इस यूनिवर्सिटी में शुरू हुआ युवा महोत्सव, 3 दिन में होंगी ये 26 प्रतियोगिताएं

इस यूनिवर्सिटी में शुरू हुआ युवा महोत्सव, 3 दिन में होंगी ये 26 प्रतियोगिताएं

Brij Kishore Gupta | Publish: Oct, 22 2018 10:08:05 PM (IST) | Updated: Oct, 22 2018 10:08:06 PM (IST) Jhansi, Uttar Pradesh, India

इस यूनिवर्सिटी में शुरू हुआ युवा महोत्सव, 3 दिन में होंगी ये 26 प्रतियोगिताएं

झांसी। बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय में आज से अन्तर महाविद्यालयीन युवा महोत्सव कलरव-2018 का रंगारंग आगाज विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति प्रो.वी.के.सहगल ने सांस्कृतिक शोभायात्रा को हरी झण्डी दिखाकर किया गया। शोभायात्रा में विभिन्न सांस्कृतिक परिधानों में छात्र-छात्राएं नृत्य कर रहे थे। शोभायात्रा का मुख्य फोकस बुन्देली संस्कृति पर रहा। इस तीन दिवसीय कलरव के अन्तर्गत आयोजित होने वाली सांस्कृतिक, साहित्यक, थियेटर एंव ललित कला की कुल 26 प्रतियोगिताओं का आयेाजन किया जाना है।
यहां शुरू हुईं विभिन्न प्रतियोगिताएं
विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता, छात्र कल्याण प्रो.देवेश निगम तथा उनके सहायक अधिष्ठाता छात्र कल्याण डा रेखा वर्मा लगरखा तथा डा.मुन्ना तिवारी के निर्देशन में सांस्कृतिक, साहित्यिक तथा ललित कला वर्गों में आयोजित होने वाली विभिन्न प्रतियेागिताओं का शुभारम्भ हो गया है। इसके अन्तर्गत नृत्य एवं संगीत की प्रतियोगितायें गांधी सभागार के मुख्य सभागार में, संगीत गायन एवं वादन की प्रतियोगिताएं गांधी सभागार के भूतल में, साहित्यिक वर्ग की प्रतियोगिताएं विज्ञान भवन के सभागर में तथा ललित कला वर्ग की प्रतियोगिताएं गांधी सभागार की गैलरी में ललित कला विभाग में आयोजित की गई। बुन्देलखंड विश्वविद्यालय परिसर स्थित गांधी सभागार में बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के तीन दिवसीय अन्तर महाविद्यालयीन युवा महोत्सव ‘कलरव-2018’ के उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता करते हुए बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति प्रो.वी.के.सहगल ने प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को शुभकामनाएं दी।
प्राचीन संस्कृति से जोड़ते हैं आयोजन
अन्तर महाविद्यालयीन युवा महोत्सव कलरव के उद्घाटन समारोह की मुख्य अतिथि झांसी मण्डल की आयुक्त कुमुदलता श्रीवास्तव ने कहा कि इस प्रकार के आयोजन हमारे छात्र-छात्राओं को हमारी प्राचीन संस्कृति से जोड़ते हैं। उन्होंने आह्वान किया कि विश्वविद्यालय ही नहीं बल्कि महाविद्यालय एवं माध्यमिक विद्यालयों के स्तर पर इस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये जाने चाहिये। वहीं, विशिष्ट अतिथि एवं विश्वविद्यालय के वित्त अधिकारी धर्मपाल ने कहा कि पाठ्य सहगामी इस प्रकार के आयोजनों से छात्रों में एक नई ऊर्जा का संचार होता है। कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि फिल्म निर्देशक श्रीमती शोभा सिंह ने कहा कि कलरव जैसे आयोजनों से विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं को अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर प्राप्त होगा।
विशिष्ट अतिथि एवं झांसी की उपजिलाधिकारी बान्या ने अपने विश्वविद्यालय में अध्ययन के समय को याद करते कहा कि प्रत्येक छात्र-छात्रा को इन कार्यक्रमों में प्रतिभाग करना चाहिये। उन्होंने कहा कि वे स्वयं भी अपने अध्ययन काल में इस प्रकार के कार्यक्रमों में प्रतिभाग करती थीं। आज के कार्यक्रम की शुरूआत मंचासीन अतिथियों के द्वारा मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलन एवं माल्यार्पण से हुई।
ये लोग रहे उपस्थित
कार्यक्रम का संचालन समन्वयक डा.रेखा लगरखा ने किया। इस अवसर पर मुख्य कुलानुशासक प्रो.आर.के.सैनी, प्रो. प्रतीक अग्रवाल, प्रो.एम.एम.सिंह, डा.पुनीत बिसारिया, डा.गजाला रिजवी, डा.ममता सिंह, डा.मीनाक्षी सिंह, डा.प्रकाश चन्द्र, डा.राधिका चौधरी, डा.अंजली सक्सेना, अंजू सिंह, डा.शिल्पा गुप्ता, डा.ईरा तिवारी, डा.शुभांगी निगम सहित विभिन्न विभागों के शिक्षक एवं शिक्षिकाएं उपस्थित रहे।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned