इनका बढ़ाया हौसला और किया सम्मान

इनका बढ़ाया हौसला और किया सम्मान

By: Abhishek Gupta

Published: 04 Jan 2018, 07:44 PM IST

झांसी। जिलाधिकारी कर्ण सिंह चौहान ने राजकीय संग्रहालय में आयोजित कार्यक्रम में महाराष्ट्र पुणे निवासी दिव्यांग पोपटराव जयंतराव खोपड़े का सम्मान करने के साथ ही अन्य दिव्यांगों का हौसला भी बढ़ाया। उन्होंने यहां पर कहा कि ‘मंजिलें उन्हीं को मिलती हैं जिनके सपनों में जान होती है, पंखों से कुछ नहीं होता, हौसलों से उड़ान होती है। उन्होंन इस कार्यक्रम में कहा कि दिव्यांग व नेत्र बाधित जनों को दया नहीं अधिकार देने होंगे। उन्हें सहयोग के साथ प्रतिभा प्रदर्शित करने के अवसर देने होंगे ताकि वह भी स्वयं को समाज की मुख्य धारा से जोड़ सकें और आत्मनिर्भरता के साथ स्वावलंबी बन सकें।

पर्यावरण व स्वच्छता का संदेश लेकर निकले

जिलाधिकारी कर्ण सिंह चौहान ने कहा कि स्वच्छता व पर्यावरण बचाव का संकल्प लेकर दिव्यांग संदेश यात्रा 2017 रायरेश्वर किला से संसद भवन नई दिल्ली तक के लिए निकली है। ये 1893 किमी की दूरी साइकिल के माध्यम से पूरा करने व जगह-जगह स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक करने का कार्य प्रेरणादायी होने के साथ- साथ प्रशंसनीय भी है। उन्होंने कहा कि पोपटराव पुत्र जयंतराव निवासी नाझेर, तहसील मोर जिला पुणे ने अपनी यात्रा शुभ संदेश के साथ 3 दिसम्बर 2017 को प्रारम्भ की। वह आज झांसी प्रवास पर है। हम सभी शुभकामनायें देते हैं। आपकी मंगलमय यात्रा की कामना करते हैं।

भेंट किया स्मृति चिह्न

इस दौरान जिलाधिकारी कर्ण सिंह चैहान ने पोपटराव का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज होने पर बधाई दी। इसके साथ ही सम्मान स्वरूप स्मृति चिन्ह भेंट कर उन्होंने पोपटराव की मंगलमय यात्रा की स्वर्णिम सफलता के लिये अनंत शुभकामनायें दीं। उन्होंने कहा कि आगे की आपकी यात्रा शुभ एवं मंगलकारी हो। इस दौरान पोपटराव जयंतराव खोपड़े के साथ आये सहयोगी माधव किरडे व आकाश कुरपड़ने ने जिलाधिकारी को अब तक की यात्रा के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि वह जहां से गुजरे वहां स्वच्छता संदेश व स्वच्छता से होने वाले लाभ की जानकारी दी। इस अवसर पर अनेक लोग उपस्थित रहे।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned