scriptmanju bala swami jhunjhunu | कॉमनवेल्थ में खेलेगी झुंझुनं की मंजूबाला, देसी दूध व घी खाओ, फिट रहोगे | Patrika News

कॉमनवेल्थ में खेलेगी झुंझुनं की मंजूबाला, देसी दूध व घी खाओ, फिट रहोगे

देसी दूध, छाछ व घी खाओ। बाजार की खाद्य सामग्री से दूरी बनाकर रखो। फल खाएं और ड्राई फू्रट्स भी लें। नेचूरल खानपान से खिलाड़ी लम्बे समय तक फिट रह सकता है।

झुंझुनू

Published: April 09, 2022 07:02:55 pm

#manju bala swami jhunjhunu

झुंझुनूं. राजस्थान के झुंझुनूं जिले के लाडूंदा गांव की रहने वाली अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी मंजू बाला स्वामी अब कॉमनवेल्थ गेम्स में खेलेगी। केरल में आयोजित 25 वें सीनियर फैडरेशन कप एथलेटिक मीट में 64.01 मीटर दूर हैमर फेंककर रजत पदक जीता। इसी के साथ मंजू का चयन कॉमनवेल्थ खेलों के लिए हो गया है। कॉमनवेल्थ खेल बर्मिंघम इंग्लैण्ड में 27 जुलाई 2022 से होंगे। इसके अलावा मंजू का चयन एशियन गेम्स के लिए भी हुआ है। एशियन गेम्स चीन के हांगझोऊ शहर में 10 से 25 सितम्बर 2022 तक होंगे। मंजू के चयन पर ओलम्पिक खिलाड़ी सपना पूनिया, कोच परवीर सिंह, सुबदीप सिंह, अनिल पूनिया, नीरज झारोड़ा, जिला खेल अधिकारी राजेश ओला, सुभाष योगी व अन्य ने बताया कि मंजू की मेहनत देश को विश्व स्तर पर पदक दिलाएगी।
चयन के बाद पत्रिका ने उनसे बात की, पेश है प्रमुख अंश।
कॉमनवेल्थ में खेलेगी झुंझुनं की मंजूबाला, देसी दूध व घी खाओ, फिट  रहोगे
कॉमनवेल्थ में खेलेगी झुंझुनं की मंजूबाला, देसी दूध व घी खाओ, फिट रहोगे
सवाल: पहले भी 2014 में एशियन गेम्स में देश को कांस्य पदक दिलाया था, इस बार कैसी तैयारी है?
जवाब: निरंतर मेहनत कर रही हूं। ईश्वर ने साथ दिया और देशवासियों की दुआ रही तो अच्छा ही परिणाम आएगा।
सवाल: एशियन गेम्स का रेकॉर्ड कितना था?
जवाब: मैंने वर्ष 2014 में इंचियोन (साउथ कोरिया) में आयोजित एशियन गेम्स में 60.47 मीटर हैमर थ्रोकर कांस्य पदक जीता था।


सवाल: आगे की तैयारी?
जवाब: पहले मैंने पटयाला तैयारी की, अब जयपुर कर रही हूं।
सवाल: युवाओं को संदेश?
जवाब: खेलों के साथ पढाई भी करें। जो सपना पालो उसके लिए उतनी ही मेहनत जरूरी है। मेहनत लम्बे समय तक करनी पड़ेगी। ईमानदारी से समय देना पड़ेगा। सफलता के पीछे लम्बा संघर्ष होता है।
सवाल: खिलाडिय़ों की डाइट कैसी हो?
जवाब: देसी दूध, छाछ व घी खाओ। बाजार की खाद्य सामग्री से दूरी बनाकर रखो। फल खाएं और ड्राई फू्रट्स भी लें। नेचूरल खानपान से खिलाड़ी लम्बे समय तक फिट रह सकता है।
सवाल: पीहर व ससुराल का सहयोग?
जवाब: पीहर चूरू जिले के राजगढ़ के पास चांदगोठी में है, जबकि ससुराल पिलानी के पास लाडूंदा में है। दोनों ही जगह से मुझे पूरा सहयोग मिलता है।

#manju bala swami jhunjhunu
---------------------------
जानिए क्या है कॉमनवेल्थ
कॉमनवेल्थ खेल की शुरुआत वर्ष 1930 में हुई थी। यह हर चार साल बाद होते हैं। पिछले राष्ट्रमंडल खेलों में 71 देशों के खिलाडिय़ों ने हिस्सा लिया था। वर्ष 2010 में नई दिल्ली में कॉमनवेल्थ खेल हुए थे। इनको राष्ट्रमंडल खेल भी कहते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Assam Flood: असम में बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही, स्टेशन डूबे, पानी के बहाव में ट्रेन तक पलटीकांग्रेस के बाद अब 20 मई को जयपुर में भाजपा की राष्ट्रीय बैठक, ये रहा पूरा कार्यक्रमTRAI के सिल्वर जुबली प्रोग्राम में PM मोदी ने लॉन्च किया 5G टेस्ट बेड, बोले- इससे आएंगे सकारात्मक बदलावपूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिंदबरम के बेटे के घर पर CBI की रेड, कार्ति बोले- कितनी बार हुई छापेमारी, भूल चुका हूं गिनतीकुतुब मीनार और ताजमहल हिंदुओं को सौंपे भारत सरकार, कांग्रेस के एक नेता ने की है यह मांगकोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्टपूनियां हत्याकांड में बड़ा अपडेट : चौथे दिन भी नहीं हुआ पोस्टमार्टम, शव उठाने को लेकर मृतक के भाई के घर पर चस्पा किया नोटिसहरियाणा: हरिद्वार में अस्थियां विसर्जित कर जयपुर लौट रहे 17 लोग हादसे के शिकार, पांच की मौत, 10 से ज्यादा घायल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.