देशभक्ति के जोश से भर गया एनएसएस कैंप, फिजाओं में गूंजे भारत माता की जय के नारे

देशभक्ति के जोश से भर गया एनएसएस कैंप, फिजाओं में गूंजे भारत माता की जय के नारे

Nitin Srivastva | Updated: 27 Feb 2019, 12:00:21 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

पाकिस्तान पर एयर स्ट्राइक के बाद यहां दिखा अलग ही जोश, वायुसेना का ऐसे बढ़ाया हौसला...

झांसी. बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना की प्रथम,चतुर्थ और सप्तम इकाई का कैम्प मलिन बस्ती, खालसा में प्रारंभ हुआ। इसमें तीनों इकाई के लगभग दौ सौ छात्र छात्राओं ने प्रतिभाग किया। इस शिविर में भारतीय वायु सेना द्वारा पाक पर किये गये हमले के उपलक्ष्य में भारत माता की जयकारे के नारे से संपूर्ण शिविर गुंजायमान हो उठा। इस दौरान कहा गया कि पुलवामा आतंकी हमले के गुनाहगारों को सबक सिखा दिया गया है। उनके ठिकानों को नेस्तनाबूत कर दिया गया। इस मौके पर वायुसेना के शौर्य की सभी ने खुले दिल से प्रशंसा की।

 

युवाओं पर अहम जिम्मेदारी

मुख्य अतिथि कला संकाय के अधिष्ठाता प्रो सी बी सिंह ने शिविर के उद्घाटन में कहा कि युवाओं पर अहम जिम्मेदारी है। देश और समाज में व्याप्त जो भी कमियां हैं उन्हें दूर कर हमें राष्ट्र निर्माण की नींव रखनी है। नया भारत युवाओं का भारत है। स्वच्छता एवं शिक्षा दो ऐसे हथियार हैं जिनके उपयोग से अनेकों व्याधियों पर विजय पायी जा सकती है। इस अवसर पर कार्यक्रम अधिकारी डा मुन्ना तिवारी ने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना का उद्देश्य ऐसे नागरिकों का निर्माण करना है जो अपनी जिम्मेदारियों का तो निर्वाहन करें ही, बल्कि अपने आस पास के लोगों को भी सामाजिक हित की गतिविधियों के प्रति जागरूक करें।

 

सभी की है जिम्मेदारी

इस अवसर पर विषय की रूपरेखा रखते हुए डा यतीन्द्र मिश्रा ने कहा कि समाज कार्य की जिम्मेदारी किन्हीं विशेष लोगों की नहीं, अपितु सभी की है। कोई हमारे लिये क्या करेगा की जगह हम लोगों के लिये क्या कर सकते हैं, इसका चिंतन लगातार करने की आवश्यकता है।

 

सफाई अभियान चलाया गया

इस अवसर पर कैम्प में शामिल होने आए छात्रों द्वारा मलिन बस्ती में सफाई अभियान चलाया गया। इसके साथ ही बस्ती के बच्चों को शिक्षा के प्रति जागरूक किया गया। उद्घाटन शिविर का संचालन डा जितेन्द्र बबेले ने किया। बाद में सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापन डा शिल्पा शर्मा ने किया।

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned