आ गया बीएसएनएल का सस्ता ऑफर

1499 मासिक प्लान में 300 एमबीपीएस, 1277 रुपए मासिक प्लान में 200 एमबीपीएस स्पीड, 777 मासिक प्लान में 100 एमबीपीएस और 449 मासिक प्लान में 30 एमबीपीएस डाटा स्पीड दी जा रही है।

By: Rajesh

Published: 25 Feb 2021, 10:48 PM IST

#bsnl offer in jhunjhunu

झुंझुनूं. बीएसएनएल की ओर से ऑप्टिकल फाइबर केबल माध्यम आधारित हाई स्पीड इंटरनेट सुविधा 'भारतफाइबर' अब बगड़ में भी शुरू हो गई है। महाप्रबंधक राकेश कुमार ने अन्य सभी शहरों और कस्बों में ये सेवा पहले ही शुरू की जा चुकी है। कुछ बड़े गांवों जैसे गुढ़ागौडज़ी, डूंडलोद, मलसीसर, अलसीसर, मेहाड़ा में भी भारत फाइबर की सेवा शुरू की जा चुकी है। जिले में भारत फाइबर उपभोक्ता संख्या 3000 से ऊपर हो चुकी है। बीएसएनएल भारतफाइबर इंटरनेट के द्वारा 300 एमबीपीएस तक की डाटा स्पीड दे रहा है। सभी उपभोकताओं की जरूरत के अनुसार अलग अलग टैरिफ प्लान उपलब्ध हैं।

#bsnl offer in jhunjhunu

1499 मासिक प्लान में 300 एमबीपीएस, 1277 रुपए मासिक प्लान में 200 एमबीपीएस स्पीड, 777 मासिक प्लान में 100 एमबीपीएस और 449 मासिक प्लान में 30 एमबीपीएस डाटा स्पीड दी जा रही है। साथ में सभी प्लान में ओएनटी टेलीफोन पोर्ट से असीमित लोकल एसटीडी वॉयस कॉलिंग की सुविधा भी दी जा रही है। इस दौरान सहायक महाप्रंधक झुंझुनू सुभाष चन्द्र आबूसरिया, एस डी ओ रमेश कुमार, जेटीओ रोहताश भी बगड़ दौरे पर महाप्रबंधक के साथ थे।

माघी पूर्णिमा 27 को, होगा दान पुण्य

झुंझुनूं. वर्षों बाद इस बार माघी पूर्णिमा पर शनिवार का विशेष संयोग बना है। यह पावन तिथि भगवान विष्णु को समर्पित है। इस दिन स्नान दान के साथ व्रत उपवास करना विशेष फलदाई बताया गया है। जो श्रद्धालु पिछले एक माह से नियमित माघ स्नान कर रहे हैं उनका समापन की 27 फरवरी को माघी पूर्णिमा के साथ हो जाएगा।
पंडित दिनेश मिश्रा ने बताया कि चंद्रमा के पूर्ण रूप में आने वाली तिथि को ही पूर्णिमा कहते हैं। यह तिथि हर माह में पड़ती है। ऐसे में इस बार माघ मास की पूर्णिमा तिथि 27 फरवरी, शनिवार को पड़ रही है। हिंदू धर्म में माघ मास की पूर्णिमा तिथि का विशेष महत्व माना जाता है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन दान और स्नान करने से बत्तीस गुना फल की प्राप्ति होती है, इसलिए इसे बत्तीसी पूर्णिमा भी कहा जाता है। पूर्णिमा तिथि भगवान विष्णु और चंद्रदेव को समर्पित की जाती है। यह तिथि बेहद शुभ मानी गई है।


ऐसा करें
इस दिन स्नानादि से निवृत्त होकर भगवान विष्णु का पूजन, पितरों का श्राद्ध और जरूरतमंदों को दान करने का विशेष फल है। भोजन, वस्त्र,तिल, कंबल, गुड़, कपास, घी, लड्डू, फल, अन्न, पादुका आदि का दान करना चाहिए।
पति-पत्नी को गाय के दूध से चंद्रमा को अघ्र्य देना चाहिए। इससे दंपत्य जीवन सुखमय रहता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned