बिजली चोरी पकड़ने गई विजिलेंस टीम पर हमला, जान बचाकर भागे कर्मचारी

Hariom Dwivedi

Publish: Sep, 17 2017 10:23:55 (IST)

Jhansi, Uttar Pradesh, India
बिजली चोरी पकड़ने गई विजिलेंस टीम पर हमला, जान बचाकर भागे कर्मचारी

झांसी के बरुआसागर कस्बे का मामला, बिजली कर्मचारियों ने पुलिस थाने पहुंचकर दर्ज कराया मुकदमा

झांसी. बिजली चेंकिंग करने गई विजिलेंस टीम पर कुछ लोगों ने बरुआसागर कस्बे में हमला बोल दिया। हमलावरों ने टीम का कैमरा भी तोड़ दिया। बाद में जैसे-तैसे जान बचाकर भागकर थाने पहुंचकर टीम के सदस्यों ने कुछ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

बिजली चोरी पकड़े जाने पर हुई बवाल
बिजली विभाग झांसी के अवर अभियंता सुरेंद्र सिंह विजिलेंस टीम के साथ बरूआसागर के मोहल्ला नेवड़ाखेड़ा में चेकिंग करने पहुंचे। वहां पर तीन लोगों को बिजली चोरी करने के आरोप में पकड़कर कार्रवाई की। इसके बाद पूरी टीम मिलान मोहल्ला पहुंची, वहां देखा कि जाकिर अली पुत्र शाजिद मीटर से बाईपास कर बिजली चोरी कर रहा था। वहीं इरफान अली पुत्र महमूद अली के यहां दूसरी तरह का बिजली चोरी का मामला पाया गया। वह जनरल मर्चेंट की दुकान चलाता है और वह दुकान में बिना कनेक्शन लिये बिजली का उपयोग कर रहा था। जब उसे पकड़ा गया तभी 15 -20 लोग एक राय होकर महिलाओं के साथ वहां पर आ गये और टीम पर हमला बोल दिया। गाली गलौज करते हुए उनका कैमरा तोड़ दिया। भीड़ को देख टीम व बिजली विभाग के स्टॉफ के लोग अपनी जान बचाकर भागे। इतना ही नहीं कुछ दूरी तक तो हमलावरों ने टीम का पीछा भी किया, मगर टीम के लोग सीधे पुलिस थाने जा पहुंचे। इस घटना को लेकर बिजली विभाग के स्टॉफ में काफी आक्रोश है।

जेई का बयान

जेई सुरेंद्र सिंह ने बताया कि हमारे साथ विजिलेंस के निरीक्षक जयकरन सिंह, उप निरीक्षक विनोद शुक्ला और तीन सिपाही थे। महिलाओं और पुरुषों ने सभी के साथ अभद्रता की। उन्होंने बताया कि थाने में जाकिर और इरफान के साथ ही 20 अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। इस मामले में दोषी पाए जाने वाले लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned