कूलरों में पानी नहीं,प्रसूताओं को पड़ रहे लू के थपेड़े

कूलरों में पानी नहीं,प्रसूताओं को पड़ रहे लू के थपेड़े
कूलरों में पानी नहीं,प्रसूताओं को पड़ रहे लू के थपेड़े

Hari Singh Gujar | Updated: 04 Jun 2019, 12:48:41 PM (IST) Jhalawar, Jhalawar, Rajasthan, India

 

-46 डिग्री पारे में भी प्रसूताओं को नहीं मिल रही राहत
- आसमान से बरस रहे आग, अधिकारी एसी में मरीजों को कूलर की हवा भी नहीं हो रही नसीब

 

झालावाड़.भीषण गर्मी के दौर में राजकीय जनाना चिकित्सालय में भीषण गर्मी का कहर रोगियों के लिए आफत बन रहा है। 46 डिग्री तापमान में अस्पताल में भर्ती प्रसूताएं व नवजात शिशु बेहाल है। अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों को अस्पताल प्रशासन राहत दिलाने में नाकाम साबित हो रहा है। रोगियों को सुविधा मुहैया कराने वाले अस्पताल प्रशासन के दावे खोखले साबित हो रहे हैं। जनाना अस्पताल के हालात गांवों के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र से भी बदतर है। जिला अस्पताल में सुविधा मुहैया उपलब्ध कराने के नाम पर चिकित्सा अधिकारी गंभीर नहीं है। ऐसे में सबसे ज्यादा परेशानी उन प्रसूताओं को हो रही है जो पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड में भर्ती है, कहने को यहां एसी लगे हुए है, लेकिन वह नाम मात्र के है, आधे खराब है। तो कई वार्ड में कूलर है भी तो खराब है। ऐसे में प्रसूताओं को घर से कूलर लाने की मजबूरी बनी हुई है।

घर से ला रहे कूलर-
भीषण गर्मी से बचने के लिए अस्पताल में लगे कूलर पर्याप्त नहीं है। ऐसे में रोगी गर्मी से निजात पाने के लिए घर से कूलर लाकर गर्मी से राहत पाने का जतन करने में लगे हुए है। जेएसवाई वार्ड सबसे ऊपर है, यहां पर्याप्त कूलर लगे हुए है, लेकिन कूलरों में 12.30 बजे तक भी पानी नहीं भरा गया था, ऐसे में प्रसूताओं को पंखे के सहारे से रहना पड़ रहा है, जब कूलर में पानी नहीं होने का कारण पता किया तो बताया कि यहां पानी भरने वाले स्टाफ की कमी है, दो ही बाईजी होने से वह फाइले ऊपर नीचे लाने ले जाने में ही रहती है। इसलिए कूलर नहीं भरे जा रहे है, ऐसे में एक मरीज के परिजनों ने गर्मी से राहत पाने के लिए घर से लाकर कूलर लगाया है।

ऐसे मिले हालात-
जनाना चिकित्सालय में प्रसूता संगीता ने बताया कि कूलर नहीं चल रहे है इससे गर्मी तो लग रही है, पंखे से राहत नहीं मिल पा रही है। ऐसे में गर्मी व चिपचिपाहट से परेशान हैं। यहां दो कूलर चालू मिले, दो खराब है शेष में पानी नहीं मिला। शिशु रोग यूनिट ए में कूलर तो पर्याप्त लगे हुए है, लेकिन यहां भी कूलरों में पानी नहीं होने से गर्म हवा फैंक रहे हैं।

पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड में भी एसी खराब-
जनाना चिकित्सालय के पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड में एक कक्ष में तीन एसी लगे हुए है इनमें से एक खराब है, शेष दो चालू है, लेकिन वह भी कूलर के बराबर भी हवा नहीं दे रहे है, महिला मरीजों ने बताया कि इस भीषण गर्मी से राहत नहीं मिल पा रही है, दोपहर के समय तो भीषण गर्मी होती है। वहीं पास के वार्ड में दो एसी है उसमें से एक खराब है, ऐसे में यहां भी गर्मी से राहत नहीं मिल पा रही है। जनाना चिकित्सालय में 80 में से अभी कई कूलर खराब पड़े हुए है, लेकिन पारा 46 डिग्री पहुंचने के बाद भी अधिकारियों का इस ओर कोई ध्यान नहीं है।
अधिकारी नहीं दे रहे ध्यान-
कई कूलर खराब है, जो चल रहे है उनमें पानी नहीं है, ऐसे में इतनी भीषण गर्मी में राहत नहीं मिल पा रही है। इस ओर अस्पताल वालों को ध्यान देना चाहिए।
नाजमा प्रसूता, जनाना चिकित्सालय, झालावाड़।


सही करवा देंगे-
पांच एसी खराब थे, सही करवा दिए थे, फिर खराब हो गए तो सही करवाने के लिए बोलता हूं। कूलर सही करवा दिए थे, कुछ खराब है, तो सही करवा दिए जाएंगे। कूलर भरने के लिए प्रत्येक वार्ड में एक-एक व्यक्ति की ड्यूटी लगाई जाएगी। कर्मचारियों की कमी तो है ही।
डॉ. दीपक गुप्ता, अधीक्षक जनाना चिकित्सालय, झालावाड़।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned