देवरोड़ के जवान ने सर्विस रायफल से खुद को गोली से उड़ाया

इंदौर में कैट के वॉच टॉवर पर तैनात था देवरोड का अनिल, 2017 में हुआ था भर्ती, अनिल के पिता करते हैं मजदूरी, सगाई भी हो चुकी

By: Jitendra

Published: 01 Mar 2020, 04:00 AM IST

झुंझुनूं/इंदौर. अतिसुरक्षित क्षेत्र राजा रमन्ना प्रगत प्रौद्योगिकी केंद्र,आरआर कैट के 50 फीट ऊंचे वॉच टॉवर पर तैनात सीआइएसएफ आरक्षक ने शनिवार को खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। वायरलेस सेट पर दोपहर 11.45 बजे अधिकारी को ओके रिपोर्ट देने के बाद घटना को अंजाम दिया। दोपहर में ड्यूटी बदली के लिए दूसरा आरक्षक टॉवर पर पहुंचा तो घटना का पता चला। सूचना पर राजेंद्र नगर पुलिस मौके पर पहुंची। टीआइ सुनील शर्मा के मुताबिक सेंट्रल इंडस्ट्रीयल सिक्योरिटी फोर्स (सीआइएसएफ) आरक्षक अनिल कुमार(24) पुत्र जिले सिंह निवासी देवरोड, पिलानी ने ड्यूटी के दौरान सर्विस रायफल से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। अनिल 2017 से सीआइएसएफ में था। एक वर्ष से वह आरआर कैट के वॉच टॉवर पर ड्यूटी कर रहा था। शनिवार सुबह 5 से दोपहर 1 बजे तक ड्यूटी थी। दोपहर 1 बजे बदली पर 50 फीट ऊंचे वॉच टॉवर पर दूसरे आरक्षक पहुंचाए तो अनिल कुर्सी पर मृत हालत में मिला। अनिल ने सर्विस रायफल से गर्दन पर गोली चलाकर खुदकुशी की। एसपी पश्चिम महेशचंद्र जैन मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि आरक्षक को कोई व्यक्तिगत परेशानी नहीं थी। दिसंबर में ही छुट्टी से लौटा था।

वायरलेस सेट पर चर्चा के बाद उठाया कदम
आरक्षक अनिल कुमार ने दोपहर साढ़े बारह बजे वायरलेस सेट पर ऑफिशियल संपर्क किया। करीब साढ़े बारह से 1 बजे के बीच उसने खुद को गोली मारी। घटनास्थल से सुसाइड नोट नहीं मिला। मृतक ने सीधे हाथ से एक गोली चलाई। वहां से उनका मोबाइल बरामद किया है। पैटर्न लॉक होने से मोबाइल अनलॉक नहीं हुआ। आत्महत्या का कारण अज्ञात है। आरक्षक के परिजन ने बताया अनिल की शादी नहीं हुई है। उनके दो भाई भारत-तिब्बत सीमा पुलिस में हैं और जम्मू में पदस्थ हैं। वे शहर आ रहे है। परिवार के पहुंचने पर पोस्टमॉर्टम कराएंगे।

Jitendra Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned