बच गए एसबीआई के 15 लाख रुपए

गुढागौडज़ी. टीटनवाड़ गांव में मुख्य बाजार के पास एसबीआइ बैंक शाखा के बाहर लगे एटीएम को दो अज्ञात लुटेरों ने तोड़कर उसमें से रुपये निकालने का प्रयास किया है। घटना गुरूवार रात सवा दो बजे की है। उस दौरान दो नकाबपोश लुटेरे एटीएम को लूटने के प्रयास से वहां आए। वारदात से पहले ही उन लुटेरों ने आसपास के करीब आठ दस घरों के मैन दरवाजों को बाहर से कुंडी लगाकर बंद कर दिया।

By: Datar

Published: 23 Jan 2021, 12:18 PM IST

बच गए एसबीआई के 15 लाख रुपए

- टीटनवाड़ में चोरों ने एटीएम लूटने का किया प्रयास
-आसपास के घरों के दरवाजों को किया बाहर से बंद
- गैस कट्टर से शटर के ताले व एटीएम का दरवाजा तोड़ा,लेकिन कैश केबिन नहीं टूटा तो रुपये निकालने में नहीं हुए सफल

गुढागौडज़ी. टीटनवाड़ गांव में मुख्य बाजार के पास एसबीआइ बैंक शाखा के बाहर लगे एटीएम को दो अज्ञात लुटेरों ने तोड़कर उसमें से रुपये निकालने का प्रयास किया है। घटना गुरूवार रात सवा दो बजे की है। उस दौरान दो नकाबपोश लुटेरे एटीएम को लूटने के प्रयास से वहां आए। वारदात से पहले ही उन लुटेरों ने आसपास के करीब आठ दस घरों के मैन दरवाजों को बाहर से कुंडी लगाकर बंद कर दिया। उसके बाद गैस कटर की मदद से एटीएम मशीन के बाहर लगे शटर के तालेे तोड़े और एटीएम के अंदर प्रवेश कर गए। चोरों ने बहुत चालाकी से शटर के अंदर लगे कांच के दरवाजे को खोलकर अंदर एटीएम मशीन के नीचे वाले भाग को भी खोलने में भी सफल हो गए। लेकिन एटीएम मशीन का कैश केबिन नहीं टूटने के कारण वे रुपये निकालने में सफल नहीं हुए। यह पूरा वाकया गुरूवार रात दो से तीन बजे के बीच का है। वारदात के समय घटना की किसी को भी भनक नहीं लगी। जिसके बाद आरोपी लूट करने का अपना असफल प्रयास करके वहां से चले गए। शाखा प्रबंधक नरपत सिंह शेखावत ने बताया कि उन्होंने बैंक शाखा से ही 20 जनवरी को एटीएम में 15 लाख रुपये डाले थे। जिसके अगले ही दिन चोरों ने एटीएम लूटने का प्रयास किया। इस सम्बंध में शाखा प्रबंधक ने गुढागौडज़ी थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला भी दर्ज करवाया है।

सुबह पड़ौस के लोगों ने दी बैंककर्मियों को सूचना:

बैंक के पास ही बाबुलाल जांगिड़, दिनेश जांगिड़, हेतराम जांगिड़ व ओमप्रकाश सोनी आदि के घर है जिनके घरों के दरवाजों को चोरों ने घटना से पहले बाहर से कुंडी लगाकर बंद कर दिया था। बाबूलाल जांगिड़ ने बताया कि शुक्रवार सुबह करीब साढे सात बजे उनके पड़ौस की वृद्ध महिला उर्मिला मंदिर से वापिस अपने घर लौट रही थी। उसने देखा कि एटीएम मशीन का आधा शटर खुला हुआ है तथा पास में ही सीसीटीवी कैमरा टूटा हुआ पड़ा है। जिसकी सूचना उसने बाबूलाल को दी। बाबूलाल ने उसके बाद घटना की जानकारी बैंककर्मियों को दी।

एमओबी की टीम ने जुटाए साक्ष्य:

बैंककर्मियों ने उक्त घटना की जानकारी गुढागौडज़ी पुलिस को दी, जिसके बाद घटनास्थल पर पुलिस पहुंची। शुक्रवार दोपहर अज्ञात चोरों के साक्ष्य जुटाने झुंझुनूं से एमओबी की टीम भी वहां पहुंची। टीम में एएसआई सत्यवीर जांगिड़,संदीप कुमार,$हैडकांस्टेबल कृष्ण कुमार थे, जिन्होंने घटनास्थल का निरीक्षण कर साक्ष्य जुटाएं। उस दौरान उन्होंने अज्ञात चोरों के सीसीटीवी फुटेज भी लिए। एमओबी टीम के सत्यवीर जांगिड़ ने बताया कि घटनास्थल से अज्ञात चोरों की फिंगर प्रिंट सहित अन्य जरूरी साक्ष्य जुटाए है तथा जांच करके जल्द ही आरोपियों की पहचान कर ली जाएगी।

एटीएम में नहीं बजा सायरन,गार्ड भी नहीं

बैंक मैनेजर नरपतसिंह शेखावत सहित फिलहाल बैंक में तीन कर्मचारी ही कार्यरत है। ग्रामीणों ने बताया कि यहां काफी समय से गार्ड का पद खाली पड़ा है। एटीएम मशीन में लगा सायरन भी वारदात के समय नहीं बजा। जिसके कारण आसपास के किसी व्यक्ति को भी घटना की भनक नहीं लगी।

पिछले साल शाखा में किया था चोरी का प्रयास

बैंककर्मियों ने बताया कि पिछले साल भी चोरों ने शाखा में चोरी करने का प्रयास किया था। उस दौरान चोरों ने शाखा का दरवाजा तोड़कर अंदर घुसने का प्रयास किया था। सायरन बजने के कारण पड़ौस के लोगों को पता चल गया था। जिसके कारण वे चोरी करने में सफल नहीं हुए थे।

बच गए एसबीआई के 15 लाख रुपएबच गए एसबीआई के 15 लाख रुपएबच गए एसबीआई के 15 लाख रुपए

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned