यूपी-एमपी में करते थे वन टू का फोर, पुलिस ने किया अरेस्ट

यूपी-एमपी में करते थे वन टू का फोर, पुलिस ने किया अरेस्ट

Brij Kishore Gupta | Publish: Sep, 04 2018 06:52:02 PM (IST) Jhansi, Uttar Pradesh, India

यूपी-एमपी में करते थे वन टू का फोर, पुलिस ने किया अरेस्ट

झांसी। बबीना थाने की पुलिस ने तड़के करीब 4.15 बजे गश्त के दौरान एक अंतर्राज्यीय बाइक चोर गिरोह को पकड़ने में कामयाबी हासिल की। इसमें पकड़े गए तीनों बाइक चोर मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले के खनियाधाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। ये मध्यप्रदेश से बाइक चुराकर उत्तर प्रदेश में बेचा करते थे और उत्तर प्रदेश से बाइक चुराकर मध्यप्रदेश में बेचा करते थे। इनके पास से चोरी की आठ बाइक बरामद हुई हैं। इसमें से चार बाइक बबीना थाना क्षेत्र से चोरी की गई थीं। इसके साथ ही इन बाइक चोरों के पास से पुलिस ने तमंचे व कारतूस भी बरामद किए हैं।
ये बाइक चोर हुए गिरफ्तार
बबीना थाना पुलिस द्वारा प्रभारी निरीक्षक आलोक सक्सेना के निर्देशन में गठित टीम ने तीन बाइक चोरों को पकड़ा है। पकड़े गए लोगों ने अपने नाम व पते बताए। इसमें शिवपुरी जिले के खनियाधाना थाना क्षेत्र के राजापुर रूरत का रहने वाला 19 वर्षीय रवी पुत्र सौभाग्य सिंह, टेकरी मुहल्ला तालाब के पास खनियाधाना में रहने वाला 21 वर्षीय बंटी खान पुत्र मोहम्मद अली और राजापुर रूरल का ही रहने वाला 25 वर्षीय महेश पुत्र सुजान सिंह हैं। इन्होंने पुलिस को बताया कि यूपी से चोरी करके गाड़ियां एमपी में बेचते थे और एमपी से चुराई गई गाड़ियां यूपी में। इनमें से बंटी के पास से एक तमंचा और दो कारतूस 315 बोर के बरामद किए गए। वहीं महेश के पास से एक तमंचा और तीन कारतूस बरामद किए गए।
ये गाड़ियां हुईं बरामद
इन बाइक चोरों के पास से मोटरसाइकिल टीवीएस ब्ल्यू ब्लैक कलर, मोटरसाइकिल एचपी डीलक्स, पैशन प्रो, हीरो होंडा पैशन प्लस काली नीली, हीरो एचएफ डीलक्स, हीरो स्मार्ट लाल काली, राजदूत काली और मोटर साइकिल पैशन प्रो बरामद की गई है।
इस बाइक चोर गिरोह को पकड़ने वाली पुलिस टीम में उप निरीक्षक बलवीर सिंह, उप निरीक्षक शिवम सिंह, शीलेंद्र भदौरिया, आकाश गंगवार, कुलदीप सिंह और वीर सिंह शामिल रहे। इस मामले में एसपी सिटी का कहना है कि पूछताछ के दौरान इनसे कई मामलों में महत्वपूर्ण जानकारी मिली है। इसके आधार पर कार्रवाई की जा रही है। जल्द ही कुछ और मामले खुलने की उम्मीद है।

Ad Block is Banned