पेट्रोल-डीजल ने बिगाडा रसोई का बजट, थाली से सब्जियां गायब

 

- पेट्रोल-डीजल कंपनियां लगातार बढ़ा रही तेल के दाम

By: harisingh gurjar

Published: 04 Oct 2021, 08:22 PM IST

झालावाड़.पेट्रोल-डीजल के दाम में धीर-धीरे हो रही बढ़ोतरी से खाने-पीने और अन्य सामानों के दामों में वृद्धि होने लगी है। पेट्रोल-डीजल कंपनियों द्वारा सातवीं बार तेज के दाम में बढ़ोतरी की है। इससे शहर में पेट्रोल 109.65 रुपए तथा डीजल 100.32 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच गया है। बढ़ते तेल के दाम से आम आदमी की थाली से स्वाद गायब हो रहा है। बढ़ोतरी से माल-भाड़ा भी बढ़ा,वहीं सोई में काम आने वाली वस्तुओं में 10-15 प्रतिशत का इजाफा हो गया। दाल, चावल, तेल, मसालों, गुड़, चीनी हो या फल-सब्जी तेजी से आम आदमी की जेब से बाहर होते चले गए। खाद्यान्न से जुड़े कारोबारियों का कहना है कि कीमतें अभी और बढ़ेंगी। जिस तरह डीजल की कीमतें बढ़ रही हैं, उससे लगता है कि आने वाले समय में कृषि उत्पादों की कीमतों में अच्छा खासा इजाफा होगा।

फिर भाढ़ा बढ़ाने की तैयारी-
ट्रांसपोर्टर्स ने एक माह पहले ही बढ़ा दिया था, अब वे फिर से भाड़ा बढ़ाने की तैयारी कर रहे हैं। जानकारों के अनुसार वर्तमान में दाल, चावल,आटा, मैदा, सूजी, तेल, देसी घी, वनस्पतिए चीनी, गुड़ एवं मसालों के भावों में और तेजी संभव है।

फल-सब्जियों पर ज्यादा असर
झालावाड़ में बाढा बढऩे से सब्जियों के दामों में भी वृद्धि हो गई है। धनिया 200 रुपए किलो, टमाटर 60,गोभी 60,बैंगन 60, लोकी 40, आलू 20-30 किलो तक पहुंच गए है। वहीं सेवफल 100रुपए किली तक पहुंच गए है। सब्जी विक्रेता बालचन्द सुमन ने बताया कि डीजल के दाम बढ़ाने से किराया बाढ़ा बढ गया है। ऐसे में बाहर से आने वाली सब्जियां व फल महंगे मिल रहे है।

इनके भी भाव बढने की संभावना
जानकारों के अनुसार वर्तमान में दाल, चावल, आटा,मैदा, सूजी, तेल,देसी घी, वनस्पति, चीनी, गुड़ एवं मसालों के भावों में और तेजी हो सकती है। बाजार में जब-जब भी तेल के भाव बढ़ते हंै। बाजार की हर वस्तु पर इसका असर होता है। डीजल के दाम बढ़ते ही तुरंत असर भाड़े पर पड़ता है। जिससे खान-पीने और अन्य सामान की कीमतों में वृद्धि होती है। इसका मतलब है कि महंगाई और बढ़ेगी।

फैक्ट फाइल-
पेट्रोल- 109.32
पेट्रोल स्पीड- 112.75
डीजल- 100.32

हमारी रसोई का बिगड रहा बजट-

रसोई गैस पहले से महंगी है, अब पेट्रोल-डीजल के दामों में और वृद्धि करने से सब्जियां महंगी हो गई है। पहले दस रुपए का 100 ग्राम धनियां आ रहा था, वो अब 20 रुपए का आ रहा है। सरकार को तेल के दाम करने चाहिए।
मंजू पांडे, गृहिणी,झालावाड़।

सब्जी वाला का बाढ़ा बढऩे से उन्होने ने सब्जियों के दाम बढ़ा दिए है। सरकार को पेट्रोल-डीजल के दाम पर आमजन कोछूट देना चाहिए। ताकि महंगाई के इस जमाने में वो अपना घर चला सके। तेल के दाम बढऩे से महिलाओं की रसोई की सभी चींजे महंगी हो गई है।
रेखा कश्यप, गृहिणी,झालावाड़।

harisingh gurjar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned