scriptमातम में बदली शादी की खुशियां, नाचते-गाते निकले थे बाराती, अब गांव में मचा कोहराम | Rajgarh Road Accident Jhalawar Update News | Patrika News
झालावाड़

मातम में बदली शादी की खुशियां, नाचते-गाते निकले थे बाराती, अब गांव में मचा कोहराम

झालावाड़ जिले के जावर थाना क्षेत्र के मोतीपुरा गांव से रविवार शाम नाचते-गाते खुशियों से लबरेज होकर बाराती मध्यप्रदेश के राजगढ़ के कमालपुरा गांव के लिए रवाना हुए थे, लेकिन नशे में धुत चालक की लापरवाही के कारण रात को बारातियों से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली खाई में जा गिरी।

झालावाड़Jun 03, 2024 / 06:45 pm

Kamlesh Sharma

झालावाड़ जिले के जावर थाना क्षेत्र के मोतीपुरा गांव से रविवार शाम नाचते-गाते खुशियों से लबरेज होकर बाराती मध्यप्रदेश के राजगढ़ के कमालपुरा गांव के लिए रवाना हुए थे, लेकिन नशे में धुत चालक की लापरवाही के कारण रात को बारातियों से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली खाई में जा गिरी। हादसे में पांच महिलाओं और चार बच्चों समेत तेरह जनों की जान चली गई, जबकि चालीस से ज्यादा घायल हो गए। इनमें चार की हालत गंभीर होने पर भोपाल रेफर कर दिया गया, जहां उनका उपचार चल रहा है।। मृतकों में सात जने झालावाड़ और छह जने बारां जिले के रहने वाले है। हादसे के बाद से पूरा गांव सदमे में है। जिस गांव में कल तक शादी की खुशी का उल्लास था, आज वहां मातम पसरा हुआ है। शव आने के बाद सोमवार दोपहर बाद मृतकों के अंतिम संस्कार उनके गांव में किए गए।
जानकारी के अनुसार मोतीपुरा गांव से रविवार शाम पांच बजे गब्बालाल के बेटे मोतीलाल की बारात रवाना हुई थी। मोतीलाल की शादी राजगढ़ जिले के कमालपुरा निवासी हेमराज की बेटी सोनिया होनी थी। बट्टू खेड़ी निवासी श्रीलाल की ट्रैक्टर ट्रॉली में बैठकर 70 से ज्यादा बाराती कमालपुरा के लिए रवाना हुए थे। ट्रैक्टर को मोतीपुरा निवासी दीपक पुत्र श्रीलाल रैदास चल रहा था। बारातियों के अनुसार चालक दीपक निकासी के बाद से ही शराब पी रहा था। रात करीब साढ़े नौ बजे अत्यधिक नशे में होने के कारण वह राजगढ़ जिले में पीपलोदी मोड़ पर वाहन पर से नियंत्रण खो बैठा और ट्रैक्टर ट्रॉली खाई में जा गिरी। हादसे में अधिकांश बाराती ट्रॉली के नीचे दब गए।
सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने जेसीबी की सहायता से ट्रॉली को सीधा करवाया और दबे लोगों को निकालकर राजगढ़ अस्पताल पहुंचाया। चिकित्सकों ने जांच के बाद तेरह जनों को मृत घोषित कर दिया। ये सभी दूल्हे के रिश्तेदार है।

इनकी हुई मौत

हादसे में झालावाड़ के मोतीपुरा निवासी आकाश पुत्र बृजेश, रामदयाल पुत्र रामचरण, शिवम पुत्र कालू लाल, राधा बाई पत्नी प्रकाश, रुपाली पत्नी बृजेश, बट्टूखेड़ी निवासी अरविंद पुत्र चतरुलाल, गजवाड़ी निवासी बादाम बाई पत्नी नारायण की मौत हो गई। मृतकों में बारां जिले के भगवतीपुरा निवासी अभी पुत्र राजकुमार, विशाल पुत्र राम लाल, रामपाल पुत्र भूरा लाल, सुनील पुत्र राम बाबू, राम कली पत्नी राज कुमार और दीगोद जागीर निवासी बरजी बाई पत्नी राधेश्याम शामिल है। चार घायलों बृजेश, नानकराम, भूरा और गुड्डी को गंभीर हालत में भोपाल के अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

मां-बेटों की हुई मौत

हादसे में मृतक मोतीपुरा निवासी पांच वर्षीय आकाश अपनी मां रूपाली की गोद में था। ट्रॉली में बैठा बारां जिले का भगवतीपुरा निवासी 3 साल का अभी भी मां रामकली की गोद में बैठा था। हादसे में दोनों बच्चों और उनकी मां की मौत हो गई।

शाम से ही शराब पी रहा था चालक

दूल्हे के पिता के अनुसार ट्रैक्टर चालक दीपक शाम से ही शराब पी रहा था। उसे शराब पीते देखकर दूल्हे के परिजनों ने मना भी किया गया, किंतु वह नहीं माना और लगातार शराब पीता रहा। ऐसे में वह नशे में बुरी तरह धुत हो गया था।

पांच का एक साथ अंतिम संस्कार

हादसे के बाद मध्य प्रदेश के राजगढ़ चिकित्सालय में पोस्टमार्टम के बाद सोमवार दोपहर में 5 मृतकों के शव मोतीपुरा पहुंचे। मृतकों के घर मातम व परिजनों की चीख पुकार के कारण पांचों शवों को घर पर नहीं लाया गया। उन्हें सीधे मोतीपुरा के मुक्तिधाम में ले जाकर एक साथ अंतिम संस्कार किया गया। सभी गरीब परिवार होने से गांववासियों ने सहयोग कर अंतिम संस्कार का इंतजाम किया।

Hindi News/ Jhalawar / मातम में बदली शादी की खुशियां, नाचते-गाते निकले थे बाराती, अब गांव में मचा कोहराम

ट्रेंडिंग वीडियो