तिलकोत्सव में फायरिंग से दुल्हन के चाचा की मौत

तिलकोत्सव में फायरिंग से दुल्हन के चाचा की मौत

By: BK Gupta

Published: 25 Apr 2018, 11:20 PM IST

झांसी। सकरार थाना क्षेत्र के खिसनी बुजुर्ग गांव में एक तिलकोत्सव में की गई हर्ष फायरिंग में गोली लगने से दुल्हन के चाचा की मौत हो गई। इससे समारोह की खुशियां मातम में बदल गईं। पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ यह मामला दर्ज कर लिया है।

नशे में धुत होकर की गई फायरिंग

खिसनी बुजुर्ग गांव में दृगपाल सिंह के पुत्र भारतेंदु सिंह के तिलकोत्सव का कार्यक्रम चल रहा था। इसी दौरान गांव के ही रहने वाले अरविंद सिंह अपने भाई बृजेंद्र सिंह के साथ नशे में धुत होकर आए और फायरिंग करने लगे। इसमें से एक गोली मध्यप्रदेश के मुरैना जिले के चिन्नौनी के रहने वाले 65 वर्षीय राम सिंह परमार के सीने में जा लगी। इससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना में मरने वाले रामसिंह परमार दुल्हन के चाचा थे।

सूचना मिलने पर पहुंचे पुलिस अधिकारी

ग्रामीणों द्वारा दी गई सूचना के आधार पर टहरौली के पुलिस क्षेत्राधिकारी, कटेरा थानाध्यक्ष, सकरार थानाध्यक्ष और उल्दन थानाध्यक्ष मय पुलिस फोर्स के पहुंच गए। वहां पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए झांसी भिजवाया। इसके साथ ही पुलिस ने बृजपाल सिंह की तहरीर पर अरविंद सिंह और उसके भाई बृजेंद्र सिंह के खिलाफ धारा 304 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया।

मजदूर ने फांसी लगाकर आत्महत्या की

रक्सा क्षेत्र की आदिवासी कालोनी के रहने वाले मजदूर अमर सिंह पाल ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसने अपने घर के आंगन में लगे पेड़ से फांसी लगाई। जब परिजनों ने उसका शव घर के आंगन में लगे पेड़ से लटकते देखा, तो उनके तो जैसे होश ही उड़ गए। बताया गया है कि अमर सिंह पाल की शादी करीब पंद्रह साल पहले केशकली के साथ हुई थी। उसके दो बेटियां और एक बेटा भी है। हालांकि, लोग उसके आत्महत्या के कारणों को स्पष्ट नहीं कर पा रहे हैं।

Show More
BK Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned