शेखावाटी में पेयजल की जबरदस्त किल्लत, पीने के पानी के लिए त्राही त्राही, पढ़े ये ग्राउंड रिपोर्ट

गर्मी शुरू होने के साथ ही जिले में पेयजल संकट की स्थिति होने लगी है। कई जगह लोगों को पीने का भी पर्याप्त पानी नहीं मिल रहा है।

By: Vinod Chauhan

Published: 25 Apr 2018, 12:13 PM IST

झुंझुनूं.

गर्मी शुरू होने के साथ ही जिले में पेयजल संकट की स्थिति होने लगी है। कई जगह लोगों को पीने का भी पर्याप्त पानी नहीं मिल रहा है। जितनी जरूरत है उसके अनुसार पानी की आपूर्ति नहीं हो रही है। विभागीय लापरवाही का आलम यह है कि कई जगह पानी के स्टोरज टैंक एवं अन्य आपूर्ति के संसाधन क्षतिग्रस्त है फिर भी इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।ऐसे में आने वाले दिनों में जिले में पेयजल का संकट गहरा सकता है। वर्तमान में खेतड़ी में पांच से छह दिन में जलापूर्ति हो रही है।


पहाड़ी क्षेत्र में त्राही त्राही
पचलंगी. सरकार जहां गर्मी के आते ही पेयजल का करोड़ों का बजट बनाती है वही उदयपुरवाटी पहाड़ी क्षेत्र के गांव व ढाणीयों में लोग इस भीषण गर्मी में पीने के पानी के लिये इधर उधर चक्कर लगा रहे है। पचलंगी में पेयजल पर विभाग की ओर से लाखों खर्च के बाद जलदाय विभाग की पेयजल सप्लाई से माह में तीन - चार दिन ही मिलता है। पेयजल के लिए पंप हाउस व बोरिंग बनी हुई है लेकिन लोगों को पीने का पानी नहीं मिल रहा है। पेयजल का गांव व ढ़ाणीयों में एक मात्र स्रोत हैडपंप है वो भी क्षेत्र में दर्जनों की संख्या में खराब पड़े है। गर्मी परवान पर है लेकिन विभाग के द्वारा टैंकरों की व्यवस्था नहीं की है।


यहां आते हैं महज बिल
जोधपुरा गांव में गांव की सरपंच बिमला मीणा की माने तो सप्लाई के लियेे चार बोङ्क्षरग लगी हुई लेकिन एक भी काम की नहीं है। लोगो के घर पानी के बिल आते है लेकिन पानी नही क्षेत्र में कई हैडपंप 2 माह से खराब पड़े है इस की शिकायत प्रशासन सहित राजस्थान पोर्टल पर ऑन लाइन भी दर्ज करवा दी लेकिन समस्या का समाधान तो नहीं हुआ।


बागोली में भी समस्या
बागोली में जलदाय विभाग की सप्लाई है सरपंच गायत्री कंवर ने बताया की दो बोरिंग काम रही है लेकिन जलस्तर नीचे जाने पर तीन दिन से पीने का पानी मिलता है सरपंच का आरोप हैकि ढ़ाणीयों के लिये पेयजल कि लिये बोङ्क्षरग स्वीकृत है लेकिन नही लग पा रही है वही सीकर सिरोही सीमा पर बसा कैरोठ गांव के लोग को सिरोही से पीने का पानी लाना पड़ता है।


एक चौथाई पानी भी नहीं पहुंच रहा
उदयपुरवाटी ञ्च पत्रिका. कस्बे सहित आसपास के इलाके में पेयजल व्यवस्था अधर में है। आगामी गर्मी के मौसम को देखते हुए भी विभाग की ओर से तैयारी दिखाई नहीं दे रही है। पीएचईडी विभाग फिलहाल प्रति व्यक्ति की आवश्यकता के मुकाबले एक चौथाई पेयजल भी नहीं दिया जा रहा है। कस्बे में 135लीटर प्रति व्यक्ति पेयजल की आवश्यकता है लेकिन हालात बिल्कुल विपरित हैं अभी प्रति व्यक्ति सिर्फ 25लीटर पानी मिल पा रहा है। 33 हजार से अधिक आबादी वाले उदयपुरवाटी पालिका क्षेत्र में 33सौ कनेक्शन हैं। पानी के संग्रहण की कोई व्यवस्था ना होने की वजह से 11क्षेत्रों में सीधी आपूर्ति करनी पड़ रही है। जिसमें जमात के पंप हाउस से 7लाइन व बस स्टैंड स्थित पंप हाउस से 4 लाइनों में पेयजल सप्लाई की जा रही है। कस्बे के अधिकांश इलाकों में दो दिन में एक बार आपूर्ति होती है लेकिन सात बत्ती इलाके में तीन दिन से एक बार सप्लाई हो रही है।

Vinod Chauhan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned