scriptstone-broker became an officer, took charge of rural development | Jhalawar News .पत्थर तोडऩे वाला मजदूर बना अफसर, ग्रामीण विकास की कमान संभाली | Patrika News

Jhalawar News .पत्थर तोडऩे वाला मजदूर बना अफसर, ग्रामीण विकास की कमान संभाली

Jhalawar News युवाओं को संदेश : चुनौतियों का मुकाबला कर आगे बढ़े, सफलता जरूर मिलेगी

 

झालावाड़

Published: March 31, 2022 09:32:06 am

झालरापाटन.Jhalawar News इरादे मजबूत हो तो कितना भी बड़ा सपना पूरा किया जा सकता है। मुश्किल रास्ते आसान बनाने वाले लोग हल ढूंढने और मेहनत में जुट जाते हैं। तमाम बाधाओं को पार कर अपने मुकाम पर पहुंच जाते हैं। झालरापाटन के मजदूर राधेश्याम भील ने कड़ी मेहनत कर ईंट.पत्थर उठाने से लेकर अफसर तक का मुकाम हासिल किया है। वे अब उन युवाओं के लिए नजीर पेश कर रहे हैं कि जो आर्थिक तंगी में पढ़ाई बीच में ही छोड़़ देते हैं। राधेश्याम का कहना है कि जीवन एक सफर है, जिसमें खुशी और हम दोनों आते हैं। हमें विषम परिस्थितियों में भी हौंसला कायम रखते हुए आगे बढऩा चाहिए। हर चुनौती हमें कुछ नया करने को सीखाती है। जो बाधाओं को पार कर आगे बढ़ेगा वह तय है कि अपने मकसद में कामयाब होगा। राधेश्याम ने राजनीति की पाठशाला में भी कदम रखा, लेकिन उसे रास नहीं आया और फिर अपने असली मिशन की ओर बढ़ गया। वे ग्राम विकास अधिकारी से अब विकास अधिकारी के पद पर पहुंच गए हैं।
कस्बे के ट्रांसपोर्ट नगर निवासी राधेश्याम भील के परिवार की हालत अच्छी नहीं थी, उनके पिता डीजल इंजन मरम्मत का कार्य करते थे। वह भी पिता के साथ कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग करते थे और इसी के साथ ही अपनी पढ़ाई का खर्च निकालने के लिए बस स्टैंड पर मजदूरी और फल बेचने का काम भी करते थेए लेकिन दिल में अधिकारी बनने की तमन्ना थी जिस की कसक हमेशा उनके मन में रहती थी और इसी कसक को लेकर उन्होंने दिन रात पढ़ाई भी की।
भील समाज से पहले विकास अधिकारी बने
राधेश्याम की समाज सेवा में बचपन से ही रुचि थी। नगरवासियों ने 22 साल की छोटी सी उम्र में ही पार्षद का चुनाव जिताया। जनवरी 1997 में ग्राम सेवक की प्रतियोगी परीक्षा पास की बाद पार्षद से त्यागपत्र देकर सरकारी सेवा में लग गए और ग्राम विकास अधिकारी बनकर ग्राम पंचायत टांडी सोनपुराए डूंगर गांवए बोरदाए झुमकी में उल्लेखनीय कार्य कराए, जिससे आज भी वहां के लोग इनके कराए गए विकास कार्यों और समाज कल्याण कार्यों की प्रशंसा करते हैं। वर्ष 2013 में सहायक विकास अधिकारी के पद पर पदोन्नति हुई, लेकिन झुमकी के ग्रामीणों ने इन्हें वहां से जाने नहीं दिया इसके बाद वर्ष 2019 में फिर अतिरिक्त विकास अधिकारी के पद पर पदोन्नति मिलने पर उन्होंने झालरापाटन पंचायत समिति में इस पद का कार्यभार ग्रहण किया। राजस्थान संघ लोक सेवा आयोग के 25 मार्च को जारी की गई डीपीसी की सूची में उनकी पदोन्नति विकास अधिकारी के पद पर की गई। राधेश्याम ने बताया कि यह सब ईश्वर की कृपा और माता पिता के आशीर्वाद एवं जनता के आशीर्वाद से ही संभव हुआ है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में भील समाज से वह पहले विकास अधिकारी बने हैं। वह इस पद के माध्यम से समाज के गरीब वर्ग के लोगों की सेवा करने का जज्बा रखते हैं।
Jhalawar News .पत्थर तोडऩे वाला मजदूर बना अफसर, ग्रामीण विकास की कमान संभाली
Jhalawar News .पत्थर तोडऩे वाला मजदूर बना अफसर, ग्रामीण विकास की कमान संभाली

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Presidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस के निवास पहुंचे एकनाथ शिंदेMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतनKangana Ranaut ने Uddhav Thackeray पर कसा तंज, कहा- 'हनुमान चालीसा बैन किया था, इन्हें तो शिव भी नहीं बचा पाएंगे'उदयपुर हत्याकांड: आरोपियों के कराची कनेक्शन पर पाकिस्तान की बेशर्मी, जानिए क्या बोलाUdaipur Murder: उदयपुर में हिंदू संगठनों का जोरदार प्रदर्शन, हत्यारों को फांसी दो के लगे नारे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.