एसटीएफ व पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, इन तीन शातिर बदमाशों को किया अरेस्ट

एसटीएफ व पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, इन तीन शातिर बदमाशों को किया अरेस्ट

By: BK Gupta

Published: 13 Mar 2018, 10:55 PM IST

झांसी। लखनऊ की स्पेशल टॉस्क फोर्स व झांसी पुलिस को अपराधियों की धरपकड़ में बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। दोनों की संयुक्त कार्रवाई के तहत तीन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें से दो पर पच्चीस-पच्चीस हजार रुपये का इनाम भी है। ये बदमाश यहां के सर्राफा कारोबारी राजू कमरया अपरहण कांड में वांछित थे। इनमें से एक बदमाश का तो लंबा-चौड़ा आपराधिक इतिहास है। उस पर राजस्थान व हरियाणा समेत अनेक स्थानों के पुलिस थानों में मुकदमे दर्ज हैं।

ऐसे हुई गिरफ्तारी

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जे के शुक्ल, पुलिस अधीक्षक नगर देवेश पांडेय और क्षेत्राधिकारी नगर जितेंद्र सिंह परिहार के नेतृत्व में अपराध और अपराधियों के विरुद्ध अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत एसटीएफ लखनऊ व कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। इसमें एसटीएफ लखनऊ के निरीक्षक संदीप मिश्रा और कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक अजय पाल सिंह पुलिस बल के साथ राजू कमरया अपरहणकांड के वांछितों की तलाश में जुटे हुए थे। तभी उन्हें रेलवे स्टेशन के आसपास बदमाशों के होने की सूचना दी गई। इस पर संयुक्त टीमों ने घेराबंदी करके हापुड़ जिले के संभावली थाना क्षेत्र के कुराना गांव के रहने वाले सतेंद्र उर्फ बब्बल प्रधान, फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ के सेक्टर 55 क्षेत्र में रहने वाले भूपेंद्र मलिक और बुलंदशहर जिले के बीबीनगर थाना क्षेत्र के अहमदानगर के रहने वाले नेत्रपाल उर्फ नीतू को गिरफ्तार कर लिया। इनमें से सतेंद्र उर्फ बब्बल प्रधान और भूपेंद्र मलिक पर एस एस पी झांसी द्वारा 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित था।

ये है बब्बल प्रधान का आपराधिक इतिहास

इसमें से सतेंद्र उर्फ बब्बल प्रधान पर सवाईमाधोपुर राजस्थान, हरियाणा, आगरा , हापुड़ समेत अनेक स्थानों के पुलिस थानों में मुकदमे दर्ज हैं। इन बदमाशों को पकड़ने वाली टीम में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अजय पाल सिंह के साथ ही एसटीएफ के निरीक्षक संदीप मिश्रा, निरीक्षक रणजीत राय, निरीक्षक बृजेंद्र शर्मा समेत पुलिस बल शामिल रहा।

BK Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned