Janta Curfew : झांसी में कोरोना के खिलाफ शंख बजाकर जनता कर्फ्यू का आगाज, सभी का मिला पूर्ण समर्थन

झांसी में जनता कर्फ्यू को लोगों का पूर्ण समर्थन मिला है, सड़कें सुनसान हैं और बस स्टैंड व रेलवे स्टेशन भी वीरान नजर आ रहे हैं।

By: Vinod Nigam

Updated: 22 Mar 2020, 11:55 AM IST

झांसीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनता कर्फ्यू की अपील का असर बुंदेलखंड भी देखने को मिला। झांसी के लोग इस संक्रमण को हराने के लिए एकजुट नजर आए। मसीहागंज में सुबह के वक्त छोटे-छोटे बच्चों ने शंख और थाली बजाकर जनता कर्फ्यू का आगाज किया। साथ हीलक्ष्मीबाई का महल, रेलवे स्टेशन, बस अड्डा ओरछा गेट, कांशीराम पार्क व मसीहागंज में पूरी तरह से सन्नाटा पसरा हुआ था।

कर्फ्यू की कमान खुद जनता के हाथ
कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में रविवार की सुबह बच्चों ने शंख और थाली बजाकर झांसी में जनता कर्फ्यू का आगाज किया। सुबह सात से शहर से लेकर गांव में सन्नाना पसरा गया। लोग अपने घरों की बॉलकानी से खड़े होकर जनता कर्फ्यू का समर्थन किया। देशहित में किए गए इस फैसले को सभी ने हाथों हाथ लिया। जनता कफ्यू की कमान खुद जनता ने अपने हाथ में ली। व्यापारी हों या नौकरीपेशा लोग, सभी ने तय किया है कि वे न तो खुद घर से बाहर निकलेंगे और न ही परिवार के किसी सदस्य को निकलने देंगें।

बावजूद जनता कर्फ्यू के साथ
झांसी में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज एक भी सामने नहीं आया है। संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट लगातार नेगेटिव आ रही हैं। बावजूद, यहां सतर्कता में कोई कमी नहीं है। लोग खुद तो जागरूक हैं ही और दूसरों को भी सचेत करने का काम कर रहे हैं। यही वजह है कि वायरस को आगे बढ़ने से रोकने लिए रविवार को जनता कर्फ्यू को सभी ने हाथों हाथ लिया है। महिला - पुरुष, बच्चे - बड़े सभी कोरोना के खिलाफ जारी जंग के सिपाही बन गए। सभी ने तय कर लिया है कि वे पूरे 14 घंटे घर से बाहर नहीं निकलेंगे।

किले में पसरा सन्नाटा
रानी लक्ष्मी बाई किले पर रविवार होने के कारण सुबह से ही अच्छी-खासी भीड़ नजर आती थी, लेकिन आज पूरे परिसर में सन्नाटा पसरा हुआ है। गलियों में किसी तरह की हलचल नजर नहीं आ रही। सेक्टरों, बाजारों और मोहल्लों में वीरानी सी छाई हुई है। सड़कों पर लोग और वाहन नजर नहीं आ रहे हैं। बाजारों बंद हैं और रेलवे स्टेशन व बस स्टैंडों पर सन्नाटा है। इक्का-दुक्का लोग बाहर जाते नजर आए तो पुलिसकर्मियों ने उनको समझाकर वापस घर भेज दिया। सभी स्थानों पर सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं और पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

बंद ही कारगार इलाज
अलीगोल निवासी राजीप अस्थाना ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए जनता कर्फ्यू का समर्थन करते हैं। बंद से काफी हद तक इस पर कंट्रोल हो सकता है। कहा, इसके जरिए इस जानलेवा वायरस से निजात मिल सकती है। सीपरी बाजार निवासी राधेश्याम गुप्ता कहते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील का असर शहर से लेकर ग्रामीणक्षेत्रों में दिखा। लोग घरों से नहीं निकले और आजादी के बाद पहली बार हमनें ऐसा कर्फ्यू देखा है। धर्मेंद्र सिंह कहते हैं प्रधानमंत्री की बात का समर्थन करने के लिए आज पूरी तरह से बाजार बंद रखा जाएगा। इससे काफी हद तक वायरस कंट्रोल की उम्मीद है।

चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात
जनता कर्फ्यू को लेकर पुलिस महकमे ने भी पूरी तैयारी कर ली है। पुलिस हर गतिविधि पर नजर नजर बनाए हुए है। महानगर में अतिरिक्त पुलिस बल बढ़ाया गया है। चौराहों से लेकर मोहल्लों में पुलिस की जवानों को तैनात किया गया है। मेडिकल कॉलेज से जिला अस्पताल, रेलवे हॉस्पिटल समेत वे क्षेत्र जो आइसोलेशन क्षेत्र की जद में हैं, वहां भी पुलिस की पल-पल नजर रहेगी। इसके अलावा अतिसंवेदनशील इलाकों में भी पुलिस की खास नजर रहेगी। एसपी सिटी राहुल श्रीवास्तव ने बताया कि रोजाना की तरह पुलिस अपनी ड्यूटी पर तैनात रहेगी। अतिरिक्त पुलिस बल भी लगाया गया है।

विधायक ने देरशाम किया जनसंपर्क
सदर बाजार में विधायक राजीव सिंह अपने समर्थकों के देरशाम को बाजार ेव्यापारियों से जनसंपर्क कर बाजार को बंद रखने का आग्रह किया। व्यापारियों ने भी बाजारों में पर्चे बांटकर जनता कर्फ्यू को सफल बनाने का आग्रह किया। वहीं गुलाम गौस खां युवा समिति के अंदर ओरछा गेट स्थित प्रदेश कार्यालय में कोरोना वायरस पर लोगों को जागरूक कर जनता कर्फ्यू को सफल बनाने का आग्रह किया। इस मौके पर अशरफ अली, अतीक खान, अरशद अली, हसीन अंसारी मौजूद रहे।

पूरा सहयोग करेंगे चिकित्सक
नेशनल इंट्रीगेटिड मेडिकल एसोसिएशन की बैठक में जनता कर्फ्यू को सफल बनाने का संकल्प लिया गया। साथ ही आपातकालीन स्थिति में सरकारी चिकित्सकों का सहयोग करने का आग्रह किया गया। अध्यक्षता डॉ. प्रतिभा भार्गव ने की। डॉक्टर भार्गव ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि जनता कर्फ्यू का पालन करें और घर में रहें और सावधानी बरतें। डॉक्टर भर्गव ने कहा कि कोरोना को आसानी से बिना दवा के हराया जा सकता है। इसके लिए आपको ज्यादा से ज्यादा वक्त घरों में बिताना होगा।

Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned