लादूसर की युवती ने रात को फोन कर युवक को गांव बुलाया, फिर दोस्तों से अपहरण करवाकर 2 लाख मांगे

. लादूसर गांव की एक युवती ने एक युवक को अपने जाल में फंसाया। पहले उससे मीठी-मीठी बात कर रात को लादूसर गांव में बुला लिया। फिर अपने दोस्तों को बुलाकर उसका अपहरण करवा लिया। फिर झूंठा मामला दर्ज करवाने की धमकी देकर दो लाख रुपए मांगे।

By: Rajesh

Published: 07 Mar 2020, 09:50 PM IST

एक और हनीट्रेप
पिलानी(झुंझुनूं). लादूसर गांव की एक युवती ने एक युवक को अपने जाल में फंसाया। पहले उससे मीठी-मीठी बात कर रात को लादूसर गांव में बुला लिया। फिर अपने दोस्तों को बुलाकर उसका अपहरण करवा लिया। फिर झूंठा मामला दर्ज करवाने की धमकी देकर दो लाख रुपए मांगे। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पीडि़त को आरोपियों के चंगुल से मुक्त करवा लिया है। पुलिस महिला की तलाश कर रही है।

थानाधिकारी मदन लाल कड़वासरा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी चिड़ावा निवासी विजय नायक, चिड़ावा निवासी एवं हाल झुंझुनू आबाद संदीप स्वामी, हरियाणा के फतियाबाद क्षेत्र के गांव टीबी भूना निवासी बजरंग विश्नोई, सीकर जिले के मूण्डवाडा निवासी मंणकचंद कुमावत हैं। मामले का मुख्य आरोपी अजय भी दूसरे दिन पकड़ा गया।
थानाधिकारी कड़वासरा ने बताया कि इस संबंध में काजड़ा निवासी विजय सिंह राजपूत ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। रिपोर्ट में लिखा था कि उसके भाई दिनेश को एक युवती ने हनीट्रेप में फंसाकर 4 मार्च की रात को लादूसर बुला लिया। फिर युवती के साथियों ने उसे गलत आरोप लगाकर पकड़ लिया। अब उसे छोडऩे के बदले दो लाख रुपए मांग रहे हैं। पुलिस ने आरोपियों का पीछा कर सुलताना के बास के पास में सड़क के पास खड़ी एक बिना नम्बर की स्विफ्ट कार में बैठे आरोपियों को गिरफ्तार कर पीडि़त को छुड़ा लिया। पांचों आरोपी पुराने मित्र हैं तथा हनीट्रैप में फंसाने के लिए षडयंत्र रचकर लादूसर की युवती से दिनेश की बात की करवाई थी। कुछ दिन बाद लड़की से फोन करवा कर पीडि़त दिनेश को मिलने के बहाने चार मार्च को मलसीसर क्षेत्र के गांव लादूसर बुलाया था। यह युवती मनीषा अजय की परिचित है।


हनीट्रेप में फंसाने का मुख्य आरोपी गिरफ्तार
पिलानी. महिला मित्र से मिल कर हनीट्रैप के आरोप में फंसाने के मुख्य आरोपी को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपित मलसीसर निवासी अजय कुमार है। थानाधिकारी मदन लाल कड़वासरा ने बताया कि आरोपित अजय झुंझुनूं एक एक स्थान पर छुपा हुआ था। पीडि़त युवक को फोन करने वाली लादूसर निवासी लड़की का दोस्त अजय कुमार ने ही सारी योजना बनाई थी। गौरतलब है कि लादूसर निवासी एक युवती मनीषा ने काजड़ा निवासी दिनेश से फोन मीठी मीठी बातें कर अपने पास बुलाया था। बाद में लड़की के दोस्त अजय कुमार ने अपने दोस्तों के साथ मिल कर युवक को हनीट्रैप में फंसाने की धमकी देते हुए अपहरण कर लिया था तथा छोडऩे के बदले में दो लाख रुपए मांगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned