तथा भविष्य मे इंजिनियर बनना चाहता है।
अकलेरा. आदर्श बाल विद्या मंदिर उच्च माध्यमिक विद्यालय अकलेरा के निदेशक असद खान ने बताया कि विद्यालय की छात्रा उर्वशी गुप्ता ने 92.33, हर्षिता मंगल ने 92.17 तथा छात्रा शालिनी मीणा ने 91.6 7: अंक प्राप्त किए। इसी प्रकार निर्देशक अदित्य नागर ने बताया की तिलक स्कूल के छात्र कमल किशोर लोधा ने 96 .8 3 प्रतिशत अंक प्राप्त कर विद्यालय का नाम रोशन किया। वहीं वंशिका नागर ने ९२.७० प्रतिशत अंक प्राप्त किए।
झालरापाटन. राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड सेकण्डरी परीक्षा परिणाम में ९४.६७ प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाली वसूधा विद्या मंदिर सीनियर सेकण्डरी स्कूल की छात्रा झालरापाटन निवासी जगदीश नागर पुत्री दिव्या नागर ने अपनी सफलता का श्रेय अभिभावको व विद्यालय प्रबंधन को दिया है वह आई ए एस बनना चाहती है। सेंट जोंस सीनियर सेकण्डरी स्कूल की छात्रा अर्चना नागर ने ९०.१७ प्रतिशत अंक प्राप्त किए है उसने अपनी सफलता का श्रेय पिता रामकिशन नागर व स्कूल स्टाफ को दिया है वह कोटा में नीट की कोचिंग कर रही है और डॉक्टर बनना चाहती है।
सुनेल. ध्रुव शिक्षा मंदिर माध्यमिक विद्यालय सुनेल के चार छात्र-छात्रा ने ९० प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किये है। जिसमें पलक गुप्ता पुत्री बालचंद गुप्ता नेे 9३.८३प्रतिशत अंक प्राप्त किया है। सुजल सुमन पुत्र जगदीशचंद सुमन ने ९३.६७ प्रतिशत अंक प्राप्त किया है। युवराज सिंह पुत्र जगदीशचंद धाकड़ ने ९२.१७ प्रतिशत अंक प्राप्त किया है। जुनैद खान पुत्र रिखाज खान ने ९०.८३ प्रतिशत अंक प्राप्त किया है।
चौमहला. कस्बे के द सन पब्लिक स्कूल के छात्र गिरिराज सिंह पुत्र हरिसिह झाला ने 92.83 प्रतिशत अंक प्राप्त किए। छात्र ने बताया वह प्रतिदिन 8 घण्टे पढ़ाई करता था तथा अपनी सफलता का श्रेय माता पिता व गुरुजनों को देता है तथा भविष्य में उसकी इच्छा आई ए एस बनने की है। इसी विद्यालय की छात्रा चैताली कुँवर पुत्री पवन सिह शेखावत ने 92 प्रतिशत अंक प्राप्त कर विद्यालय व कस्बे का नाम रोशन किया। छात्रा ने बताया वह प्रतिदिन 7 से 8 घण्टे पढ़ाई करती थी। भविष्य में डॉक्टर बनना चाहती है। अपनी सफलता का श्रेय गुरुजनों व माता पिता को देती है।
असनावर. राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय अकतासा में पढऩे वाले झीतापुरा गांव के बालमुकुंद ने 93. 50 फीसदी अंक हांसिल किए। इसके पिता दयानन्द लोधा एक किसान है। इसकी माता का नाम बादाम बाई है। नियमित अध्ययन करता था। बालमुकुंद इंजीनियर बनना चाहता है।
बकानी. कस्बे के रामेश्वर आश्रम आदर्श विद्या मंदिर में पढऩे वाले छात्र हर्षल सोनी ने 94.50 प्रतिशत अंक प्राप्त किय हैं। इसकी पिता गिरीश सोनी माता अन्जु सोनी है। यह आगे चलकर नीट कर इन्जीनियर बनाना चाहता हैं। वही एमडीएस स्कूल के छात्र धनराज दांगी ने 94.17 प्रतिशत अंक प्राप्त किय हैं। पिता हजारी लाल दांगी एवं माता सन्तोष दांगी यह आगे चल कर एमएमसी करना चाहता है। वही आदर्श विद्या मंदिर के धीरज चारण ने 93.50 प्रतिशत अंक प्राप्त किय हैं। इसके पिता मथुरालाल चारण एंव माता राधाबाई यह आगे चल कर आईआईटी करना चाहता है। वही आदर्श विद्या मंदिर का ही छात्र सुरेश शर्मा ने 92.67 प्रतिशत अंक प्राप्त किय है। इसके पिता गिरराज शर्मा एवं माता कृष्णा शर्मा। आदर्श विद्या मंदिर की ही महिमा व्यास ने 92.33 प्रतिशत अंक प्राप्त किय हैं। इसके पिता हरीश व्यास एंव माता मनिषा व्यास यह आगे चल कर इन्जीनियर बनाना चाहती है।
सारोलाकलां. लाल बहादुर शास्त्री माध्यमिक विद्यालय सारोला के 10 वीं बोर्ड परीक्षा में रोहिता पारेता पुत्र देवकीनंदन ने 94 फीसदी अंक अर्जित किए हैं। दिव्या नागर पुत्री मनोज नागर ने 91.33 फीसदी अंक अर्जित किए।
पिड़ावा. आदर्श विद्या मंदिर सरोनिया की छात्रा लविशा पाटीदार 96 .17 प्रतिशत प्राप्त कर विद्यालय एवम् क्षेत्र का नाम रोशन किया। छात्रा दिव्या पाटीदार 92.33 प्रतिशत अंक प्राप्त किये । कनक पाटीदार 91.33 प्रतिशत अंक प्राप्त किये । हर्षिता पाटीदार 91.33 प्रतिशत अंक प्राप्त कर विद्यालय का नाम रोशन किया । विद्यालय के 12 छात्र छात्राएं गार्गी पुरस्कार प्राप्त करेंगे । विद्यालय का रिजल्ट में प्रथम श्रेणी में 74, दितिय श्रेणी 29, व तृतीय श्रेणी में 2 छात्र छात्राएं उत्तीर्ण हुए ।
झालावाड़ राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय झालावाड़ के छात्र राजकुमार बैरागी पुत्र धनरूप बैरागी ने 91.33 प्रतिशत अंक प्राप्त कर ना केवल विद्यालय का अपितु अपने परिवार का नाम रोशन किया है। राजकुमार भविष्य में गणित विषय लेकर इंजीनियर बनना चाहता है छात्र ने अपनी सफलता का श्रेय अध्यापकों और माता-पिता को दिया। आदर्श विद्या मंदिर सैकडंरी स्कूल झालावाड़ के छात्र मोहित कुमार पुत्र नरेश कुमार लोधा ने ९३ प्रतिशत,गिरिराज पाटीदार ने ९०.३३, सत्यनारायणस लोधा ने ९१.६७, गोविन्दसिंह नागर ने ९०.८३ प्रतिशत अंक हांसिल किए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned