निर्वाचन आयोग ने लिया बड़ा निर्णय, मतदान को लेकर कर दिया ये बदलाव

निर्वाचन आयोग ने लिया बड़ा निर्णय, मतदान को लेकर कर दिया ये बदलाव

Neeraj Patel | Publish: Apr, 14 2019 02:27:11 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

पुलिस प्रेक्षक डा. शान्तनु सारंगी ने कहा कि लोग सी विजिल एन्ड्रायड मोबाइल एप्लीकेशन पर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन व अन्य शिकायतें ऑनलाइन कर सकते हैं।

झांसी. निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव के लिए तैनात सामान्य प्रेक्षक डा. रेनु एस. फुलिया ने कहा कि यह लोकतन्त्र का महापर्व है और इसमें आप सभी की सहभागिता महत्वपूर्ण है। लोगों को जागरुक करें ताकि अधिक से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सके। इस बार मतदान प्रातः 7 बजे से सायं 6 बजे तक है। निर्वाचन आयोग की मंशा है कि मतदान प्रतिशत में इजाफा हो। उन्होंने कहा कि इस बार सम्पूर्ण लोकसभा क्षेत्र के मतदेय स्थलों पर वीवीपेट का इस्तेमाल हो रहा है। अतः मतदाता को बतायें कि बटन दबाने के बाद वीवीपेट को अवश्य देखें और सुनिश्चित कर लें कि जिसे आपने अपना मत दिया उसे ही आपका मत पहुंचा है। उन्होंने मॉकपोल के समय पोलिंग ऐजेन्टों को उपस्थित रहने का भी सुझाव दिया।

इस एप पर करें शिकायत

प्रत्याशी व राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक में पुलिस प्रेक्षक डा. शान्तनु सारंगी ने कहा कि लोग सी विजिल एन्ड्रायड मोबाइल एप्लीकेशन पर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन व अन्य शिकायतें ऑनलाइन कर सकते हैं। सभी का निस्तारण व कार्यवाही समय से की जाएगी। ऐसा करने से कम समय में अधिक कार्य हो सकेगा। ऐसे बूथ जहां धमकाये जाने व दबाव डालकर वोट न डालने की सम्भावना है तो अवश्य सूचना दें या स्वयं उपस्थित होकर अवगत करायें तो कार्रवाई की जाएगी। मतदेय स्थल से लगभग 200 मीटर के अन्दर भीड़ जमा न हो, ताकि बेहतर ढंग से निर्वाचन सम्पन्न हो सके। मतदान देश का महापर्व है, लोकतन्त्र का महापर्व है। इसमें अपनी सहभागिता जरूर सुनिश्चित करें।

समस्या है तो दें जानकारी

बैठक में उपस्थित राजनैतिक दलों के सदस्य व प्रत्याशियों को सम्बोधित करते हुए पुलिस प्रेक्षक डा. शान्तनु सारंगी ने कहा कि जिले में संवेदनशील बूथों को चिन्हित कर पर्याप्त पुलिस बल को डिप्लाय कर दिया गया है। यदि फिर भी कोई समस्या है तो अवश्य जानकारी दें। सूचना तथ्यात्मक व पूर्ण शुद्ध हो ताकि कार्रवाई की जा सके। भ्रमित सूचना देकर समय बर्बाद न करें। उन्होंने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में सभी सहयोग करें, साथ ही पार्टी अपने ऐजेन्टों को प्रशिक्षण दे ताकि मॉकपोल सहित अन्य निर्वाचन कार्रवाई सकुशल सम्पन्न हो सके।

व्यय रजिस्टर की जांच 15 अप्रैल को

राजनैतिक दल के सदस्य व प्रत्याशियों के साथ बैठक में व्यय प्रेक्षक पी.कृष्णराव ने विभिन्न दलों के प्रत्याशी व पदाधिकारियों को सुझाव दिया कि आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन क्षेत्र में मतदान दूषित करने के लिए शराब व पैसो के वितरण की जानकारी सी विजिल एन्ड्रायड मोबाइल एप्लीकेशन क माध्यम से दर्ज करायें ताकि सभी शिकायतों का समय से निस्तारण व कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने समस्त प्रत्याशी व पदाधिकारियों से कहा कि निर्वाचन हेतु समस्त लेन-देन चेक के माध्यम से किया तो बेहतर होगा। जो व्यय किया जाए उसका आयोग द्वारा जारी रेट लिस्ट से अवश्य मिलान कर लें ताकि गड़बड़ी न हो। उन्होंने कहा कि प्रत्याशियों के व्यय रजिस्टर की जांच 15 अप्रैल 2019 को 11 बजे कार्यालय मुख्य कोषाधिकारी कलेक्ट्रेट झांसी में की जाएगी। प्रत्याशी स्वयं या अपने प्रतिनिधियों को भेजकर रजिस्टर की जांच करा सकते है।

जारी किए गए प्रेक्षकों के नंबर

बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के अन्तर्राष्ट्रीय केन्द्र में भारत निर्वाचन आयोग के सामान्य प्रेक्षक डा. रेनु एस. फुलिया मोबाइल नम्बर 8931079441, पुलिस प्रेक्षक डा. शान्तनु सारंगी मोबाइल नंबर 8931079453 तथा व्यय प्रेक्षक पी. कृष्णराव 8931079449 अपने कैम्प कार्यालय व आवासीय है। अतः कोई भी समस्या निर्वाचन सम्बन्धित है तो उसकी जानकारी मोबाइल द्वारा या स्वयं उपस्थित होकर दी जा सकती है।

ये लोग रहे उपस्थित

इस मौके पर जिला निर्वाचन अधिकारी शिव सहाय अवस्थी, एस.एस.पी. डा. ओ.पी. सिंह, मुख्य विकास अधिकारी निखिल टीकाराम फुंडे, एडीएम बी. प्रसाद, एसपीआरए राहुल मिठास सहित विभिन्न राजनैतिक दल के प्रत्याशी व पदाधिकारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned