अब भी बिजली चोरों के हवाले 33 करोड़

जयपुर डिस्कॉम के मार्च में दिए राजस्व लक्ष्यों के अनुरूप 91 फीसदी ही वसूल पाया। शेष 9 फीसदी बकाया अभी

By: मुकेश शर्मा

Published: 06 Apr 2016, 11:37 PM IST

झालावाड़।जयपुर डिस्कॉम के मार्च में दिए राजस्व लक्ष्यों के अनुरूप 91 फीसदी ही वसूल पाया। शेष 9 फीसदी बकाया अभी भी चोरों के हवाले ही है। जानकारों के मानें तो इस वित्तीय वर्ष में 356 करोड़ रुपए बकाया चल रहा था। इसमें से 323 करोड़ रुपए 31 मार्च तक डिस्कॉम ने वसूल किए। ये वसूली लक्ष्य की 91 फीसदी है। लेकिन आंकड़ों को देखें तो शेष 33 करोड़  रुपए चोरों के हवाले है। हालांकि डिस्कॉम के अधिकारी ये वसूली भी करने की बात कह रहे हंै।

गत वर्ष 2014-15 के आंकड़ों को देखें तो डिस्कॉम के 269 करोड़ रुपए बकाया चल रहे थे। इसमें से 241 करोड़ रुपए ही वसूले जा सके। शेष 28 करोड़ पिछले वर्ष बकाया रहे थे। लेकिन इस बार बकाया में 5 करोड़ अधिक बढ़ गए। फिलहाल डिस्कॉम पर बकाया के 33 करोड़ रुपए बिजली चोरों के हवाले ही है। अभियंताओं की मानें तो पिछले वर्ष की अपेक्षा 3.3 फीसदी छीजत में कमी आई है।  

कागजों में घूम रहे स्टेशन

झालावाड़. जिले के सारोला व गंगधार में 132 केवी स्टेशन बनाया जाना प्रस्तावित है। इसके लिए जमीन का आवंटन किया जा चुका है। गत दो वर्ष पहले इन दोनों स्टेशनों के प्रस्ताव भेजे थे। लेकिन ये प्रस्ताव कागजों में ही घूम रहे है।

भवानीमंडी का कार्य प्रगति पर

जिले के भवानीमण्डी में 220 केवी सब स्टेशन के लिए 50 करोड़ रुपए स्वीकृत किए थे। इसके लिए  कार्य चल रहा है।
    कई पोल और पिलर खड़े किए जा चुके हंै। वर्ष 2017 के अंत में इस स्टेशन का कार्य पूरा होने की उम्मीद है।

लोड हो डायवर्ट

दुर्गपुरा फीडर पर लोड अधिक होने से अतिरिक्त फीडर बनाए जाने की जरूरत है। डिस्कॉम ने इस फीडर को दो भागों में बांट रखा है। इसके बाद भी लगातार कनेक्शनों का लोड होने के कारण शहर में किसी भी समय बिजली गुल होना आम है। शहर के मूर्ति चौराहा, मंगलपुरा टेक समेत मंगलपुरा चौराहे पर किसी भी समय बिजली गुल होना आम है।
   शहर का एक चौथाई भाग इस फीडर से जुड़ा है। वहीं इन दिनों  बिजली की ट्रिपिंग से भी लोगों को दो चार होना पड़ रहा है।


 बिजली के बकाया के 323 करोड़ वसूले जा चुके हंै। शेष भी जल्द वसूल कर लेंगे। अप्रेल में भी राजस्व वसूली अभियान जारी रहेगा। सारोला व गंगधार स्टेशनों के लिए बजट मिलते ही कार्य शुरू हो जाएगा। एनपी गोयलअधीक्षण अभियंता जयपुर डिस्कॉम
मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned