सर्राफा व्यापारी जतिन सोनी का शव कलक्ट्रेट पर रखकर प्रदर्शन, स्टेट हाइवे जाम किया तो पुलिस के हाथ-पांच फूले

सर्राफा व्यापारी जतिन सोनी का शव कलक्ट्रेट पर रखकर प्रदर्शन, स्टेट हाइवे जाम किया तो पुलिस के हाथ-पांच फूले
सर्राफा व्यापारी जतिन सोनी का शव कलक्ट्रेट पर रखकर प्रदर्शन, स्टेट हाइवे जाम किया तो पुलिस के हाथ-पांच फूले

Jitendra Kumar Yogi | Publish: Oct, 11 2019 11:52:20 AM (IST) | Updated: Oct, 11 2019 11:52:21 AM (IST) Jhunjhunu, Jhunjhunu, Rajasthan, India

न्यू प्रकाश ज्वैलर्स पर डकैती की घटना को 15 सितंबर को दोपहर को अंजाम दिया गया। गुरुवार को 26 दिन पूरे हो गए और गोली लगने से घायल जतिन सोनी बुधवार को 25वें दिन मौत के आगे अपनी जिदंगी की जंग हार गया। परंतु पुलिस अभी तक छह में चार आरोपितों को ही पकडऩे में कामयाब हुई है। जबकि डकैती का मास्टर माइंड हिस्ट्रीशीटर योगेश चारणवासी व एक अन्य आरोपित विनोद अभी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।

झुंझुनूं. शहर के माननगर में रोड नंबर दो व तीन के बीच न्यू प्रकाश ज्वैलर्स में डकैती के दौरान डकैतों की गोली से घायल व्यापारी जतिन सोनी की मौत होने पर गुरुवार को लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। फरार आरोपी योगेश चारणवासी व अन्य की गिरफ्तारी नहीं होने से नाराज लोगों ने स्टेट हाइवे रोड नंबर तीन पर जाम लगाकर प्रदर्शन किया। यहां पर काफी देर पुलिस और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी के बाद आक्रोशित लोग नारेबाजी करते हुए पीरूसिंह सर्किल पर पहुंचे और हंगामा करने लगे। लोगों के विरोध प्रदर्शन और भीड़ को देखते हुए पुलिस प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। पीरूसिंह सर्किल पर अचानक हुए हंगामे पर पुलिस ने पशु चिकित्सक डा. अनिल खींचड़ समेत एक अन्य को हिरासत में लिया। आक्रोशित लोगों ने पीरूसिंह सर्किल पर शव रखकर प्रदर्शन करने का निर्णय लिया। परंतु पुलिस की ओर से शव को रोड नंबर दो होते हुए घर पहुंचा दिया। जब लोगों को पता चला कि जतिन का शव घर पहुंचा दिया गया है तब जाकर मामला एकबारगी शांत हुआ। घर पर अंतिम संस्कार की रस्मों के बाद जतिन सोनी का शव लेकर आक्रोशित लोग कलक्ट्रेट पहुंचे। जहां पर लोगों ने शव रखकर विरोध जताया। शव रखने की सूचना पर कलक्टर रवि जैन व एसपी गौरव यादव मौके पर पहुंचे। आश्वासन देकर लोगों को शांत किया।


यह रखी मांग
-परिवार को 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाए।
-पत्नी विद्या देवी को सरकारी नौकरी दी जाए।
-तीनों बच्चों को निशुल्क शिक्षा मुहैया कराई जाए।
-आरोपितों को तुरंत गिरफ्तार कर जल्द से जल्द चालान हो। सख्ती सजा के लिए मजबूत पैरवी की जाए।


एनकाउंटर पर दो लाख का इनाम
मुख्य आरोपित योगेश चारणवासी का एनकाउंटर करने पर समाज की तरफ से दो लाख रुपए इनाम में देने की घोषणा की। इस दौरान पुलिस प्रशासन पर दो फरार आरोपितों की गिरफ्तारी में जानबूझकर ढिलाई बरतने के आरोप लगाए।

पूरे जिले के बाजार रहे बंद
जतिन सोनी की मौत पर सुबह से शहर के नेहरू बाजार, ताल, गांधी चौक, माननगर में सर्राफा व्यापारियों समेत अन्य सभी प्रकार के प्रतिष्ठान बंद रहे। झुंझुनूं के अलावा चिड़ावा व सिंघाना में भी प्रतिष्ठान बंद रखे गए।

पत्नी हुई बेसुध
जतिन सोनी की मौत पर परिजनों व रिश्तेदारों का रो-रोकर बुरा हाल था। शोक में आए लोगों ने जतिन की माता जगदीश्वरी देवी, पिता चंद्रप्रकाश सोनी, भाई संदीप, पत्नी विद्या देवी व तीनों बच्चों हर्षित, विवेक व पुत्री नंदिनी को ढांढ़स बंधा रहे थे। पत्नी विद्या देवी तो शव देखकर बेसुध हो गई।

गुस्सा इसलिए; क्योंकि 26 दिन बाद मुख्य आरोपित पकड़ से दूर
न्यू प्रकाश ज्वैलर्स पर डकैती की घटना को 15 सितंबर को दोपहर को अंजाम दिया गया। गुरुवार को 26 दिन पूरे हो गए और गोली लगने से घायल जतिन सोनी बुधवार को 25वें दिन मौत के आगे अपनी जिदंगी की जंग हार गया। परंतु पुलिस अभी तक छह में चार आरोपितों को ही पकडऩे में कामयाब हुई है। जबकि डकैती का मास्टर माइंड हिस्ट्रीशीटर योगेश चारणवासी व एक अन्य आरोपित विनोद अभी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned