scriptवितरण लाइन में फॉल्ट से थर्मल ठप, रात 11 बजे जिले में ब्लैक आउट | -सुबह एक यूनिट से हुआ उत्पादन शुरू | Patrika News
झालावाड़

वितरण लाइन में फॉल्ट से थर्मल ठप, रात 11 बजे जिले में ब्लैक आउट

-सुबह एक यूनिट से हुआ उत्पादन शुरू

झालावाड़Jun 20, 2024 / 11:56 am

harisingh gurjar

भीषण गर्मी में विद्युत विभाग के संसाधन भी हांफ गए है। आए दिन लाइनों में फाल्ट आम बात है। लेकिन मंगलवार रात को तो कालीसिंध अंता 400 केवी लाइन में फाल्ट आने से थर्मल की दोनों इकाई ट्रीप मार गई। ऐसे में रात करीब 11 बजे,15 मिनट तो झालावाड़ व झालरापाटन शहर में बिजली पूरी तरह बंद रही। हालांकि प्रसारण निगम ने मोड़क से बिजली सप्लाई लेकर जिले में देने का प्रयास किया, लेकिन पर्याप्त बिजली नहीं मिलने से जिले के पूरे ग्रामीण क्षेत्र अंधरे के आघोष में रहे। ऐसे में भीषण गर्मी से परेशान ग्रामीणों के विरोध का सामना भी विद्युत विभाग के अधिकारियों को करना पड़ा है।
यहां आया फाल्ट-

जिले के कालीसिंध थर्मल से जा रही 400 केवी कालीङ्क्षसध-अंता विद्युत लाइन में बोरीना गांव में बड़ा फाल्ट आ गया है।यहां लाइन का एक फाल्ट सही किया , लेकिन दूसरा फाल्ट अर्थवायर में आ गया इससे सही होने में समय लग रहा है। यहीं से 400 केवी लाइन स्टेअप होकर 765 लाइन में फागी (जयपुर) जाती है। लेकिन यहां फाल्ट आने से थर्मल से लाइन में बिजली सप्लाई नहीं हो पाई। ऐसे में उत्पादन होने के बाद खपत नहीं होने से थर्मल की दोनों इकाई ट्रीप मार गई।
सुबह 10 बजे चालू हुई एक नंबर यूनिट-

कालीसिंध थर्मल की दोनों यूनिट फाल्ट के चलते बंद हो गई। ऐसे में शहर में रात 11 बजकर 2 मिनट झालावाड़ व झालरापाटन शहर की विद्युत आपूर्ति पूरी तरह बंद रही। हालांकि 11 बजकर 20 मिनट पर फिर आ गई। फिर दूबारा 11.45 पर बंद हुई और 11.58 पर चालू हो गई। लेकिन 220 जीएसएस भवानीमंडी व अकलेरा में भी बिजली सप्लाई नहीं होने से ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह 10 बजे थर्मल की एक नंबर यूनिट से उत्पादन शुरू होने के बाद विद्युत आपूर्ति सुचारू हो पाई।
दोनों यूनिट को फुल लोड पर चलाया

कालीसिंध थर्मल की एक नंबर यूनिट से उत्पादन हो रहा है। फिलहाल कालीङ्क्षसध थर्मल पावर प्लांट से विद्युत को 220 केवी लाइन पर प्रसारित किया जा रहा है। फाल्ट ठीक होने के बाद विद्युत वितरण और प्रसारण निगम के अगले निर्देश पर दोनों यूनिट को फुल लोड पर चलाया जाएगा।
ब्लैक आउट के विरोध में ग्रामीणों का प्रदर्शन-

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में मंगलवार रात से बिजली बंद होने से ग्रामीण क्षेत्रों में भीषण गर्मी से लोग परेशान हो उठे। ऐसे में मनोहरथाना, अकलेरा,असनावर, भिलवाडी सहित ग्रामीण अंचल के दर्जनों गांवों में ग्रामीणों को ब्लैक आउट का सामना करना पड़ा। वहीं उमस भरी गर्मी में लोग परेशान होते नजर आए ब्लैकआउट से नाराज ग्रामीणों ने बुधवार को डिस्कॉम कार्यालयों के बाहर प्रदर्शन किया।जिले के असनावर कस्बे में 24 घंटे में विद्युत सप्लाई सुचारु न होने पर ग्रामीणों ने धरना प्रदर्शन किया।
फाल्ट आने से बंद हुई यूनिट-

पावर ट्रांसमिशन लाइन में फाल्ट आने से दोनों यूनिट ट्रीप मार गई। एक नंबर यूनिट को सुबह सवा दस बजे चालू कर दिया गया है। प्रसारण वाले क्लिरेंस देंगे तो दूसरी यूनिट को भी चलाया जाएगा। अभी एक नंबर को 220 की लाइन पर कम लोड पर चलाया जा रहा है।
केएल मीणा, चीफ इंजीनियर, कालीसिंध थर्मल।

तकनीकी खराबी आई थी-

400 केवी लाइन की मरम्मत का कार्य प्रगति पर है। हो सकता है शाम तक फाल्ट सही हो जाएं। लाइन में फाल्ट आने से कालीसिंध थर्मल भी तकनीकी खराबी की वजह से बंद हो गया।इसलिए 220 जीएसएस से जाने वाली बिजली ग्रामीणों को नहीं मिल पाई।
एसएन आर्य, अधिशाषी अभियंता, प्रसारण 220 जीएसएस, झालावाड़।

Hindi News/ Jhalawar / वितरण लाइन में फॉल्ट से थर्मल ठप, रात 11 बजे जिले में ब्लैक आउट

ट्रेंडिंग वीडियो