भोपालपुरा गांव में नहीं बनेगी हथकढ़ शराब

बुहाना. उपखंडके भोपालपुरा गांव के लोगों ने मंगलवार को अनूठी पहल शुरू करते हुए शराब जैसी कुरीति से छुटकारा पाने की पहल की। गांव के सार्वजनिक चौक में पुलिस अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में हुई बैठक में ग्रामीणों से सामूहिक रूप से निर्णय लेते हुए हथकढ़ शराब नहीं बनाने एवं नहीं पीने का संकल्प लिया। हथकढ़ शराब नहीं बनाने एवं पीने पर रोक का निर्णय ग्रामीण युवाओं की पहल पर लिया गया।

By: Datar

Updated: 24 Feb 2021, 12:06 PM IST

बुहाना. उपखंडके भोपालपुरा गांव के लोगों ने मंगलवार को अनूठी पहल शुरू करते हुए शराब जैसी कुरीति से छुटकारा पाने की पहल की। गांव के सार्वजनिक चौक में पुलिस अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में हुई बैठक में ग्रामीणों से सामूहिक रूप से निर्णय लेते हुए हथकढ़ शराब नहीं बनाने एवं नहीं पीने का संकल्प लिया। हथकढ़ शराब नहीं बनाने एवं पीने पर रोक का निर्णय ग्रामीण युवाओं की पहल पर लिया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार बुहाना पंचायत समिति के भिर्र ग्राम पंचायत के अधीन आने वाले भोपालपुरा गांव में कुछ लोग हथकढ़ शराब बनाने एवं बेचने का कार्य पिछले चार दशक से अधिक समय से करते आ रहे है। हथकढ़ शराब बनाने एवं बिक्री करने के कारण गांव में आस-पास के लोग शराब पीने आते थे। गांव में हथकढ़ शराब बनने के कारण दिन-प्रतिदिन महौल बिगड़ रहा था। हथकढ़ शराब निकालने वाले लोगों को समाज की मुख्य धारा से जोडऩे के लिए थाना प्रभारी गोपाल सिंह के नेतृत्व में युवाओं ने पहल शुरू की। ग्रामीणों से बातचीत के बाद सर्वसम्मति से मंगलवार को बैठक बुलाने का निर्णय लिया गया। बैठक में सर्व सम्मति से हथकढ़ शराब नहीं बनाने एवं शराब का सेवन नहीं करने का निर्णय लिया गया। बैठक में वृताधिकारी ज्ञानसिंह चौधरी, थाना प्रभारी गोपालसिंह, पंचायत समिति सदस्य ईश्वर ङ्क्षसह मान, सरपंच शीशराम, सुभाषचंद, संजय यादव, आबकारी विभाग के मामचंद यादव सहित गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति में गांव में हथकढ़ शराब नहीं बनाने एवं पीने का निर्णय लिया गया। संचालन हवासिंह ने किया।

रोजगार उपलब्ध कराने के होंगे प्रयास :
बुहाना. भोपालपुरा गांव में हथकढ़ शराब बनाने वाले लोगों को समाज की मुख्यधारा से जोडऩे के लिए रोजगार मुहैया कराया जाएगा। हथकढ़ शराब बनाने वाले लोगों को रोजगार दिलाने के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, मनरेगा सहित अन्य योजनाओं से जोड़कर लाभान्वित किया जाएगा। योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए पुलिस महकमे के अधिकारी भी ग्रामीणों एवं प्रशासन के बीच सेतु का कार्य करेंगे।

दूध पिलाकर किया स्वागत :
बुहाना. हथकढ़ शराब नहीं बनाने एवं शराब सेवने से दूर रखने के लिए मंगलवार को पुलिस अधिकारियों ने ग्रामीणों को दूध पिलाया। वृताधिकारी ज्ञानसिंह चौधरी एवं थाना प्रभारी गौपाल सिंह ने ग्रामीणों को दुध पिलाकर शराब से दूरी बनाए रखने का संदेश दिया। पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में ग्रामीणों ने हथकढ़ शराब बनाने में उपयोग आने वाले सामान को नष्ट किया।

फैक्ट फाईल :
बुहाना. 2011 की जनगणना के अनुसार भोपालपुरा गांव की कुल जनसंख्या 698 है। गांव में 371 पुरूष एवं 327 महिला है। औसत साक्षरता दर 74.79 है। गांव में घरों की संख्या 119 है। एसी के कुल 585 महिला एवं पुरूष है।

भोपालपुरा गांव में नहीं बनेगी हथकढ़ शराब

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned