scriptNow farmers' homes will also be illuminated | अब किसानों के घर भी होंगे रोशन | Patrika News

अब किसानों के घर भी होंगे रोशन


-अब यूनिवर्सल सौलर पंप कंट्रोलर से
- घर के उपयोग में लेने लायक बनाया जाएगा

झालावाड़

Updated: October 17, 2021 08:56:51 pm


हरि सिंह गुर्जर

झालावाड़.प्रदेशभर में कोयले की कमी से जुझ रही सरकार ने किसानों को नए तरीके से राहत देने का प्रयास किया है।
बिजली कटौती से परेशान किसानों को कंट्रोलर देने की योजना सरकार ने जारी की है। राज्य सरकार ने राष्ट्रीय कृषि विकास योजना अन्तर्गत यूनिवर्सल सौलर पंप कंट्रोलर आधारित कृषि उपकरण संचालन परियोजना शुरु की है, जिसके माध्यम से किसान सौरऊर्जा की बिजली से अन्य कृषि उपकरण यथा चाप कटर, आटा चक्की, डीप फ्रीज, मिन कोल्ड स्टोरेज, बल्क मिल्क चिलर, थ्रेसिंग व विनोइंग अथवा फल सब्जी सुखाने की मशीन आदि चला सकेंगे। यूनिवर्सल सौलर पंप कंट्रोलर लगाने के लिए सरकार द्वारा किसानों को अनुदान दिया जाएगा।
राज्य सरकार के उद्यान विभाग ने राष्ट्रीय कृषि विकास योजना अन्तर्गत यूनिवर्सल सौलर पंप कंट्रोलर आधारित कृषि उपकरण संचालन परियोजना 2021-22 को लेकर हाल ही में विभागीय अधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किए है।इस योजना में जिन किसानों के 3 या 5 एचपी क्षमता तक सौर ऊर्जा पंप संयंत्र लगे हुए है और पांच साल पूरे हो गए है, उन्हे ही योजना का लाभ दिया जाएगा।
Now farmers' homes will also be illuminated
अब किसानों के घर भी होंगे रोशन,अब किसानों के घर भी होंगे रोशन,अब किसानों के घर भी होंगे रोशन
योजना का मकसद बिजली बचाना-
कोयले की कमी से प्रदेश के थर्मल पावर में पर्याप्त बिजली नहीं बन रही है। ऐसे में प्रदेश में सौर ऊर्जा की अपार संभावना है, जिसे ध्यान में रखते हुए उद्यान विभाग द्वारा राज्य के किसानों के प्रक्षेत्र पर सौर ऊर्जा पंप संयंत्र स्थापित कराए गए है। सामान्यतया कृषक इन सौर ऊर्जा पंप संयंत्रों का उपयोग सिंचाई के रुप में ही कर रहे हैं। इन सौर ऊर्जा का उपयोग वर्ष में लगभग 150 दिन ही हो पाता है। शेष दिनों में सौलर पैनल द्वारा उत्पादित की जा रही ऊर्जा का उपयोग नहीं हो पा रहा है। जिस समय यह सौर ऊर्जा पंप सिंचाई के उपयोग में नहीं लिया जा रहा है, उस समय में उत्पादित होने वाली ऊर्जा को कृषक अन्य कृषि उपकरणों यथा चाक कटर, आटा चक्की, डीप फ्रीज, मिन कोल्ड स्टोरेज, बल्क मिल्क चिलर आदि चलाने में कर सकेंगे। इसके लिए यूनिवर्सल सौलर पंप कंट्रोलर आधारित कृषि उपकरण संचालन परियोजना राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत अनुदान दिया जाएगा।

झालावाड़ को मिला 85 का लक्ष्य-
परियोजना 2021-22 के तहत प्रदेश के सभी जिलों में कुल 10 हजार यूनिवर्सल सौलर पंप कंट्रोलर स्थापित किए जाने है, इसमें झालावाड़ जिले को 85 का लक्ष्य दिया गया है, जबकि सबसे अधिक 1530 का लक्ष्य बीकानेर जिले को दिया गया है। जयपुर को 1235, टोंक को 1370, का लक्ष्य दिया गया है। दूसरी तरफ करौली व धौलपुर को सबसे कम 30-30 का लक्ष्य दिया गया है।
फैक्ट फाइल-
-जिले में लक्ष्य 85
- प्रदेशभर में 10 हजार का लक्ष्य
- जिले में पिछले पांच साल में लगे सौंलर ऊर्जा सिस्टम करीब 270
- 3 एचपी के यूएसपीसी की लागत -83000 हजार
- 5 एचपी के यूएसपीसी की लागत-85500 आएगी
- योजना के तहत अनुदान- 60 फीसदी रहेगा
ऐसे मिलेगा अनुदान-

- किसान के खेत पर स्थापित सौर ऊर्जा पंप संयंत्र द्वारा कृषि एवं उद्यानिकी फसलों में सिंचाई की जा रही हो।
- ऐसे किसान जिनके द्वारा उद्यान विभाग द्वारा संचालित योजना में अनुदान पर सौर ऊर्जापंप संयंत्र स्थापित करवाए गए है और जिनकी पांच वर्ष की गारंटी समाप्त हो चुकी है। ऐसे किसान पात्र होंगे। यानी इस योजना का लाभ उठाने वाले किसानों के कंट्रोलर नए हो जाएंगे और नए पर दुबारा पांच साल की गारंटी मिलेगी।
- इस योजना के तहत 3 या 5 एचपी के यूनिवर्सल सोलर पंप कंट्रोलर (यूएसपीपी) पर अनुदान देय है।


किसान योजना का लाभ उठाएं-
राज्य सरकार के उद्यान विभाग ने राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत यूनिवर्सल सौल पंप कंट्रोलर आधारित कृषि उपकरण संचालन परियोजना शुरु की है। जिसमें पात्र किसान को 60 फीसदी तक अनुदान दिया जाएगा। इसमें किसान रबी सिंचाई सहित घरेलू कार्य में भी इसका उपयोग किया जाएगा। किसानों के लिए यह अच्छी योजना है लाभ उठाना चाहिए।
कैलाश चन्द शर्मा, सहायक निदेशक उद्यान विभाग, झालावाड़।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

सपा ने जारी किया 10 सूत्रीय संकल्प पत्र, सत्ता में आए तो किसानों को ब्याज कर्ज मुक्त, दोबारा शुरू होगी समाजवादी पेंशन योजनायूपी के इतिहास में पहली बार एक ही दिन विधानसभा और MLC के लिए डाले जाएंगे वोट, 36 सीटों पर एमएलसी चुनाव का जानें अपडेटCorona cases in india: पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2.35 लाख केस, 871 की मौत, संक्रमण दर हुई 13.39%दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू खत्म, आज से नई गाइडलाइंस के साथ मेट्रो सेवाएं शुरूरीट पेपर लीक मामलाः डीपी जारोली पर गिरी गाज, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से किया बर्खास्तकेंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का सहारनपुर-मुजफ्फरनगर में जनसंपर्क आज, टटोलेंगे वेस्ट यूपी की नब्जUP Assembly Election 2022 : "मैं और जयंत किसान के बेटे,चुनाव भाजपा के लिए राजनैतिक पलायन सिद्ध होगा''नहीं बदला जाएगा नौकरशाही का मुखिया, एक्सटेंशन के लिए फाइल सरकार ने केंद्र को भेजी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.