जब जेल में पुलिस ने दी दबिश, तो वहां का नजारा देखकर रह गए दंग

जब जेल में पुलिस ने दी दबिश, तो वहां का नजारा देखकर रह गए दंग

BK Gupta | Publish: Jun, 14 2018 01:35:31 PM (IST) Jhansi, Uttar Pradesh, India

जब जेल में पुलिस ने दी दबिश, तो वहां का नजारा देखकर रह गए दंग

झांसी। जब पुलिस ने जिला कारागार में दबिश दी तो वहां का नजारा देखकर सभी दंग रह गए। वहीं, जेल में निरुद्ध आरोपियों से मिलाई करने आए छुटभैयों में हड़कंप मच गया। इनमें से कुछ को पुलिस ने पकड़ लिया और कुछ अपने वाहनों को छोड़कर भाग निकले। अब पुलिस ने इन वाहनों के माध्यम से इन लोगों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। वहीं पकड़े गए लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। ऐसा माना जा रहा है कि जेल में निरुद्ध मुन्ना बजरंगी जैसे माफिया डॉन समेत अन्य तमाम शातिर अपराधी अब गुर्गों से मिलाई करके दिशा-निर्देश जारी अपने गैंग संचालित करने की कोशिश में रहते हैं, क्योंकि जेल में हैवी जैमर लगा दिए जाने के बाद मोबाइल फोन काम नहीं करते।

ये है पुलिस अफसर का कहना

जिले के एसएसपी विनोद कुमार सिंह का कहना है कि जेल में मुन्ना बजरंगी बंद है। जेल में बंद होने के बावजूद उसकी फेसबुक संचालित होने और जौनपुर के एक चिकित्सक से फिरौती मांगे जाने का मामला सामने आया। इस मामले की जांच अभी चल ही रही है। इसके साथ ही रानीपुर का लेखराज सिंह यादव भी जेल में पहुंच गया है। ऐसी सूचनाएं मिल रही थी कि जेल में बंद बदमाश अपनी गैंग को जेल से संचालित करने में लगे हुए हैं। इसी तरह की सूचनाओं के चलते जेल में दबिश दी गई। इसमें कुछ बदमाश पकड़ में आ गए हैं और कुछ अपने वाहन छोड़कर भाग गए।

मोबाइल नेटवर्क के जैमर लगने से अपनाया नया रास्ता

गौरतलब है कि इन दिनों जेल से अपराधियों के मोबाइल संपर्क तोड़ने के लिए हैवी जैमर लगाए गए हैं। इसके बाद से अपराधियों ने अपनी रणऩीति भी बदल दी है। अब उन्होंने अपने गुर्गों से संपर्क के लिए मिलाई पर ध्यान केंद्रित किया है। ये अपराधी मिलने आने वाले गुर्गों के माध्यम से ही सूचनाओं का आदान-प्रदान करते हैं। उन्हें दिशा-निर्देश जारी करके आपराधिक वारदातों को अंजाम दिलाते हैं। इसी तरह की सूचनाओं के कारण जेल में यह आकस्मिक छापा मारा गया। यहां पकड़े गए लोगों से तमाम राज खुलने की संभावना जताई जा रही है।

 

Ad Block is Banned