लॉकडाउन:सब्जी मंडी मे उमड़ रही भीड़, संक्रमण की सावधानियां हुई गौण

-जिले में क्वारंटीन सेंटर से 33 लोगों को दी छुट्टी
- सब्जी मंडी बेपरवाही का मेला नहीं पड़ जाए भारी

By: harisingh gurjar

Published: 10 May 2020, 08:30 PM IST

झालावाड़.जिले के लिए रविवार को राहत भरी खबर रही कि पूर्व में कोरोना पॉजिटिव आए 40 लोगों के परिजनों सहित निकट पड़ौसियों को क्वारंटाइन सेंटर से छूट्टी दे दी गई है। जिले में रविवार को जिन लोगों के 14 दिन पूरे हो गए है ऐसे 30 लोगों को क्वारंटाइन सेंटर से कार्ड बनाकर घर भेज दिया है। इनकी सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी, रविवार को इनके 14 दिन पूरे हो गए है। लेकिन इसके बाद हाल में दो लोगों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद भी लोग सोशल डिस्टेंसिग के प्रति लापरवाही बरत रहे हैं। शहर में रविवार को बड़ा बाजार सब्जी मंडी में बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ देखी गई। ये भीड़ सब्जी सहित आवश्यक सामान खरीदती नजर आई है, ऐसे में कहीं फिर से कोई व्यक्ति संक्रमित नहीं हो जाए, ऐसे हालात में लोगों को भी सतर्क रहना होगा।

इन सेंटर से दी छुट्टी-
जिले में पॉलिटेक्निक कॉलेज में पूर्व में कोरोना पॉजिटिव आए संजय कॉलोनी आदि के मरीजों के 14 परिजन क्वारंटान थे,पिड़ावा में बालदा रोड पर अम्बेडकर छात्रावास में 4, राजकीय महाविद्यालय पिड़ावा में 12 लोग क्वारंटाइन कर रखे थे, जिनके रविवार को 14 दिन पूर्ण होने व रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद घर भेज दिया गया है। वहीं इंजीनियरिंग कॉलेज में 16 लोग क्वारंटाइन कर रखे है उनके दो दिन बाद 14 दिन पूरे होने के बाद इन्हें भी घर भेज दिया जाएगा। घर भेने जाने वाले लोगों को घर पर ही होम क्वारंटाइन के लिए बोला गया है। इनका कार्ड बनाकर उसकी पूरी डिटेल लिखकर बताए गए नियमों का पालन करने की शर्त पर ही छुट्टी दी गई है। अभी ये सभी लोग स्वास्थ है।इनमें कोई लक्षण नहीं सभी का कोविड टेस्ट नेगेटिव आने के बाद भी छोड़ा गया है।

परिजनों की रिपोर्ट नेगेटिव राहत-
जिले में झालरापाटन व झालावाड़ के पॉजिटिव आए दो व्यक्तियों के परिजनों व पड़ौसियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। झालरापाटन में छीपा मोहल्ला आदि के करीब 102 लोगों के तथा झालावाड़ में बस स्टैंड क्षेत्र से करीब 45 लोगों के सैंपल लिए गए है। जिनकी रिपोर्ट देर रात तक आएंगी। दोनों केस की स्क्रीनिंग कर ली गई है। परिजनों की सात दिन फिर से सैंपल लेकर जांच करवाई जाएगी। वहीं एक झालावाड़ के निजी चिकित्सालय व सरकारी चिकित्सालय के करीब 85 लोगों की जांच भी कराई गई है, जो नेगटिव आई है, इनकी सात दिन फिर से रिपोर्ट कराई जाएगी।

10 टीमें ले रही सैंपल-
जिले में कोरोना टेस्ट के लिए संक्रमित क्षेत्रों से चिकित्सा विभाग की 10 टीमें नोडल अधिकारी डॉ. कुलवीरसिंह राजावत, डॉ. इकबाल पठान के नेतृत्व में जिला कलक्टर द्वारा बताए रूट चार्ज के अनुसार सैंपल ले रही है। प्रतिदिन करीब 250 सैंपल लिए जा रहे है।

जनाना में इमरजेंसी इलाज आज से होगा शुरू-

जनाना चिकित्सालय में सोमवार से इमरजेंसी सुविधा शुरू की जाएगी। अधीक्षक डॉ. राजेन्द्र गुप्ता ने बताया कि जनाना चिकित्सालय में स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग व शिशुरोग विभाग की ओपीडी चालू की जाएगी। लेकिन मरीज व परिजनों को सलाह दी जाती है। कि बहुत जरूरी होने पर ही चिकित्सालय आएं अनावश्यक नहीं आएं।

ये रखनी होगी सावधानी-
डॉ. गुप्ता ने बताया कि जनाना चिकित्सालय में सोशल डिस्टेंस में ही मरीजों को आने दिया जाएगा। गार्ड को सख्त निर्देश दिए गए है कि एक-एक कर ही मरीजों को सोशल डिस्टेंस में अंदर भेजे। ओपीडी में डॉक्टर भी पीपीई किट पहनकर बैठेंगे। 12 मई से एक तिहाई स्टाफ को बुलाया गया है। परिजन बच्चों को छोटी-छोटी परेशानी जैसे हाथ पेर दर्द कर रहे हैं, बच्चा कमजोर है आदि पर जनाना चिकित्सालय लेकर नहीं आए इससे बच्चों व परिजनों को भी खतरा है।

पिड़ावा में आज से हटेगा कफ्र्यू-
पिड़ावा कस्बे में सभी कोरोना मरीज सही होने परसोमवार से कफ्र्यू में हटा दिया जाएगा।सीएमएचओ डॉ. साजिद खान ने बताया कि पिड़ावा में 11 अप्रेल के बाद कोई कोरोना मरीज नहीं आया है। यहां करीब 1200 टेस्ट किए गए है। सभी रिपोर्ट नेगेटिव आई है। अब यहां के सभी मरीज स्वस्थ्य है।

भीड़ से हो सकता है खतरा-
शहर में सुबह के समय किराना की दुकानों व सब्जीमंडी में काफी भीड़ लग रही है।पूर्व में जिले में दो केस ऐसे आए है जिनकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं थी। ऐसे हालात में लोगों की ऐसी भीड़ खतरे से खाली नहीं है। लोग जरूरी सामान खरीदते समय सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं कर रहे हैं। वहीं कई लोगदिन भर बिना काम के इधर-उधर घूम रहे हैं।

प्रथम चरण के सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव-
मेडिकल कॉलेज में रविवार को 101 सैंपल की रिपोर्ट आई। डीन डॉ.दीपक गुप्ता ने बताया कि सभी सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

आज से हटेगा कफ्र्यू-
हां जिले में संक्रमित क्षेत्रों सहित अन्य स्थानों पर चिकित्सा विभाग द्वारा नियमित रूप से सैंपलिंग का कार्य किया जा रहा है। लोगों से अपील है कि सोशल डिस्टेंस का पालन करें। सोमवार से पिड़ावा कस्बे में कफ्र्यू हटा दिया जाएगा, लेकिन लोगों को बेवजह घूमने की इजाजत न हीं होगी, लोगों को मास्क व सोशल डिस्टेंस के साथ ही बाहर निकलने की अनुमति होगी।
सिद्धार्थ सिहाग, जिला कलक्टर,झालावाड़

harisingh gurjar Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned