महिलाओं के लिए है ये विशेष योजना, जांचों से लेकर इलाज तक सब कुछ मुफ्त

यूपी के 23 जिलों में चल रही है ये योजना

By: BK Gupta

Published: 28 Feb 2018, 04:14 PM IST

झांसी। महिलाओं के स्वास्थ्य को लेकर सरकार द्वारा प्रदेश के 23 जिलों में सम्पूर्णा क्लीनिक की योजना चलाई जा रही है। महिलाओं के गर्भाशय एवं स्तन कैंसर के साथ-साथ ब्लडप्रेशर, डायबिटीज़, मोटापा और खून की कमी का पता लगाने के लिए निशुल्क जांच की जाती है। यह योजना यहां जिला महिला चिकित्सालय में चलाई जा रही है। यहां पर महिलाओं में जांच के दौरान बीमारी का शीघ्र पता चलने पर दवा उपलब्ध कराई जाती है। अगर जांच में समस्या गंभीर पाई जाती है तो महिलाओं को मेडिकल में भी रिफर किया जाता हैं।

ये है क्लीनिक का उद्देश्य

इस क्लीनिक का उद्देश्य केवल रोगों की स्क्रीनिंग ही नहीं है बल्कि महिलाओं की जीवन शैली में सुधार एवं बच्चेदानी और स्तन कैंसर सहित गैर संचारी रोगों की रोकथाम के लिए भी महत्वपूर्ण है। जिला महिला चिकित्सालय, झांसी के क्वालिटी मैनेजर डा॰ गौरव सक्सेना ने बताते हैं कि जिस चीज के लिए महिलाएं कभी जागरूक नहीं थी आज संपूर्णा क्लीनिक के माध्यम से धीरे धीरे महिलाओं में इसकी जिज्ञासा बढ़ रही है। खासतौर पर 9 से 14 वर्ष तक की किशोरियों में टीकाकरण को लेकर जागरूकता बढ़ी है। उन्होंने बताया कि पिछले दस महीने में झांसी जिले के सम्पूर्णा क्लीनिक में 700 किशोरियों का ह्यूमन पेपिलोमा वायरस (एचपीवी) टीकाकरण किया जा चुका है। यह टीका किशोरियों को गर्भाशय ग्रीवा (cervical) कैंसर से सुरक्षित करता है। एचपीवी टीकाकरण 9 से 14 वर्ष तक कि किशोरियों को लगाया जाता है। पहले टीकाकरण के छह माह बाद इसकी दूसरी डोज़ दी जाती है इस टीकाकरण से किशोरियों में गर्भाशय के कैंसर का बचाव किया जाता है। यह टीका प्रत्येक बुधवार और शनिवार निःशुल्क लगाया जाता है।

सब कुछ है बिल्कुल मुफ्त

संपूर्णा क्लीनिक की डा॰ शैली साहू बताती हैं कि इसके तहत 30 से 60 साल तक की महिलाओं में गर्भाशय के कैंसर, स्तन कैंसर, मधुमेह, हाई ब्लडप्रेशर, खून की कमी एवं मोटापे की जांच की जाती है। यह प्रक्रिया पूरी तरह से निःशुल्क है और इसमें दवाइयों के लिए एक भी पैसा नहीं देना पड़ता । वीआईए (विज्वल इन्सपैक्शन विथ एसीटिक एसिड) के द्वारा गर्भाशय की जांच की जाती है जिससे कैंसर के लक्षणों का पता चलता है। इस वर्ष जनवरी माह में 237 महिलाओं की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। इनमें से 9 को शीघ्र उपचार के लिए चिन्हित किया गया।

BK Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned