मिड-डे मील में अब नहीं मिलेंगे पैसे, गड़बड़झाला रोकने की कवायद तेज

मिड-डे मील में अब नहीं मिलेंगे पैसे, गड़बड़झाला रोकने की कवायद तेज

Hari Singh | Publish: Sep, 06 2018 12:10:21 PM (IST) Jhalawar City, Jhalawar, Rajasthan, India

- स्कूलों में सीधे भेजी जाएगी दाल

 

झालावाड़.सरकारी स्कूलों में पोषाहर में मिलने वाले गड़बड़झाले पर अब सरकार पूरी तरह से रोक लगाने के मूड़ में नजर आ रही है। राज्य सरकार सरकारी स्कूलों में अब पैसे की बजाए सीधे दाल भजेगी। इस आशय के आदेश हाल में मिड-डे मील आयुक्त ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को भी भेज दिए है। इससे अब किसानों को भी फायदा होगा। सरकार एफसीआई गोदाम से सरकारी स्कूलों में सप्लाई करेगी। सरकारी स्कूलों के संस्थाप्रधान को कहा गया है अभी वह 30 सितम्बर तक संस्थाप्रधान पैसों से दाल खरीद सकेंगे। एक अक्टूबर से सरकार की ओर से स्कूलों में इसकी सीधी सप्लाई होगी। सभी संस्थाप्रधानों से दाल की डिमांड पूछ ली गई है।

बाजार मेें भाव ज्यादा इसलिए नहीं खरीदें-
मिड-डे मील आयुक्त ने बाजार से दालें नहीं खरीदने के आदेश दिए थे। इसके बाद विभाग के अधिकारियों ने बाजार से दालें नहीं खरीदने के आदेश संस्थाप्रधानां को जारी किए है। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि बाजार में दालों के भाव ज्यादा है, इसलिए सरकार अब सीधे किसानों से दाल लेगी और स्कूलों में सप्लाई करेगी। इससे सरकार व किसान को काफी फायदा होगा, वहीं तेल, मिर्च बाजार से खरीदे जाएंगे। इससे पहले सरकार गेहूं व चावल की स्कूलों में सीधी सप्लाई करती थी,अब दाल की भी सीधी सप्लाई की जाएगी।

इतनी भेजी मांग-
जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय की ओर से जिले में 1 लाख 52 हजार 156 विद्यार्थियों के लिए 752 क्विंटल दाल की मांग भेजी गई है। यह दाल अक्टूबर, नवम्बर, दिसम्बर के लिए आएगी।
अब प्रतिदिन होगी दूध की सप्लाई-
सरकार की ओर से एक सितंबर से प्रदेश के सभी स्कूलों में सप्ताह में छह दिन दूध दिया जाएगा, पहले की तरह स्कूलों में फीका दूध ही मिलेगा। वहीं इस बार दूध की गुणवत्ता की जांच के लिए महीने में दो बार दूध के सैंपल लेकर जांच करवानी होगी। यह जांच राज्य सरकार की अधिकृत सीएमएचओ की लैब में जांच करवाई जाएगी। अगर दूध की गुणवत्ता खराब पाई जाती है तो संबंधित फर्म से अनुबंध निरस्त किया जाएगा। जिले में अब 12 हजार के स्थान पर प्रतिदिन 24 हजार लीटर दूध की सप्ताई राजकीय स्कूलों में की जाएगी।


हां अब सीधे होगी सप्लाई-
पहले गेहूं, चांवल की सप्लाई हो रही थी, अब स्कूलों में दाल की भी सप्ताई होगी।
गंगाधर मीणा, जिला शिक्षा अधिकारी, प्रारम्भिक, झालावाड़।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned