झुंझुनूं में होंगी 2 हजार शादियां

हलवाई, टेंट, डेकोरेशन, केटरिंग वालों व पंडितों से प्राप्त सर्वे के अनुसार झुंझुनूं जिले में देवउठनी पर करीब दो हजार से अधिक शादियां होने का अनुमान है।

By: Rajesh

Updated: 24 Nov 2020, 10:15 PM IST


#dev uthani ekadashi

झुंझुनूं. पहले लॉकडाउन और अब धारा 144 के बीच बुधवार से शादियां अनलॉक होंगी। तुलसी शालिग्राम के पवित्र विवाह के दिन से अनेक जोड़े शादियों के पवित्र बंधन में बंध जाएंगे। हलवाई, टेंट, डेकोरेशन, केटरिंग वालों व पंडितों से प्राप्त सर्वे के अनुसार झुंझुनूं जिले में देवउठनी पर करीब दो हजार से अधिक शादियां होने का अनुमान है।
पंडित दिनेश मिश्रा ने बताया कि 17 दिन में शादियों के 8 मुहूर्त हैं।
नवंबर में 3 और दिसंबर में 5 विवाह लग्न रहेंगे। यानी 17 दिन में 8 सावे रहेंगे। इसके बाद फिर लंबा ब्रेक लगेगा। 15 दिसंबर से धनु मलमास, फिर गुरु, शुक्र तारा अस्त, खर मलमास के कारण विवाह लॉक हो जाएंगे। अगले साल 25 अप्रेल को ही शादियां अनलॉक होंगी। कोरोना के चलते शादियों में ना पहले सी कोई धूमधाम है, ना तो उतने मेहमान और ना ही सड़कों पर बारात निकासी, घोड़ी और बैंडबाजा ही दिखेगा।

#dev uthani ekadashi
इस साल के विवाह मुहूर्त
नवंबर:
25, 27 और 30

दिसंबर: 1,7,9,10,11


श्रद्धालु रखेंगे व्रत और मंदिर में होंगे धार्मिक आयोजन
मिश्रा का कहना है कि देवउठनी एकादशी बड़ी एकादशी में से एक है इस एकादशी का व्रत करने से सभी 12 महीने की एकादशी की व्रत का फल मिल जाता है लिहाजा सभी आस्थावान लोग इस एकादशी का व्रत करेंगे उद्यापन करेंगे इसके अलावा मंदिरों में भी इस दिन धार्मिक आयोजन होंगे।


महंगी हुई सब्जियां
शादी के कारण मटर, टमाटर, गोभी, मिर्ची व अन्य सब्जियां प्रति किलो पांच से दस रुपए महंगी हो गई। सब्जी विक्रेताओं ने बताया कि सावे के कारण सब्जियों की मांग ज्यादा है, बाहर से सब्जियां कम आ रही है। मांग व आपूर्ति में अंतर होने के कारण सब्जियां महंगी हो गई है।

--------------------------------
बुजुर्गों को शादी से दूर रखें
इधर डॉक्टरों ने सलाह दी है कि बुजुर्गों, 15 साल से कम उम्र के बच्चों व बीमारियों से ग्रस्त लोगों को शादी विवाह से दूर रखें।

-----------------------
यह है सरकारी नियम
-सौ से ज्यादा व्यक्ति शादी में शामिल नहीं हो सकते।
-आयोजकों को वीडियोग्राफी करवानी होगी।
-शादी के अनुमति की जरूरत नहीं है, लेकिन उपखंड कार्यालय में इसकी सूचना देना अनिवार्य है।
-प्रशासन की टीम कभी भी औचक निरीक्षण कर सकती है।
-जुर्माना व केस का प्रावधान।
- हर व्यक्ति को मास्क लगाना अनिवार्य।
-सोशल डिस्टेंस की पालना करनी होगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned