विधायक ने मुझे धमकी दी-ललिता ऐसी कोई घटना ही नहीं हुई-रीटा

वहीं मंडावा विधायक रीटा चौधरी का कहना है ऐसी कोई घटना नहीं हुई। ना ही कोई विवाद हुआ। सभी आरोप बेबुनियाद हैं। उन्होंने शिकायत क्यों दी है, मुझे पता नहीं है।

By: Rajesh

Published: 24 Nov 2020, 04:31 PM IST

मलसीसर. गोखरी ग्राम पंचायत सरपंच ललिता खींचड ने राजस्थान के झुंझुनूं जिले के मण्डावा क्षेत्र से विधायक रीटा चौधरी व एक अन्य के खिलाफ अभद्र व्यवहार करने व जान से मारन की धमकी देने की शिकायत थाने में दी है। वहीं मंडावा विधायक रीटा चौधरी का कहना है ऐसी कोई घटना नहीं हुई। ना ही कोई विवाद हुआ। सभी आरोप बेबुनियाद हैं। उन्होंने शिकायत क्यों दी है, मुझे पता नहीं है।

#mla reeta and lalita khinchar


लिखित शिकायत में बताया कि गोखरी सरपंच ललिता खींचड चुनाव सम्पन्न होने के बाद अपने कार्यालय में जा रही थी। उसी समय अचानक रीटा चौधरी ने अपनी कार उसकी कार के सामने लगाकर रोक दी। जिसके बाद रीटा चौधरी व उसके साथ उसके पीए शिवराम ने उसे गाड़ी से नीचे उतार लिया व अभद्र व्यवहार करने लगे। इस दौरान रीटा चौधरी ने ललिता खींचड से कहा कि तूने चुनाव जीतने के लिए हरियाणा से गुंडे बुला रखे हैं व कार्यालय में हथियार छुपा रखे हैं। शिकायत में लिखाया है कि विधायक रीटा चौधरी ने ललिता खींचड, उसके पति विजेन्द्र खींचड उर्फ टीलिया, ललिता के देवर निवर्तमान प्रधान गिरधारी लाल खींचड को जान से मारने की धमकी दी है।

इनका कहना है
चुनाव के दौरान दोनों पक्षों में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी जिस पर वार्ड 15 के उम्मीदवार गिरधारी लाल खींचड की भाभी गोखरी सरपंच ललिता खींचड ने मण्डावा विधायक रीटा चौधरी व उनके गनमैन के खिलाफ अभद्र व्यवहार करने व जान से मारने की धमकी देने की शिकायत दी है। मामले की जांच की जाएगी। इसके बाद रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।
-नीलकमल, पुलिस उपाधीक्षक

मतदाताओं को पिलाने के लिए आई शराब जब्त, दो गिरफ्तार

झुंझुनूं. जिला स्पेशल टीम ने कार्रवाई कर बोलेरो में भरी 29 कार्टन शराब जब्त कर दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एसपी जगदीशचंद्र शर्मा ने बताया कि पंचायतीराज चुनाव में अवैध शराब तस्करी की शिकायतों के दौरान मुखबीर की सूचना पर गांव स्वामी सेही से पिचानवा जाने वाले कच्चे रास्ते पर नाकाबंदी की गई। इस दौरान एक सफेद रंग की बोलेरो जीप पिचानवा की तरफ से आती दिखाईदी तो पुलिस जाब्ते को देखकर जीप को आरोपी वापस घुमाकर भागने लगे। इस पर पीछा किया तो जीप में बैठे एक चालक व एक अन्य व्यक्ति बोलेरो को छोड़कर भागने लगे कि इस पर पुलिस गाडिय़ों से घेरकर दोनों आरोपियों को दबोच लिया। जब बोलेरो की जांच की गईतो उसमें 29 कार्टन शराब के भरे मिले। पुलिस ने बोलेरो व शराब के कार्टन जब्त कर आरेपी दिनेशकुमार जाट (34) निवासी भैसावता खुर्द व धर्मेन्द्र जाट (35) निवासी मैनाना को गिरफ्तार कर लिया। दोनों के खिलाफ राजस्थान आबकारी अधिनियम के तहत मामला कर शराब कहां से लाई गई इसकी पूछताछकी जा रही है।

ये रहे टीम में शामिल
डीएसटी टीम के कल्याणसिंह, सत्यनारायण, शीशकांत, प्रदीप डागर, अजय भालोठिया, प्रदीप बिजारिणया, विक्रम, सुरेंद्र, सुनील आदि शामिल रहे।

दिनेशकुमार के खिलाफ हैं कई मामले दर्ज
शराब तस्करी में पकड़े गए दिनेशकुमार जाट निवासी भैसावता खुर्द के खिलाफ विभिन्न धाराओं में विभिन्न थानों में मामले दर्ज हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned