अंतरराष्ट्रीय स्तर के मानकों पर होगा झांसी का विकास, पर्यटन विकास पर रहेगा जोर

झांसी के विकास के लिए विदेशी कंपनी तैयार करेगी सिटी डेवलपमेंट प्लान

By: Neeraj Patel

Updated: 14 Sep 2021, 10:36 AM IST

झांसी. बुन्देलखंड के झांसी जिले का अंतर्राष्ट्रीय स्तर (International Level) के मानकों पर विकास किया जाएगा। झांसी के विकास के लिए विदेशी कंपनी सिटी डेवलपमेंट प्लान (City Development Plan) तैयार करेगी। हालांकि, इसमें जनता और जनप्रतिनिधियों से भी राय ली जाएगी। साथ ही शहर की जरूरतों का विशेष ध्यान रखा जाएगा। शहर में विशेष जरूरतों को ध्यान में रखते हुए ही विकास का खाका तैयार किया जाएगा। यूपी की योगी सरकार (Yogi Sarkar) प्रदेश के 14 शहरों का विकास नए सिरे से करने की तैयारी है। इसके लिए इन सभी शहरों का सिटी डेवलपमेंट प्लान तैयार किया जाएगा।

योगी सरकार का कहना है कि पहले चरण में झांसी समेत प्रदेश के 6 शहरों में योजना लागू की जाएगा। विकास का मॉडल झांसी की ऐतिहासिक पहचान (Historical Identity) को ध्यान में रखकर तैयार किया जाएगा। ये काम कंसलटेंट द्वारा किया जाएगा। योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए शासन के निर्देश मिलने के बाद झांसी विकास प्राधिकरण (जेडीए) की ओर से तैयारियां तेजी से शुरू कर दीं गईं हैं। कंसलटेंट तैनात करने के लिए जेडीए ने ग्लोबल टेंडर आमंत्रित किए थे। चार विदेशी एजेंसियों ने इसमें रुचि दिखाई है।

बता दें कि निविदाओं की तकनीकी बिड खोली जा चुकी है। एक सप्ताह के भीतर वित्तीय बिड भी खोल दी जाएगी। इसी माह एजेंसी नामित कर दी जाएगी और अगले माह अक्तूबर से नामित एजेंसी सिटी डेवलपमेंट प्लान तैयार करना शुरू कर देगी। प्लान में आम जनमानस और जनप्रतिनिधियों की भी सहभागिता सुनिश्चित की जाएगी। उनकी राय को भी प्लान में शामिल किया जाएगा। जिससे आम जन को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो।

ये भी पढ़ें - कोरोना की तीसरी लहर से पहले सभी ऑक्सीजन प्लांट शुरू, मरीजों को समय पर मिलेंगी सुविधाएं

पर्यटन विकास पर रहेगा जोर

झांसी में पर्यटन विकास (Tourism Development) की संभावनाएं काफी हैं। यहां पर्यटकों का हमेशा टोटा बना रहता है। इस कमी को पूरा करने के लिए सिटी डेवलपमेंट प्लान में पर्यटन विकास पर सबसे ज्यादा जोर दिया जाएगा। इसमें उन पुरातात्विक धरोहरों को शामिल किया जाएगा, जो अब तक अनदेखी की शिकार रहीं है। सिटी डेवलपमेंट प्लान तैयार करने वाली कंपनी को निवेश भी लाना होगा। योजना की ये भी एक शर्त है। निवेश आने से रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। खासतौर पर पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार के नए-नए अवसर पैदा किए जाएंगे। सरकार का भी इस पर खासा जोर रहेगा।

Show More
Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned